लाइव टीवी

गहलोत सरकार देगी टिड्‌डी हमले से बचाने के लिए किसानों को 1000 रुपए तक का अनुदान
Jaipur News in Hindi

News18Hindi
Updated: September 24, 2019, 10:31 AM IST
गहलोत सरकार देगी टिड्‌डी हमले से बचाने के लिए किसानों को 1000 रुपए तक का अनुदान
राजस्थान सरकार टिड्‌डी दलों के हमलों से बचाने के लिए किसानों को अनुदान दे रही है.

टिड्डी नियंत्रण (Locust Control) के लिए सरकारी स्तर पर कीटनाशक छिड़काव (Pesticides Spray) के साथ अब किसानोंं को अपने खेतों को टिड्‌डी दलों के हमलों से बचाने के लिए अनुदान (Subsidy On Pesticides) भी दे रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2019, 10:31 AM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) टिड्डी नियंत्रण (Locust Control) के लिए सरकारी स्तर पर कीटनाशक छिड़काव (Pesticides Spray) के साथ अब किसानोंं को अपने खेतों को टिड्‌डी दलों के हमलों से बचाने के लिए अनुदान (Subsidy On Pesticides) भी दे रही है. यह अनुदान कीटनाशी रसायनों पर लागत का 50 प्रतिशत या 500 रुपए (जो भी कम हो) प्रति हैक्टर दिया जा रहा है. अनुदान अधिकतम दो हैक्टर तक ही देय है. पाकिस्तान से भारतीय सीमाओं को लांघ कर आए टिड्‌डी दलों (Huge swarm of locusts) ने प्रदेश के आधा दर्जन  जिलों में किसानों की चिंता बढ़ा रखी है.

अनुदान के लिए ये करना होगा...
किसान किसी भी लाइसेंस धारक ग्राम सेवा सहकारी समिति, क्रय-विक्रय सहकारी समिति, लैम्प्स, कीटनाशी निर्माता, पंजीकृत विक्रेता से रसायन संपूर्ण कीमत अदा कर खरीद सकता है. इसके बाद अनुदान के लिए विभाग को दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा. कृषि विभाग की ओर से अनुदान राशि का कृषक के खाते में ऑनलाइन भुगतान कर दिया जाएगा.

इन 4 जिलों में टिड्‌डी का प्रकोप 



कृषि विभाग की ओर से टिड्डियों के नियंत्रण के लिए किसानों को कीटनाशी रसायन अनुदानित दर पर उपलब्ध कराया जा रहा है. कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने बताया कि जैसलमेर, बाड़मेर, जोधपुर, बीकानेर जिलों में टिड्डी दलों का प्रकोप है. टिड्डियों के झुण्ड में पाये जाने या आर्थिक क्षति स्तर से अधिक होने पर कीटनाशी रसायन का छिड़काव करें. कृषि विभाग की ओर से किसानों को प्रत्यक्ष हस्तानांतरण लाभ (डीबीटी) प्रक्रिया से कीटनाशी रसायन अनुदानित दर पर उपलब्ध कराए जा रहे हैं.



इन कीटनाशकों पर अनुदान, ऐसे करेंगे छिड़काव
अनुदानित दर पर मिलने वाले बैन्डियोकार्ब 80 प्रतिशत डब्ल्यूपी 125 ग्राम, क्लोरोपायरीफॉस 20 प्रतिशत ईसी 1200 एमएल, क्लोरोपायरीफॉस 50 प्रतिशत ईसी 480 एमएल, डेल्टामेथ्रीन 2.8 प्रतिशत ईसी 625 एमएल, डेल्टामेथ्रीन 1.25 प्रतिशत यूएलवी 1400 एमएल, डाईफ्ल्यूबेन्ज्यूरोन 25 प्रतिशत डब्ल्यूपी 120 एमएल, लेम्बडासायलोथ्रीन 5 प्रतिशत ईसी 400 एमएल, लेम्बडासायलोथ्रीन 10 प्रतिशत डब्ल्यूपी 200 ग्राम, मेलाथियॉन 50 प्रतिशत ईसी 1850 एमएल एवं मेलाथियॉन 25 प्रतिशत डब्ल्यूपी का 3700 ग्राम प्रति हैक्टेयर के हिसाब से छिड़काव करें.

ये भी पढ़ें- 
श्रीगंगानगर में टिड्‌डी दलों की घुसपैठ, थाली बजाकर भगा रहे ग्राामीण
अध्यक्ष को प्रिंसिपल ने मारा थप्पड़, जवाब में छात्र ने भी जड़ा तमाचा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 24, 2019, 10:25 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading