राज्यों की मांग को शिकायत न समझे केंद्र, PM मोदी कॉन्फिडेंस के साथ लगाएं लॉकडाउन- CM गहलोत

अशोक गहलोत ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से कहा कि राज्यों की मांग को केंद्र सरकार शिकायत न माने।

अशोक गहलोत ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से कहा कि राज्यों की मांग को केंद्र सरकार शिकायत न माने।

Rajasthan News: राजस्थान में चित्तौड़गढ और श्रीगंगानगर में बनने वाले सरकारी मेडिकल कॉलेजों का वर्चुअल शिलान्यास किया गया. सीएम अशोक गहलोत ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से कोविड से उपजे हालात पर चर्चा की.

  • Last Updated: May 9, 2021, 7:46 PM IST
  • Share this:

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की मौजूदगी में चित्तौड़गढ और श्रीगंगानगर में बनने वाले सरकारी मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया. दोनों मेडिकल कॉलेजों पर 325-325 करोड़ की लागत आएगी. इससे मेडिकल की 100-100 सीटों का इजाफा होगा. प्रदेश के प्रत्येक जिले में सरकारी मेडिकल कॉलेज की दिशा में यह अहम कदम साबित होगा. केन्द्र सरकार ने प्रदेश के 15 जिलों में मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए हैं.

शिलान्यास के मौके पर राज्य सरकार ने प्रदेश में शेष रहे तीन जिलों में भी मेडिकल कॉलेज स्वीकृत करने की मांग केन्द्र सरकार के समक्ष उठाई. सीएम गहलोत ने राजस्थान की विषम परिस्थितियों के मद्देनजर केन्द्र राज्य का अनुपात 60-40 की बजाय 90-10 किए जाने की भी मांग केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के समक्ष उठाई.

...तो पूरा देश केंद्र के साथ खड़ा होगा

गहलोत ने कहा कि अभी दरकार मानवता को बचाने की है और वर्तमान पीढी ने यह सोचा भी नहीं होगा कि ऐसे दिन देखने पडेंगे। उन्होंने  कहा कि राज्यों की मांग को केन्द्र सरकार को शिकायत के रुप में नही लेना चाहिए. साथ ही उन्होंने आवश्यकता जाहिर की कि प्रधानमंत्री को पिछली बार की तरह कॉन्फिडेंस के साथ मैदान में आकर पूरे देश में एक साथ लॉकडाउन लगाना चाहिए. गहलोत ने कहा कि वैक्सीनेशन जैसे मुद्दों को लेकर केन्द्र सरकार के सामने जो मजबूरियां हैं, अगर वो शेयर की जाएं तो तो पूरा देश आपके साथ खड़ा होगा.
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को वैक्सीनेशन को टॉप प्रायोरिटी पर रखना चाहिए. उत्तर प्रदेश सरकार ने वैक्सीनेशन के लिए जो ग्लोबल टेण्डर निकाला है, उसका राजस्थान सरकार भी एक्जामिन करवा रही है. वहीं DRDO द्वारा स्थापित किए जा रहे ऑक्सीजन प्लांट्स में राजस्थान को कम प्लांट आवंटित करने का मुद्दा भी सीएम ने उठाया. इसे 15 से बढ़ाकर 40-50 तक करने की मांग रखी. गहलोत ने यह भी कहा कि केन्द्र सरकार को चिरंजीवी जैसी योजना पूरे देश में लागू करनी चाहिए.

केन्द्र कर रहा हर संभव मदद

उधर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि पिछले 6-7 साल में देश में तेजी से मेडिकल रिफॉर्म्स हुए हैं जिनका देश को लाभ मिल रहा है. उन्होंने कहा कि कोरोना की विषम परिस्थितियों के दौरान प्रधानमंत्री ने करीब एक दर्जन पर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से विचार विमर्श किया साथ ही हर संभव सहायता राज्यों को देने की केन्द्र ने कोशिश की. उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन में तेजी लाने के प्रयास किए जा रहे हैं और राज्यों को भी वैक्सीनेशन की दूसरी डोज को प्राथमिकता में रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि हम सब साथ मिलकर कोरोना की विषम परिस्थितियों का सामना कर सकते हैं. केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे के साथ ही प्रदेश के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा और चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग समेत कई जनप्रतिनिधि और अधिकारी इस वर्चुअल समारोह में शामिल हुए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज