राजस्थान विधानसभा उपचुनाव: जनता ने यहां हर बार बदला है विजेता का चेहरा, इस बार क्‍या होगा?

सुजानगढ़ में मतदाताओं ने कमोबेश हर चुनाव में विजेता का चेहरा बदला है.

सुजानगढ़ में मतदाताओं ने कमोबेश हर चुनाव में विजेता का चेहरा बदला है.

Rajasthan Assembly by-election- सुजानगढ़ सीट कभी किसी पार्टी की परंपरागत सीट नहीं रही. यहां मतदाताओं ने सभी पार्टियों को बारी-बारी से मौका देकर परखा है. उपचुनाव से पहले यह सीट कांग्रेस के कब्जे में थी.

  • Share this:
जयपुर. चूरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभा सीट (Sujangarh Assembly Seat) का इतिहास रहा है कि यहां मतदाताओं ने लगभग हर बार विजेता का चेहरा बदला है. यहां इस बार कांग्रेस (Congress) ने मनोज मेघवाल तो बीजेपी (BJP) ने खेमाराम मेघवाल को चुनाव मैदान में उतार रखा है. खेमाराम दो बार यहां से विधायक रह चुके हैं, जबकि मनोज मेघवाल दिवंगत भंवरलाल मेघवाल के पुत्र हैं. मेघवाल वर्तमान सरकार में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री के पद पर थे. यहां नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के उम्मीदवार सीताराम नायक मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने में जुटे हैं.

सुजानगढ़ सीट पर 9 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं. यहां भी मुख्य मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच ही है. सुजानगढ़ में इस उपचुनाव में 59.20 फीसदी मतदान हुआ था. यह 2018 में हुए विधानसभा चुनाव से 13.29 फीसदी कम रहा. पिछले ​विधानसभा चुनाव में यहां 72.49 प्रतिशत मतदान हुआ था. कोरोना की दूसरी लहर के चलते लोग वोट डालने घरों से ही नहीं ​निकले.

सुजानगढ़ विधानसभा का इतिहास

यहां मतदाताओं ने कमोबेश हर चुनाव में विजेता का चेहरा बदला है. 1952 के पहले चुनाव में ही वोटर्स ने जता दिया कि उन्हें बड़ी पार्टी और बड़े नाम की दरकार नहीं है. वे अपनी पसंद का उम्मीदवार ही जिताएंगे. तब जनता ने स्वतंत्र पार्टी के प्रताप सिंह को विजयी बनाया था. अब तक हुए 15 विधानसभा चुनावों में कांग्रेस 6 बार, बीजेपी 4 चार बार, निर्दलीय तीन बार, जनसंघ और जनता पार्टी एक-एक बार जीती है. इस सीट पर सबसे कांटे का मुकाबला 1957 में हुआ था. तब निर्दलीय सोनादेवी मात्र 208 वोटों से प्रतिद्वंद्वी को हराकर विधानसभा में पहुंची थी. यहां पांच बार चुनाव जीतने का रिकार्ड मास्टर भंवरलाल मेघवाल के नाम है.
कब, कौन बना विधायक

वर्ष विधायक पार्टी

1990 भंवरलाल मेघवाल कांग्रेस



1993 रामेश्वर भाटी बीजेपी

1998 भंवरलाल मेघवाल कांग्रेस

2003 खेमाराम मेघवाल बीजेपी

2008 भंवरलाल मेघवाल कांग्रेस

2013 खेमाराम मेघवाल बीजेपी

2018 भंवरलाल मेघवाल कांग्रेस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज