अनपढ़ ड्राइवरों का रद्द होगा लाइसेंस, हाईकोर्ट ने बताया पैदल चलने वालों के लिए खतरा

हाईकोर्ट ने कहा है कि अनपढ़ ड्राइवर पैदल चलने वालों के लिए खतरा हैं, क्योंकि वे सड़कों और चौराहों पर लगे साइनबोर्ड्स और चेतावनी नहीं पढ़ सकते हैं.

News18 Rajasthan
Updated: May 30, 2019, 3:57 PM IST
अनपढ़ ड्राइवरों का रद्द होगा लाइसेंस, हाईकोर्ट ने बताया पैदल चलने वालों के लिए खतरा
सांकेतिक तस्वीर
News18 Rajasthan
Updated: May 30, 2019, 3:57 PM IST
राजस्थान हाइकोर्ट ने अनपढ़ ड्राइवरों को जारी किए गए सभी लाइट मोटर व्हीकल ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द करने का आदेश दिया है. हाईकोर्ट ने कहा है कि अनपढ़ ड्राइवर पैदल चलने वालों के लिए खतरा हैं, क्योंकि वे सड़कों और चौराहों पर लगे साइनबोर्ड्स और चेतावनी नहीं पढ़ सकते हैं. ऐसे में उनके ड्राइविंग लाइसेंस वापस लिए जाएं.

यह आदेश एक रिट याचिका की सुनावई में गया, जो एक व्यक्ति द्वारा सड़क पर ट्रांसपोर्ट वाहन चलाने के लिए लाइसेंस प्राप्त करने को दायर किया गया था. व्यक्ति को यह लाइसेंस हल्के मोटर वाहन चलाने के लिए तकरीबन 13 साल पहले जारी किया गया था. याचिका पर विचार करते हुए सिंगल बेंच ने पाया कि याचिकाकर्ता निरक्षर है, बावजूद इसके उसे ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया गया था.

सुरक्षा संकेतों व नोटिस को नहीं पढ़ पाना गंभीर खतरा-

जस्टिस संजीव प्रकाश शर्मा की पीठ का मानना है कि निरक्षर होने के नाते व्यक्ति सड़क के संकेतों और लोगों की सुरक्षा के लिए लगाए गए बोर्डों पर लिखे नोटिस को आसानी से नहीं समझ सकता है. कोर्ट ने प्रशासन को आदेश दिया कि इस तरह के लाइसेंस को वापस लेकर जरूरी कार्रवाई भी सुनिश्चित करें. कोर्ट ने कहा  कि किसी अनपढ़ व्यक्ति को किसी भी तरह के वाहन चलाने के लिए लाइसेंस जारी करने की अनुमति नहीं दी जा सकती. क्योंकि वह पैदल यात्रियों के लिए खतरा हो सकता है.

 ये है नियम-

हाइकोर्ट ने सरकार को एक महीने के अंदर अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है. बता दें कि देश में मोटर वाहन अधिनियम या केंद्रीय मोटर वाहन नियम के अनुसार अभी तक हल्के मोटर वाहनों के लिए ड्राइविंग लाइसेंस रखने के लिए किसी भी तरह के न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता को अनिवार्य नहीं किया गया है. न्यूनतम शैक्षिक आवश्यकता केवल परिवहन लाइसेंस के लिए निर्धारित किया गया है. जिसके मुताबिक व्यक्ति को कक्षा 7वीं में पास होना चाहिए.

ये भी पढ़ें-राजपूत समाज ने दलित बेटियों की कराई शादी, डोली में बैठाकर किया विदा
Loading...

ये भी पढ़ें-विपक्षी राज्य सरकारों को गिराने की कोशिश कर रही है बीजेपी: अशोक गहलोत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 30, 2019, 3:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...