Home /News /rajasthan /

गहलोत सरकार के कर्जमाफी शिविरों पर मंडराने लगा ये खतरा!

गहलोत सरकार के कर्जमाफी शिविरों पर मंडराने लगा ये खतरा!

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत. (फाइल फोटो)

राजस्थान के सभी 33 जिलों में 7 फरवरी से राजस्थान सहकारी फसली ऋण माफी योजना, 2019 के तहत ऋण माफी शिविराें का आयोजन किया जाना है लेकिन गुरुवार से शुरू होने जा रहे कर्जमाफी शिविरों पर बैंक कर्मचारियों के आंदोलन का खतरा मंडराने लगा है.

अधिक पढ़ें ...
    राजस्थान में गुरुवार से सहकारी बैंकों से ऋण लेने वाले किसानों की कर्जमाफी होने जा रही है लेकिन इससे ठीक एक दिन पहले सहकारी बैंककर्मी आन्दोलन पर उतर आए हैं. पन्द्रहवां वेतन समझौता लागू करने की मांग पर बैंककर्मी प्रदेश भर के सहकारी बैंकों के सामने धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं. ऐसे में गुरुवार से शुरू होने जा रहे कर्जमाफी शिविरों पर बैंक कर्मचारियों के आंदोलन का खतरा मंडराने लगा है.

    जयपुर में सहकार भवन पर बैंककर्मियों द्वारा धरना-प्रदर्शन किया गया. व्यावसायिक बैंकों के संगठन ने भी सहकारी बैंककर्मियों के आन्दोलन को अपना समर्थन दिया है. यूनाईटेड फोरम ऑफ को-ऑपरेटिव बैंक यूनियंस ने 8 फरवरी को जयपुर में महापड़ाव और 11 फरवरी को हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है. वहीं मसले का हल नहीं निकलने पर आगामी दिनों में फिर से हड़ताल की जा सकती है. सहकारी बैंककर्मियों के आन्दोलन से कर्जमाफी की प्रक्रिया बाधित होने की आशंकाएं जताई जा रही हैं.

    ये भी पढ़ें- अजमेर में बच्चों के साथ ये मौलवी करता था गलत काम, POCSO एक्ट में गिरफ्तार
    राज्य सरकार की ओर जारी विज्ञप्ति के अनुसार प्रदेश के समस्त 33 जिलों में 7 फरवरी से 9 फरवरी तक राजस्थान सहकारी फसली ऋण माफी योजना, 2019 के तहत ऋण माफी शिविराें का आयोजन किया जाएगा. इस दौरान जिलों के प्रभारी मंत्री भी अपने संबंधित जिलों में आयोजित होने वाले ऋण माफी शिविरो में उपस्थित रहेंगे.




    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Ashok gehlot, Bank Strike, Jaipur news, Rajasthan news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर