Assembly Banner 2021

राजस्थान आवासन मण्डल: ई-ऑक्शन से मकान बेचने का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

मंडल ने ई-ऑक्शन से महज 35 दिनों में 1010 मकान बेचकर 162 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया.

मंडल ने ई-ऑक्शन से महज 35 दिनों में 1010 मकान बेचकर 162 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया.

आमजन के घर के सपने को पूरा करने की मुहिम में जुटे राजस्थान आवासन मंडल (Rajasthan Housing Board) ने अपने अधिशेष मकानों को ई-ऑक्शन (E-auction) के माध्यम से सबसे कम समय में सर्वाधिक मकान बेचने का विश्व रिकॉर्ड (World record) बनाया है.

  • Share this:
जयपुर. आमजन के घर के सपने को पूरा करने की मुहिम में जुटे राजस्थान आवासन मंडल (Rajasthan Housing Board) ने अपने अधिशेष मकानों को ई-ऑक्शन (E-auction) के माध्यम से सबसे कम समय में सर्वाधिक मकान बेचने का विश्व रिकॉर्ड (World record) बनाया है. आवासन मंडल की केवल 35 दिनों में 1010 मकान बेचने की इस उपलब्धि को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (World book of records) ने दर्ज किया है. इस संबंध में वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्डस, लंदन का कन्फर्मेशन लेटर मंडल को प्राप्त हो गया है.

42 शहरों की 50 योजनाओं में मकान बेचे
मंडल आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विजन के आधार पर अधिशेष मकानों को ई-ऑक्शन से 50 फीसदी तक की छूट पर बेचने का अभिनव प्रयोग किया गया था. मंडल ने यह कार्यक्रम 30 सितंबर, 2019 से 23 नवंबर, 2019 तक चलाया था. यह कार्यक्रम प्रदेश की 42 शहरों की 50 योजनाओं में अधिशेष मकानों को बेचने के लिए चलाया गया था. बेचे गए सर्वाधिक मकान ईडब्लूएस और एलआईजी श्रेणी के थे.

162 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया
आयुक्त पवन अरोड़ा के मुताबिक यह अभिनव प्रयोग कामयाब रहा. मण्डल ने उम्मीद से अधिक मकान बेचकर ई-ऑक्शन से विश्व में सर्वाधिक मकान बेचने का कीर्तिमान स्थापित कर दिया. आयुक्त पवन अरोड़ा ने बताया कि टीम वर्क, मार्केटिंग मैनेजमेंट और व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ ऐसी रणनीति बनाई कि ई-ऑक्शन से महज 35 दिनों में 1010 मकान बेचकर 162 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया गया.



ऐसे मिली कामयाबी
आवासन मंडल ने ई-ऑक्शन कार्यक्रम की जानकारी आम जनता तक पहुंचाने के लिए कॉल सेंटर बनाया. उसके जरिए आम लोगों को इस कार्यक्रम से अवगत कराया गया. जयपुर में 24 घंटे कार्य करने वाला केन्द्रीय कॉल सेंटर स्थापित कर 6 टेलीफोन लाइनें खोली गई. इसके साथ ही आवासन मंडल मुख्यालय पर भी 3 टेलीफोन लाइनें खोली गई. केन्द्रीय कॉल सेंटर पर 83,156 कॉल और मंडल मुख्यालय पर 16,192 व्यक्तियां को फोन पर ई-ऑक्शन कार्यक्रम से जुड़ी जानकारियां प्रदान की गई.

 

पंचायत चुनाव-2020: तारीखों का ऐलान, 17, 22 और 29 जनवरी को 3 चरणों में होंगे

पंचायत चुनाव: 9171 सरपंच और 90400 पंचों के चुनाव का यह रहेगा पूरा शेड्यूल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज