राहुल गांधी के इस्तीफे पर प्रस्ताव पारित, हार पर नहीं हुई कोई बात

लोकसभा चुनाव में राजस्थान में कांग्रेस की करारी हार पर मंथन करने के लिए पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक राजधानी जयपुर में कांग्रेस कमेटी कार्यालय में चल रही है.

News18Hindi
Updated: May 29, 2019, 7:33 PM IST
News18Hindi
Updated: May 29, 2019, 7:33 PM IST
लोकसभा चुनाव में हार के बाद बुधवार को जयपुर में आयोजित राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की पहली बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का इस्तीफा अस्वीकार करने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया. इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे भी मौजूद रहे. पूर्व में इस बैठक में चुनाव में हार पर मंथन और हार पर समीक्षा के लिए कमेटी के गठन को लेकर अटकलें लगाई जा रही थी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. बैठक में हार पर कोई बात नहीं हुई.

इस्तीफे को अस्वीकार करने का प्रस्ताव पारित

मुख्य सचेतक महेश जोशी बैठक के बाद जानकारी दी कि कार्यकारिणी की बैठक राहुल गांधी के इस्तीफे को अस्वीकार करने के प्रस्ताव को पारित करने के लिए बुलाई गई थी. बैठक में यह प्रस्ताव पारित कर दिया गया है. इस बैठक को लेकर कयास लगाए जा रहे थे कि इस में हार पर मंथन होगा, पार्टी के नेताओं के बयानों पर भी शीर्ष नेतृत्व की ओर सफाई दी जाएगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें- जुलाई तक बर्खास्त हो जाएगी राजस्थान सरकार!

बैठक के दौरान जमकर हुई नारेबाजी

राजस्थान में लोकसभा चुनाव में हार के बाद प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी की पहली बैठक में वरिष्ठ नेता और पदाधिकारी मौजूद रहे. इस दौरान राहुल गांधी के नाम पर जमकर नारेबाजी हुई. प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) मुख्यालय के बाहर राहुल गांधी के समर्थन में नारेबाजी काफी देर तक जारी रही.. कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी को अध्यक्ष पद पर बने रहने की मांग को लेकर नारे लगा रहे थे.

ये भी पढ़ें- 
राजस्थान: हार के बाद कांग्रेस में गहलोत VS पायलट घमासान?
राहुल गांधी के सामने गहलोत के बेटे की हार का 'पोस्टमार्टम', ये बोले सीएम
राजस्थान कांग्रेस नेतृत्व ही है पार्टी की हार का कारण?
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...