होम /न्यूज /राजस्थान /राजस्थान: अशोक गहलोत ने इशारों-इशारों में किया दावा- नहीं छोड़ेंगे CM की कुर्सी, सचिन पायलट पर भी किया पलटवार

राजस्थान: अशोक गहलोत ने इशारों-इशारों में किया दावा- नहीं छोड़ेंगे CM की कुर्सी, सचिन पायलट पर भी किया पलटवार

राजस्थान में सीएम की कुर्सी से लिए छिड़ी जंग अब खुलकर सामने आ गई है. (अशोक गहलोत और सचिन पायलट फाइल फोटो)

राजस्थान में सीएम की कुर्सी से लिए छिड़ी जंग अब खुलकर सामने आ गई है. (अशोक गहलोत और सचिन पायलट फाइल फोटो)

सचिन पायलट लगातार यह कहकर अशोक गहलोत पर अटैक करते रहे हैं कि सत्ता में रहते हुए गहलोत कभी भी कांग्रेस की सरकार को रिपीट ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

अशोक गहलोत ने इशारों-इशारों में साफ कर दिया है वह सीएम की कुर्सी नहीं छोड़ेंगे.
गहलोत ने लोगों से कांग्रेस को एक बार और चुनाव जिताकर मौका देने की अपील की.
सचिन पायलट यह कहकर अटैक करते रहे हैं कि गहलोत सत्ता में रहते हुए कभी कांग्रेस सरकार रिपीट नहीं करा पाए.

जयपुर. राजस्थान में मुख्यमंत्री बदलने को लेकर कांग्रेस में चल रही कवायद की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इशारों-इशारों में साफ कर दिया है वह सीएम की कुर्सी नहीं छोड़ेंगे. गहलोत ने बीकानेर में कहा कि उनकी सरकार पांच साल पूरे करेगी.

सीएम गहलोत यहां युवाओं के लिए योजनाएं बनाने को लेकर युवाओं से सुझाव मांग कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने संकेत दिया कि अगला बजट वे ही पेश करेंगे यानी वे सीएम बने रहेंगे. इस दौरान गहलोत ने बीजेपी के बहाने एक बार फिर सचिन पायलट पर अटैक किया. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने हमारी सरकार गिराने की कोशिश की, लेकिन हमारे विधायक बिके नहीं.

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने आम जनता से यह भी अपील की कि उन्हें एक मौका और दे और इस बार उन्हें चुनाव जीता दे. गहलोत ने दो बार मुख्यमंत्री रहते हुए विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी को जीत न दिला पाने पर भी सफाई दी. उन्होंने कहा कि पहली बार कर्मचारियों ने उन्हें हरा दिया था. वह सरकार के खिलाफ हो गए थे, इस वजह से हार गए. वहीं दूसरी बार मोदी की हवा में जनता ने उनके वोट नहीं दिए और उनकी सरकार चली गई.

दरअसल सचिन पायलट लगातार यह कहकर अशोक गहलोत पर अटैक करते रहे हैं कि सत्ता में रहते हुए गहलोत कभी भी कांग्रेस की सरकार को रिपीट नहीं करा पाए. एक दिन पहले ही दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पायलट ने कहा था कि 30 साल से कांग्रेस सरकार राजस्थान में रिपीट नहीं हुई. इस बार उनका मकसद सरकार को रिपीट करवाना है.

गहलोत ने पायलट के इसी तंज का जवाब देने की कोशिश की. ये संदेश भी कि अगला चुनाव उनकी अगुवाई में ही लडा जाएगा.

Tags: Ashok gehlot, Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Rajasthan Congress, Rajasthan Crisis

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें