राजस्थान : गांवों में फैलने लगा कोरोना संक्रमण, निबटने के लिए सरकार ने बनाया नया एक्शन प्लान

राजस्थान के गांवों में पसरने लगा कोरोना वायरस.

राजस्थान के गांवों में पसरने लगा कोरोना वायरस.

गांवों में कोरोना के पसरने से परेशान राजस्थान सरकार ने बनाया एक्शन प्लान. अब हर विधानसभा में एक मोबाइल वैन को रवाना किया है. जो एक दिन में 10 गांव में सर्वे कर लोगों की जांच और उपचार करना सुनश्चित करेगा.

  • Share this:

जयपुर. कोरोना की दूसरी लहर की बड़ी चुनौती से शहर के लोग तो परेशान थे ही और अब यह गांवों की ओर भी तेजी से फैलता जा रहा है. कोरोना की जांच समय पर न होने और समय पर उपचार शुरू नहीं होने के चलते लगातार मौतें हो रही हैं. मगर अब गांवों में कोरोना से मजबूती से लड़ने के लिए सरकार ने एक्शन प्लान बनाया है. चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा की मानें, तो इस बार लगातार गांव में कोरोना फैल रहा है. इसे देखते हुए अब हर विधानसभा में एक मोबाइल वैन को रवाना किया है. जो एक दिन में 10 गांव में सर्वे कर लोगों की जांच और उपचार करना सुनश्चित करेगा.

मोबाइल वैन गांवों में कर रहे जांच

रघु शर्मा ने बताया कि मोबाइल में मौके पर ही एंटीजन और आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा. शर्मा ने यह भी बताया कि प्रदेश भर में घर-घर सर्वे करके 8 लाख लोग की पहचान की गई है. इनमें किसी न किसी तरह के लक्षण मिले हैं, जांच के बाद ऐसे लोगों को दवा दी जा रही है और उपचार किया जा रहा है. वहीं, जो लोग पॉजिटिव आ रहे हैं, उनका इलाज तुरंत शुरू किया जा रहा है. कम्यूनिटी सेंटर्स में भी कोविड का उपचार कर रहे हैं. वहां ऑक्सीजन और अन्य दवाओं का इंतजाम किया गया है. ताकि गांव, तहसील, जिला स्तर पर ही लोगों को उपचार मिले और बड़े अस्पताल में एक साथ भीड़ न हो. कोरोना में मृत्यु होना दुखद है. देरी से उपचार शुरू होने के चलते मौतें हो रही हैं. गांव में ही कोविड केयर सेंटर पंचायत स्तर पर तैयार करवा दिए हैं. वहां ऑक्सीजन से लेकर समस्त दवाओं का पर्याप्त इंतजाम किया गया है.

तीसरी लहर से जंग की तैयारी शुरू
चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा की मानें तो वैक्सीन थर्ड म्यूटेंट पर असरकार नहीं है यह चिंता की बात है. बच्चों के इलाज को लेकर सारी तैयारियां की जा रही हैं. तीसरी वेव सितम्बर में आना बताया जा रहा है, जिसके लिए सरकार पूरी तरह से तैयार है. रघु शर्मा ने बताया कि बच्चों के अस्पतालों व अन्य अस्पतालों में ऑक्सीजन का पर्याप्त इंतजाम, दवाओं का पहले से इंतजाम करने का काम लगातार जारी है. ताकि तीसरी लहर से पहले पूरी तैयारी हो सके.

पड़ोसी राज्यों से भी आ रहे मरीज




डॉ रघु शर्मा ने कहा कि राज्य के अस्पतालों में मरीजों की बढ़ती तादाद का एक कारण राजस्थान के स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर बढ़ता जनता का विश्वास है. शर्मा ने कहा कि कोरोना के अलावा अन्य बीमारियों के लिए भी राजस्थान की स्वास्थ्य सेवाए खासी बेहतर हैं. पड़ोसी राज्यों से बड़ी संख्या में मरीज आते हैं और वे संतुष्ट होते हैं यह राज्य के लिए गर्व की बात है. बहरहाल कोरोना को लेकर सरकार का एक्शन प्लान अगर सही तरीके से ग्रामीण इलाके में काम करता है तो लोगों को बड़ी राहत इस महामारी से मिल सकेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज