Home /News /rajasthan /

गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद अब कांग्रेस का फोकस संगठन पर, दिसंबर तक हो सकती हैं नियुक्तियां

गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद अब कांग्रेस का फोकस संगठन पर, दिसंबर तक हो सकती हैं नियुक्तियां

मंत्रिमंडल की तरह ही संगठन में भी गहलोत और पायलट गुट का संतुलन बिठाने की कवायद की जा रही है.

मंत्रिमंडल की तरह ही संगठन में भी गहलोत और पायलट गुट का संतुलन बिठाने की कवायद की जा रही है.

Rajasthan Congress Latest News : राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल के पुनर्गठन के बाद अब प्रदेश कांग्रेस संगठन में विस्तार की तैयारी शुरू हो गई है. प्रदेश संगठन में होने जा रही नियुक्तियों में पार्टी के कई नाराज नेताओं- कार्यकर्ताओं को एडजस्ट किया जाएगा. डोटासरा दिल्ली में प्रदेश प्रभारी अजय माकन से पीसीसी कार्यकारिणी के विस्तार, जिलाध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष की नियुक्तियों पर चर्चा करेंगे.

अधिक पढ़ें ...

    जयपुर. राजस्थान में नया मंत्रिमंडल (Gehlot Cabinet) बनाने के बाद अब कांग्रेस का फोकस संगठन पर है. ऐसा माना जा रहा है कि दिसंबर में सरकार के तीन साल पूरे होने से पहले अधिकांश नियुक्तियां कर दी जाएंगी. इसके लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind singh Dotasara) दो दिन दिल्ली दौरे पर रहेंगे. मंत्री पद छोड़ने के बाद वे पहली बार दिल्ली जा रहे हैं. डोटासरा दिल्ली में प्रदेश प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) से मुलाकात करेंगे.

    जिला और ब्लॉक अध्यक्ष के बाद उनकी कार्यकारिणी भी बनाई जाएगी. इन नियुक्तियों के जरिए हजारों कांग्रेस नेताओं, कार्यकर्ताओं को पद और सम्मान दिया जाएगा, ताकि दो साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए संगठन को सक्रिय किया जा सके.

    मंथन के बाद संगठन की लिस्ट महासचिव केसी वेणुगोपाल को देंगे
    प्रदेश प्रभारी अजय माकन की जयपुर में सीएम अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा के साथ भी संगठन पर चर्चा हुई है. अब डोटासरा और अजय माकन राजस्थान से तैयार संगठन की लिस्ट को मंजूरी दिलाने के लिए राष्ट्रीय संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल को सौंपेंगे. सूत्र बताते हैं कि पूर्व डिप्टी सीएम और पीसीसी चीफ रहे सचिन पायलट अपने खेमे के नेताओं को पीसीसी और जिलों की कार्यकारिणी में भी एडजस्ट करना चाहते हैं. ऐसे में कांग्रेस आलाकमान पायलट से भी चर्चा करेगा.

    Rajasthan cabinet expansion: विभागों के बंटवारे में पायलट कैम्प के मुकाबले भारी पड़ा गहलोत खेमा

    किसानों की मौत और अब तक हुए नुकसान का मुद्दा बनाएगी कांग्रेस
    कांग्रेस आलाकमान ने सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों के कहा है कि तीन कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद इसे किसान आंदोलन में उठाएं. इसे केंद्र सरकार की बड़ी विफलता के तौर पर जनता में भुनाने की प्लानिंग है. इसके अलावा महंगाई और पेट्रोलियम की बढ़ी कीमतों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ धरने-प्रदर्शन का टास्क दिया गया है. केंद्र की मोदी सरकार के 7 साल से ज्यादा के कार्यकाल की विफलता जनता के बीच ले जाने की तैयारी कांग्रेस पार्टी की ओर से की जा रही है. राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, इसलिए राज्य में बड़े लेवल पर आंदोलन और धरने-प्रदर्शन के कार्यक्रमों को रोड मैप भी तैयार किया जा रहा है.

    Tags: Ajay maken, Congress politics, Govind Singh Dotasara, Jaipur news, Rajasthan news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर