फ्लैट देने के नाम पर करोड़ों रुपयों की ठगी का आरोपी बिल्डर गिरफ्तार

धोखाधड़ी के मामले आरोपी गिरफ्तार. सांकेतिक फोटो.

धोखाधड़ी के मामले आरोपी गिरफ्तार. सांकेतिक फोटो.

राजस्थान (Rajasthan) की राजधानी जयपुर (Jaipur) में वैशाली नगर पुलिस (Police) ने क्राउन ग्रुप और केकेजी बिल्डमार्ट फर्म के मालिक को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार (Arrest) किया है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) की राजधानी जयपुर (Jaipur) में वैशाली नगर पुलिस (Police) ने क्राउन ग्रुप और केकेजी बिल्डमार्ट फर्म के मालिक को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार (Arrest) किया है. थानाधिकारी अनिल जैमन ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित टीकम सिंह नरूका (40) गांव मण्डावर जिला दौसा हाल आनन्द नगर वैशाली नगर का रहने वाला है, जोकि धोखाधड़ी कर रकम हड़पने के आरोप में फरार चल रहा था. नरूका बड़े स्तर पर आवासीय योजना डवलप करके ग्राहकों को बेचता है. वह द क्राउन ग्रुप और केकेजी बिल्डमार्ट फर्म का मालिक है.

आरोपित के खिलाफ पप्पू राम जाट निवासी अलारिया चौधरियों की ढाणी पोखरण जिला जैसलमेर ने धोखाधडी कर रकम हड़पने की शिकायत दर्ज करवाई थी. पीड़ित कर्मचारी जिला सैनिक कार्यालय जयपुर में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है. उसके खिलाफ और भी धोखाधड़ी के शिकायतें मिल रहीं हैं और पीडितों ने पुलिस से संपर्क साधा है. पुलिस आरोपित को अदालत में पेश किया जहां से एक दिन के रिमाण्ड पर लिया है.

ऐसे फंसाता है ग्राहक

आरोपी टीकम नरूका मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत अफोर्डेबल हाउसिंग की योजना में फ़्लैट खरीदन के नाम पर 1 माह में निर्माण कार्य शुरू कर 20 माह में कब्जा संभालने का झांसा ग्राहकों को देता था. वह कब्जा सौंपने के प्रचार प्रसार भी करता था. लोगों को विज्ञापन के जरिए लुभाकर बतौर बुकिंग के नाम पर एडवांस के तौर पर ली रकम को डकार जाता था. अकेले वैशाली नगर थाने में ही उसके खिलाफ धोखाधड़ी के 8 प्रकरण दर्ज हैं, जिसके तहत ठगी का आंकड़ा करोड़ो तक पहुंच सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज