राजस्थान HC ने हिन्दू मैरिज एक्ट में तलाक को लेकर दिया महत्वपूर्ण निर्देश

ETV Rajasthan
Updated: July 26, 2017, 3:03 PM IST
राजस्थान HC ने हिन्दू मैरिज एक्ट में तलाक को लेकर दिया महत्वपूर्ण निर्देश
राजस्थान हाई कोर्ट

राजस्थान उच्च न्यायालय ने बुधवार को कॉन्फ्लिक्ट ऑफ लॉ के बिन्दु पर हिन्दू मैरिज एक्ट के तहत एक मामले में सुनवाई करते हुए महत्वपूर्ण निर्देश जारी किया है.

  • Share this:
राजस्थान उच्च न्यायालय ने बुधवार को कॉन्फ्लिक्ट ऑफ लॉ के बिन्दु पर हिन्दू मैरिज एक्ट के तहत एक मामले में सुनवाई करते हुए महत्वपूर्ण निर्देश जारी किया है. जस्टिस अजय रस्तोगी की खण्डपीठ ने अपने फैसले में तलाक के मामले में अपील के लिए 90 दिन की समयसीमा होने की बात कही है. वहीं फैमिली कोर्ट एक्ट में यह समयसीमा 30 दिन की है. हाईकोर्ट ने हिन्दू मैरिज एक्ट के तहत अलवर से कांग्रेस नेता अनिता चौधरी की अपील को एडमिट किया है.

जानकारी के अनुसार राजस्थान हाईकोर्ट ने बुधवार कॉन्फ्लिक्ट ऑफ लॉ के बिन्दु पर सुनवाई करते हुए अहम निर्देश दिया. जस्टिस अजय रस्तोगी की खण्डपीठ ने माना कि तलाक के लिए निचली अदालत के फैसले की अपील हाईकोर्ट में 90 दिनों तक की जा सकती है. कोर्ट ने यह निर्देश अलवर से कांग्रेस नेता अनिता चौधरी की अपील पर सुनवाई करते हुए दिया. चौधरी की तरफ से मामले में पैरवी करने वाले अधिवक्ता गुरुदेव आर्या ने बताया कि अनिता व उनके पति राजेश चौधरी का अलवर फैमली कोर्ट में तलाक का मामला चल रहा था.

इस पर कोर्ट ने 2 फरवरी 2017 को तलाक की डिक्री जारी कर दी थी. जिसके खिलाफ 89 दिन के बाद अनिता ने हाई कोर्ट में अपील की. इस पर हाईकोर्ट रजिस्ट्रार ने यह कहते हुए मामले को डिफेक्ट में डाल दिया कि फैमली कोर्ट एक्ट के तहत मामले की अपील 30 दिन में ही की जा सकती है. लेकिन आज हमने कोर्ट में दलील दी कि हिन्दू मैरिज एक्ट के तहत 90 दिन में अपील की जा सकती है. इसे लेकर हमने सुप्रीम कोर्ट व मुम्बई हाईकोर्ट की फुल बैंच के फैसलों की भी दलील दी. इस कोर्ट ने हमारी दलीलों को स्वीकार करते हुए याचिका को एडमिट कर लिया.

(सचिन कुमार)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2017, 3:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...