सीएम अशोक गहलोत ने खारिज किए एग्जिट पोल के नतीजे, कहा- EVM में हो सकती है टेम्परिंग

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: May 20, 2019, 7:46 PM IST
सीएम अशोक गहलोत ने खारिज किए एग्जिट पोल के नतीजे, कहा- EVM में हो सकती है टेम्परिंग
अशोक गहलोत, सीएम (फाइल फोटो)

उन्होंने कहा है कि 2004 लोकसभा चुनाव के बाद अटल विहारी वाजपेयी के समय भी एग्जिट पोल गलत साबित हुए थे. उस समय भी एग्जिट पोल एनडीए की सरकार बनवा रहे थे, लेकिन उसके बाद यूपीए सरकार बनी और अगले 10 साल तक केंद्र में रही.

  • Share this:
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने एग्जिट पोल के नतीजों को पूरी तरह खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा है कि 2004 लोकसभा चुनाव के बाद अटल विहारी वाजपेयी के समय भी एग्जिट पोल गलत साबित हुए थे. उस समय भी एग्जिट पोल एनडीए की सरकार बनवा रहे थे, लेकिन उसके बाद यूपीए सरकार बनी और अगले 10 साल तक केंद्र में रही. उन्होंने कहा कि हमारे सभी 25 उमीदवार कॉन्फिडेंट हैं. प्रदेश में कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन करेगी.

वहीं सीएम ने ईवीएम में छेड़छाड़ की आशंका जताते हुए कहा कि ईवीएम में टेम्परिंग हो सकती है. सुप्रीम कोर्ट भी कन्विंस हो चुका था कि ईवीएम में टेम्परिंग हो सकती है.  दुनिया के कई देशों में मशीन की बजाय बैलेट से चुनाव हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि जब  देश में EVM पर इतने सवाल उठ रहे हैं तो सरकार ईवीएम का प्रयोग क्यों नहीं बंद कर रही.

अशोक गहलोत ने चुनाव आयोग पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि ‘चुनाव आयोग ने निष्पक्षता से चुनाव नहीं कराया. इसके पहले चुनाव आयोग पर इस तरह के गंभीर आरोप कभी नहीं लगे थे’. वहीं गैर यूपीए दलों के साथ गठबंधन की जिम्मेदारी की खबरों को खारिज किया है. उन्होंने कहा, ‘मीडिया के एक वर्ग में मुझे गठबंधन की जिम्मेदारी सौंपने की खबरें चली थीं.  लेकिन यह खबर निराधार है.  मैं पहले हेडक्वार्टर में था तो गठबंधन को लेकर बात चल रही थी, अब केंद्रीय नेता ही बात कर रहे हैं.’

ये भी पढ़ें-कांकाणी हिरण शिकार मामला: सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे और तब्बू को नोटिस

ये भी पढ़ें-नागौर में क्या अपनी राजनीतिक विरासत को बचा पाएंगी ज्योति मिर्धा ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2019, 7:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...