MRP से कम दाम पर बिक रही शराब, अब Mobile App पर मिलेगी कीमत की जानकारी!

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 8:24 AM IST
MRP से कम दाम पर बिक रही शराब, अब Mobile App पर मिलेगी कीमत की जानकारी!
आबकारी विभाग ने शराब की अधिक कीमत वसूलने वाले दुकानदारों पर कार्रवाई की है. (फोटो- प्रतिकात्मक/Getty Images)

राजस्थान सरकार के आबकारी विभाग (Excise Department) को शराब की अधिक कीमत (Approved Liquor Rate) वसूलने वाले दुकानदारों की मिली शिकायतों की जांच पड़ताल में शुक्रवार को एक चौंकाने वाला मामला सामने आया. जयपुर (Jaipur) और अलवर (Alwar) की दुकानों पर शिकायतों के उलट कीमत (MRP) से कम कीमत पर शराब बेची जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 8:24 AM IST
  • Share this:
राजस्थान सरकार के आबकारी विभाग (Excise Department) को शराब की अधिक कीमत (Approved Liquor Rate) वसूलने वाले दुकानदारों की मिली शिकायतों की जांच पड़ताल में शुक्रवार को एक चौंकाने वाला मामला सामने आया. जयपुर (Jaipur) और अलवर (Alwar) की दो दुकानों पर शिकायतों के उलट तय कीमत (MRP) से कम कीमत पर शराब बेची जा रही है. दरअसल, राजस्थान में शराब की दुकानों पर मनमर्जी की कीमत पर बिक्री की शिकायतों को लेकर सरकार की ओर से हाल ही स्पेशल टीमों का गठन कर प्रदेशभर में कार्रवाई की गईं. इस दौरान शराब की ज्यादा कीमत वसूली करने वाली दुकानों पर गाज गिरी और सरकार की ओर से केस दर्ज किए गए.

सरकार बनाएगी शराब की कीमत बताने वाला मोबाइल एप

ओवर प्राइस को रोकने के लिए जल्द ही एक एप भी बनाया जाएगा. ओवर प्राइस को रोकने के लिए भविष्य में बनाए जाने वाले एप में सभी प्रकार के 900 से ज्यादा ब्रान्ड के आईएमएफएल, बीयर और वाइन की रेट लिस्ट उपलब्ध रहेगी. इस एप के माध्यम से उपभोक्ता सीधे ही उस अनुज्ञाधारी के विरुद्ध शिकायत दर्ज कर पाएंगे.

जयपुर और अलवर में MRP से कम कीमत पर बिक रही शराब

एमआरपी से अधिक दर पर शराब के विक्रय पर प्रभावी कार्यवाही की आवश्यकता के मध्यनजर सरकारी विभागों की कई टीमें बना कर प्रदेशभर में भेजी गई थी. इसके तहत 173 दुकानों में से दो दुकानों पर अलवर और जयपुर में एमआरपी से कम कीमत लेने के प्रकरण भी दर्ज किए, जो कि एक गंभीर विषय है. वहीं उदयपुर की एक दुकान पर शराब विक्रय मूल्य पर ही मिल रही थी जो कि एक अच्छी बात मानी गई.

एसडीआरआई, वाणिज्यिक कर विभाग, जीएसएमए आरएसबीसीएल और अन्य राजस्व से जुडे़ विभागों के विभिन्न दल बनाकर शराब की दुकानों पर जयपुर, जोधपुर, अजमेर, उदयपुर, अलवर व अन्य स्थानों पर भेजकर 173 दुकानों पर कार्रवाई की गई है.
डॉ. पृथ्वी , शासन सचिव, वित्त (राजस्व), राजस्थान सरकार


शराब की ज्यादा कीमत वसूलने पर टोल फ्री नंबर पर करें शिकायत
Loading...

राजस्व विभाग के अनुसार वर्तमान में यदि किसी उपभोक्ता को ओवर प्राइस की शिकायत हो तो वह विभाग के टोल फ्री नम्बर 1800-180-6436 पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं. शासन सचिव, वित्त (राजस्व) ने बताया कि ओवररेट के प्रकरणों को राज्य सरकार के स्तर पर गंभीरता से लिया जाता है. उन्होंने बताया कि ओवरेट प्रकरणों की रोकथाम के लिए मुख्यमंत्री द्वारा भी समय-समय पर कार्यवाही करने के सख्त निर्देश जारी किए गए हैं. उन्होंने बताया कि शराब दुकानों द्वारा निर्धारित एमआरपी से अधिक राशि शराब उपभोक्ताओं/ क्रेताओं से वसूले जाने की शिकायतें प्राप्त होने के क्रम में आबकारी विभाग द्वारा समय-समय पर शराब अनुज्ञाधारियों पर कार्यवाही की जाती है.

ये भी पढ़ें-  अलवर में नया कैफे खोलने वाले युवक की पहले दिन पिटाई

2 IAS, 3 आरएएस अधिकारी भी टीम में शामिल

शासन सचिव, वित्त (राजस्व)  डॉ. पृथ्वी के अनुसार राज्य सरकार के स्तर से आवश्यक आदेश जारी कर गुरुवार को 2 आईएएस अधिकारी, 3 आरएएस अधिकारी और लेखा सेवा एवं वाणिज्यिक कर विभाग के अधिकारियों को शामिल कर दल गठित कर उपरोक्त कार्यवाही की गई. गठित दलों में आबकारी विभाग के अलावा अन्य राजस्व विभागों के अधिकारियों को ही दलों में शामिल किया गया. उन्होंने बताया कि उक्त दलों के अधिकारियों को आवश्यक चैक लिस्ट, पॉपुलर ब्राण्ड की लिस्ट एवं सम्बन्धित ब्राण्ड्स की एमआरपी की लिस्ट और क्षेत्र की शराब दुकानों की सूची प्रदान कर शराब की दुकानों पर बोगस ग्राहकों के माध्यम से एमआरपी से अधिक दर की स्थिति का पता लगाने के निर्देश दिए गए.

जयपुर शहर में सर्वाधिक 93 मामले, अलवर में 21 शिकायतें

विभिन्न टीमों का गठन कर शराब की दुकानों पर जाकर एमआरपी से अधिक राशि वसूलने की वस्तुस्थिति का पता लगाया गया. एमआरपी से अधिक दर वसूले जाने के अलवर में 21, अजमेर में 15, उदयपुर में 20, जोधपुर में 24 तथा जयपुर शहर में 93 प्रकरणों की शिकायत संबंधित जिला आबकारी अधिकारी को दर्ज कराई गई.

ये भी पढ़ें- लड़कियों ने पुलिस चौकी में की मनचले की धुनाई कर डाली, देखें- Viral Video

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 12:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...