लाइव टीवी

Ayodhya Verdict: फैसले को देखते हुए राजस्थान में सुरक्षा कड़ी, CM गहलोत ने की शांति बनाए रखने की अपील

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 1:02 PM IST
Ayodhya Verdict: फैसले को देखते हुए राजस्थान में सुरक्षा कड़ी, CM गहलोत ने की शांति बनाए रखने की अपील
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हम भाईचारे और सदभाव की अपनी परंपरा पर कायम रहेंगे.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को देखते हुए अपील की है कि हर हाल में शांति और सद्भाव बनाए रखें. हमारे सामाजिक सौहार्द पर कोई असर न पड़े. सभी धर्मों, जाति और समुदायों में आपसी सद्भाव एवं भाईचारे की हमारी महान परंपरा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 1:02 PM IST
  • Share this:
जयपुर. अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद (Ram Janmabhoomi Babri Masjid Case) मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है. इसको देखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शांति और सद्भाव (Peace and Harmony) बनाए रखने की अपील की है. अयोध्‍या मामले (Ayodhya Case) पर शनिवार सुबह साढ़े 10 बजे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में फैसला सुनाना शुरू किया गया. एहतियात के तौर पर राजधानी जयपुर स्थित कमिश्नरेट में सुबह दस बजे से इंटरनेट सेवाएं बाधित कर दी गई हैं.




वहीं सीएम गहलोत ने अपील की है कि हर हाल में शांति और सद्भाव बनाए रखें. हमारे सामाजिक सौहार्द पर कोई असर न पड़े. सभी धर्मों, जाति और समुदायों में आपसी सद्भाव एवं भाईचारे की हमारी महान परंपरा रही है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'अयोध्या पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय का फैसला (Ayodhya verdict) आ रहा है. प्रदेश में अमन-चैन और सद्भाव बनाए रखने के लिए हमारी सरकार संकल्पित है. जिला कलक्टर, एसपी को सामूहिक जिम्मेदारी दी है कि वे बेहतर समन्वय के साथ काम करते हुए ऐसी किसी भी घटना के प्रति सतर्क रहें जिससे माहौल बिगड़ने की आशंका हो'.
मेरी सभी से अपील है कि शांति और सद्भाव बनाए रखें. हमारे सामाजिक सौहार्द पर कोई असर न पड़े. सभी धर्मों, जाति एवं समुदायों में आपसी सद्भाव एवं भाईचारे की हमारी महान परम्परा रही है.
अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान

Loading...




ये भी पढ़ें-

राजस्थान के कई जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद
कॉलेज और स्कूल ऐहतियातन बंद, परीक्षाएं स्थगित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 7:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...