राजस्थान: कॉलेज विद्यार्थियों की परीक्षाओं पर 10 जून तक हो सकता है फैसला, कमेटी की रिपोर्ट पर लेंगे निर्णय

राजस्थान में जल्द ही कॉलेज स्तर की परीक्षाओं को लेकर फैसला लिया जा सकता है.

राजस्थान में जल्द ही कॉलेज स्तर की परीक्षाओं को लेकर फैसला लिया जा सकता है.

उच्च शिक्षा विभाग की ओर से परीक्षाओं को लेकर एक उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है. कमेटी द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को 10 जून तक मंथन करने के बाद अपनी रिपोर्ट सौंपने होगी. जिसके आधार पर विभाग द्वारा सरकार से वार्ता करने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर के कारण उच्च शिक्षा की परीक्षाओं को स्थगित किया गया था. जिसके बाद से ही लगातार कई शिक्षक संगठनों और छात्र संगठनों की ओर से परीक्षाओं को रद्द करते हुए विद्यार्थियों को प्रमोट करने की मांग उठती रही है. लेकिन प्रदेश में कोरोना मामले में थोड़ी राहत नजर आई है और पिछले 1 सप्ताह से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में भी कमी देखने को मिली है.

इससे अब उच्च शिक्षा विभाग की ओर से परीक्षाओं को लेकर विचार विमर्श शुरू कर दिया गया है. उच्च शिक्षा विभाग की ओर से परीक्षाओं को लेकर एक उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है. कमेटी द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को 10 जून तक मंथन करने के बाद अपनी रिपोर्ट सौंपने होगी. जिसके आधार पर  विभाग द्वारा सरकार से वार्ता करने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा.

कमेटी के गठन को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी का कहना है कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए परीक्षाओं को स्थगित करने का फैसला लिया था. परीक्षाओं को लेकर उच्च स्तरीय कमेटी बनाई गई है. इस कमेटी द्वारा 10 जून तक अपनी रिपोर्ट सौंपी जाएगी. प्रदेश में परीक्षा का आयोजन हो या विद्यार्थियों को क्रमोन्नत किया जाए. इसको लेकर कमेटी द्वारा विभिन्न स्तरों पर मंथन किया जाएगा और 10 जून तक कमेटी द्वारा रिपोर्ट सौंपने के बाद सरकार के समक्ष इस रिपोर्ट को पेश किया जाएगा.

जिसके बाद अंतिम फैसला सरकार की ओर से ही लिया जाएगा. इसके साथ ही परीक्षाओं को लेकर UGC, AICTE और BCI समेत विभिन्न केंद्रीय संस्थाओं के निर्देशों की ओर से भी किसी प्रकार के फैसले का इंतजार किया जा रहा है. विद्यार्थियों को क्रमोन्नत करने या फिर परीक्षाओं को लेकर जो भी फैसला लिया जाएगा वह विद्यार्थियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर ही लिया जाएग.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज