CM गहलोत का बड़ा बयानः कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा घातक, जनता लॉकडाउन जैसा व्यवहार करे

कोरोना पर काबू के लिए राजस्‍थान सरकार लगातार बड़े कदम उठा रही है.

कोरोना पर काबू के लिए राजस्‍थान सरकार लगातार बड़े कदम उठा रही है.

New Corona Guidelines: राजस्‍थान में कोरोना के बढ़ते मामलों से परेशान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधिकारियों को नई गाइडलाइन बनाने का निर्देश दिया है. इसके साथ उन्‍होंने राज्‍य की जनता से अपील करते हुए कहा है कि लॉकडाउन जैसा संयमित व्‍यवहार करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 8:38 AM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 की दूसरी खतरनाक लहर से प्रदेशवासियों के जीवन की रक्षा में राज्य सरकार कोई कमी नहीं रखेगी. इसके साथ गहलोत ने राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा बैठक में प्रदेशवासियों से अपील की है कि वे लॉकडाउन (Lockdown) की तरह संयमित व्यवहार करें. इससे कुछ तकलीफ हो सकती है, लेकिन जीवन रक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जानी चाहिए..

सीएम की समीक्षा बैठक में चिकित्सा विशेषज्ञों ने सुझाव दिया कि राज्य में सामाजिक-धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों को सीमित करने, कर्फ्यू का समय बढ़ाने, विवाह एवं अन्य समारोह में लोगों की संख्या कम करने के साथ ही लॉकडाउन के समान कड़े एवं प्रभावी कदम उठाना जरूरी है.

सीएम अशोक गहलोत ने दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस पर प्रमुख शासन सचिव गृह अभय कुमार (PS Home) को निर्देश दिए कि वे इन सुझाव के मद्देनजर जरूरी गाइडलाइन तैयार करें. उन्होंने कहा कि संक्रमण रोकने के लिए कड़े कदम उठाना जरूरी है. आमजन को इससे कुछ तकलीफ हो सकती है, लेकिन जीवन रक्षा सर्वोपरि है. गहलोत ने कोविड संक्रमित रोगियों (Covid Infected Patients) की संख्या में बढ़ोत्तरी को देखते हुए किसी भी स्थिति का आकलन कर चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार में कोई कसर नहीं छोड़ने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि डेडीकेटेड कोविड केयर अस्पतालों, डे-केयर सेन्टर, पोस्ट कोविड केयर सेन्टर, ऑक्सीजन एवं आईसीयू बैड, दवाओं सहित अन्य चिकित्सकीय सुविधाएं और बढाई जाएं.
राज्य के कई शहरों में नाइट कर्फ्यू

बता दें कि कोरोना की मार से राजस्‍थान भी परेशान है और इसी वजह से अशोक गहलोत सरकार ने राज्‍य के कई शहरों में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगा रखा है. यह रात को 10 बजे से सुबह 5 बजे तक प्रभावी है. बता दें कि सबसे पहले 22 मार्च को 8 शहरों में नाइट कर्फ्यू लागू किया गया था. इनमें अजमेर, भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर, सागवाड़ा और कुशलगढ़ शामिल थे. उसके बाद 31 मार्च को फिर जारी हुई गाइडलाइन में चित्तौड़गढ़ और आबू रोड को भी इसमें शामिल कर दिया गया. जबकि धीरे-धीरे यह संख्‍या बढ़ रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज