लाइव टीवी

ई-मित्रों के माध्यम से निःशुल्क मिलेगा जन-आधार कार्ड, आज ही यहां करें आवेदन

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 1:12 PM IST
ई-मित्रों के माध्यम से निःशुल्क मिलेगा जन-आधार कार्ड, आज ही यहां करें आवेदन
भामाशाह कार्ड की जगह जन आधार कार्ड निशुल्क वितरण किए जाएंगे. (प्रतीकात्मक तस्वीर/GettyImages)

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) की ओर से जन आधार कार्ड योजना (Jan Aadhar Card Scheme) शुरू हो चुकी है और अब भामाशाह कार्ड (Bhamashah Card) की जगह जन आधार कार्ड निशुल्क वितरण किए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 1:12 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में बीजेपी की वसुंधरा राजे सरकार की भामाशाह कार्ड (Bhamashah Card) की जगह अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) की ओर से जन आधार कार्ड योजना (Jan Aadhar Card Scheme) शुरू हो चुकी है और अब भामाशाह कार्ड (Bhamashah Card) की जगह जन आधार कार्ड बनने भी लगे हैं. ये कार्ड ई-मित्रों के माध्यम से फ्री बनेंगे और इस संबंध में जिला कलेक्टर की ओर से उपखंड अधिकारी, विकास अधिकारी और अधिकशाषी अधिकारियों को जल्द से जल्द कार्ड वितरण के निर्देश दिए गए हैं.

18 दिसंबर को शुरू हुई थी जन आधार योजना
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी सरकार की पहली वर्षगांठ पर 18 दिसबंर 2019 को इस योजना की शुरुआत की थी. योजना के लिए सरकार ने प्राधिकरण गठन का किया जिसके माध्यम से जनाधार योजना की मॉनिटरिंग की जा रही है. इसका नोडल विभाग चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को बनाया गया है. प्रदेश में खाद्य सुरक्षा से जुड़े एक करोड़ 16 लाख लोगों को शुरुआत में निशुल्क जन आधार कार्ड दिया जाएगा. उसके बाद शेष लोगों को द्वितीय चरण में कार्ड का वितरण होगा.

ई-मित्रों के माध्यम से निःशुल्क मिलेगा जन-आधार कार्ड

जयपुर जिला कलक्टर डॉ. जोगाराम के अनुसार समस्त ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में जन आधार कार्डों के निःशुल्क वितरण के लिए प्रक्रिया निर्धारित कर दी गई है. सभी उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी एवं अधिशाषी अधिकारियों को निर्धारित प्रक्रिया अपनाकर त्रुटिरहित जन-आधार कार्डों को आमजन को शीघ्र वितरित करवाया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं.

कार्ड सीधे कोरियर से पहुंचेंगेडॉ.जोगाराम ने बताया कि जन आधार कार्ड प्रिटिंग के बाद सेवा-प्रदाता द्वारा सीधे ही स्पीड-पोस्ट से या कोरियर के माध्यम से नगर निकाय, ब्लॉक मुख्यालयों पर पहुंचाए जाएंगे. इन कार्डों की डिलीवरी, ग्रामीण क्षेत्रों में विकास अधिकारी द्वारा तथा शहरी क्षेत्रों में उपखण्ड अधिकारी, अधिशाषी अधिकारी के स्तर पर प्राप्त की जाएगी. उन्होंने बताया कि ई-मित्र संचालक को कार्डों की सुपुर्दगी के उपरान्त, राज्य स्तर से ऑनलाइन सिस्टम के माध्यम से संम्बन्धित निवासियों को उनके रजिस्टर्ड मोबाइल पर सम्बन्धित ई-मित्र संचालक से निःशुल्क कार्ड प्राप्त करने से सम्बन्धित संदेश भेजा जाएगा.

फिंगर प्रिंट से ऐसे मिलेगा कार्ड
मोबाइल पर मैसेज मिलने के बाद परिवार के मुखिया, परिवार की मुखिया या परिवार का कोई भी वयस्क सदस्य, जिसकी आधार संख्या जन आधार में दर्ज हो, अपने अंगुलियों के निशान लगाकर अपना जन आधार कार्ड ई-मित्र संचालक से प्राप्त कर सकेगा. यदि किसी कारणवश अंगुलियों के निशान की प्रक्रिया सफल नहीं होती है तो ई-मित्र निवासी के मोबाइल पर ओटीपी के माध्यम से सत्यापन कर उसका जन-आधार कार्ड उसे सुपुर्द करेगा.

ई-मित्र पर फ्री में रजिस्ट्रेशन
ई-मित्र संचालक द्वारा निवासियों को जन आधार कार्डों के वितरण की कार्यवाही ऑनलाइन सम्पादित की जाएगी. जिसकी प्रक्रिया निर्धारित कर दी गई है. किसी भी निवासी परिवार को जन-आधार कार्ड के प्रथम बार वितरण पर उस परिवार से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाएगा. जिन परिवारों के व्यक्तियों ने अभी तक जन आधार कार्ड के लिए पंजीयन नहीं करवाया है वे किसी भी ई-मित्र के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 

जयपुर में गलत काम का पर्दाफाश, पुलिस ने हिरासत में 17 युवतियां और 10 युवक

 

जयपुर में आज valentines day पर वृद्धजनों का सम्मान, घूमर में Amit Bhadana का कॉमेडी-शो

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 1:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर