राजस्थान विधानसभा उपचुनाव: 2 मई को होगी मतगणना, सख्ती से लागू होगा कोरोना प्रोटोकॉल, पढ़ें सभी नियम

मतगणना के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस निकालने पर पाबंदी रहेगी.

मतगणना के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस निकालने पर पाबंदी रहेगी.

Rajasthan Assembly by-election counting : 2 मई को होने वाली मतगणना के लिये राज्य निर्वाचन विभाग ने मतगणना स्थल पर कोरोना संबंधी गाइडलाइन (Corona protocol) की पालना सख्ती के साथ कराने के निर्देश जारी किए हैं.

  • Share this:
जयपुर. पहले मद्रास हाईकोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)  की फटकार के बाद भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) ने राज्य निर्वाचन विभाग को विधानसभा उपचुनाव के मतगणना स्थल पर कोरोना संबंधी गाइडलाइन की पालना सख्ती के साथ कराने के निर्देश जारी किए हैं. प्रदेश की 3 विधानसभा सीटों सुजानगढ़, सहाड़ा और राजसमंद के लिये हाल ही में उपचुनाव हुये थे. अब 2 मई को इनकी मतगणना होगी.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने तीनों जिलों के जिला निर्वाचन अधिकारियों को मतगणना स्थल पर कोविड-19 की गाइडलाइन की पालना सख्ती से कराये जाने की हिदायत दी है. इसके तहत डबल वैक्सीन प्रमाण-पत्र या RTPCT टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट देने पर ही मतगणना स्थल पर प्रवेश मिल पाएगा. मतगणना 2 मई को सुबह 8 बजे से शुरू होगी.

विजय जुलूस निकालने पर रहेगी पाबंदी

मतगणना के बाद किसी भी तरह के विजय जुलूस निकालने पर पाबंदी रहेगी. मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि 2 मई को सुबह 8 बजे होने वाली विधानसभा उपचुनाव की मतगणना के दौरान कोरोना संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की कड़ाई से पालना की जाएगी. उन्होंने इस बारे में संबंधित जिला कलेक्टर्स को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिये हैं.
कोरोना से बचाव के लिए ये कदम उठाये गये हैं

- डबल वैक्सीन प्रमाण-पत्र या RTPCT टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट देने पर ही मतगणना स्थल पर मिलेगा प्रवेश.

- मतगणना के बाद नहीं निकाला जा सकेगा किसी भी तरह का विजय जुलूस.



- 2 मई को कोविड संबंधी दिशा निर्देशों की पालना के साथ होगी मतगणना.

- मतगणना स्थल पर मुख्य भवन एवं मुख्य भवन के बाहर क्वारंटीन सेन्टर स्थापित किया जायेगा.

- इन केन्द्रों पर चिकित्सा विभाग के कार्मिकों की नियुक्ति की जायेगी.

- मतगणना कक्ष में मतगणना दल एवं काउंटिंग एजेन्ट्स को विभाजित करने वाली जाली पर पारदर्शी पॉलिथीन शीट लगाई जाएगी.

- मतगणना स्थल पर 2 वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बैड और एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाएगी.

- मुख्य प्रवेश द्वार पर अधिक संख्या में व्यक्ति एकत्रित नहीं हों इसलिये वहां 2-3 जगह डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाये जाएंगे.

- मतगणना स्थल के प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्केनिंग की व्यवस्था रहेगी.

- मतगणना स्थल में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों को सेनेटाइज करवाया जाएगा.

- विजयी उम्मीदवार के साथ केवल दो लोगों को आने की अनुमति होगी.

- विजयी उम्मीदवार को प्रमाण-पत्र देने के दौरान भी केवल 2 प्रतिनिधि ही उपस्थित रह सकेंगे.

- प्रत्येक 5 राउंड के बाद कार्मिक हाथों को सेनिटाइजर से सेनिटाइज करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज