अपना शहर चुनें

States

LIVE NOW

Rajasthan News Live Updates: जयपुर में 11 साल के बच्चे की हत्या, 15 जनवरी को हुआ था लापता, आज मिला शव

Rajasthan News, 18-January-2021: जयपुर में 11 साल के एक बच्चे की हत्या की सनसनीखेज वारदात सामने आयी है. हत्या का शिकार हुआ मासूम पिछले महीने 15 जनवरी को लापता हुआ था. आज उसका शव शहर के आमेर थाना इलाके में पड़ा हुआ मिला है.

Hindi.news18.com | January 18, 2021, 3:07 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated January 18, 2021
Rajasthan News Live Updates: जयपुर में 11 साल के बच्चे की हत्या, 15 जनवरी को हुआ था लापता, आज मिला शव

हाइलाइट्स

3:05 pm (IST)
राजधानी जयपुर में 11 साल के एक बच्चे की हत्या कर दी गई. हत्या का शिकार हुआ मासूम गत 15 जनवरी को लापता हुआ था. आज शहर के आमेर थाना इलाके में बच्चे का शव पड़ा हुआ मिला है. मृतक के परिजनों ने पहले उसकी गुमशुदगी का मामला दर्ज भी करवाया था. लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग पाया. सोमवार को आमेर इलाके में नाई की थड़ी के पास बालक का शव पड़ा मिला है. हत्या की सूचना पर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. 

1:42 pm (IST)
जयपुर. राज्य में राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर चुनावी पेंच फंस गया है. प्रदेश में तमाम चुनाव होने के चलते अब परिस्थितियां बदल चुकी हैं. चुनावी पेंच के चलते अब पुरानी बनी सूचियों में संशोधन का काम तेजी से चल रहा है. इस बदलते समीकरण के कारण करीब 10,000 से ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ता राजनीतिक नियुक्तियों से वंचित हो जाएंगे. क्योंकि इन कार्यकर्ताओं को जिला परिषद और स्थानीय निकाय के चुनाव में पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया था. हाल ही में प्रदेश प्रभारी अजय माकन कह चुके हैं कि राज्य में तमाम चुनाव होने के चलते परिस्थितियां बदली हैं. इसलिए पुरानी बनी सूचियों में संशोधन किया जाएगा.

 

प्रदेश करीब 1014 जिला परिषद और 6236 पंचायत समिति सदस्यों के वार्ड और स्थानीय निकाय चुनाव हुए हैं. इन सभी जगह पर चुनाव के चलते पार्टी की ओर से 13000 से ज्यादा पार्टी नेताओं को टिकटों का वितरण किया गया. इनमें से ज्यादातर के राजनीतिक नियुक्तियों की सूचियों में नाम थे. अब ये इन नियुक्तियों से बाहर हो जायेंगे. प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने जिला स्तरीय कमेटियों में कुल 30,000 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जल्द राजनीतिक नियुक्ति देने की घोषणा की थी.

 

राज्य में सत्ता को लेकर हुए घमासान फिर पंचायत समिति जिला परिषद और नगर निकायों के चुनाव के कारण राजनीतिक नियुक्तियों में विलंब हो रहा है. ऐसे में अब नए सिरे से सूची तैयारी कराई जा रही है. लेकिन ये मशक्कत उन पार्टी नेताओं के लिए नुकसानदेय साबित होगी जो चुनाव में लड़ चुके हैं या फिर अन्य कोई लाभ ले पार्टी से चुके हैं. बताया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव टिकट लेने वाले सभी नेताओं को इस सूची से बाहर किया जा सकता है.

1:00 pm (IST)
जयपुर. कोरोना वैक्सीनेशन के बाद  राजधानी जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में सोमवार को एक डॉक्टर की तबीयत बिगड़ गई. डॉ.दिनेश खंडेलवाल की बेहोशी जैसी हालत हो गई. उन्हें अस्पताल के ऑब्जर्वेशन वार्ड में भर्ती किया गया है. 

12:02 pm (IST)
कोटा को पर्यटन के मानचित्र पर उभारने के लिए कोटा बैराज से नयापुरा तक बनाया जाने वाला यह चंबल रिवर फ्रंट देश में अपनी तरह का अनूठा होगा. इससे कोटा पर्यटन स्थल के रूप में उभरेगा. इस पर 700 करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं. इसमें कई प्रकार के चौक, घाट और राजस्थान शिल्प के आकर्षक आकृतियां बनाई जायेंगी. इसके साथ ही लोग हेलीकॉप्टर से कोटा दर्शन कर सकें इसके लिये हेलीकॉप्टर राइडिंग की सुविधा भी विकसित की जा रही है. इसके तहत ढाई दर्जन घाट भी बनाये जायेंगे.

 

 

यह अहम कार्य होंगे
- साहित्य घाट पर तुलसीदास, प्रेमचंद और गालिब की रचनाएं प्रदर्शित की जायेगी तथा लाइब्रेरी भी बनायी जायेगी. 
- हिस्ट्री पार्क में शक्ति और भक्ति की प्रतीक हाड़ा रानी और पन्नाधाय की कहानी प्रदर्शित की जायेगी. 
- सिंह-घड़ियाल घाट पर 15 सिंह ओर 15 घड़ियाल के स्कल्पचर्स नजर आएंगे. 
- महाराणा घाट पर मेवाड़, मारवाड़, शेखावाटी और हाड़ौती की झलक देखने को मिलेगी. 
- छतरी घाट पर लाल पत्थर का बड़ा नंदी स्थापित होगा. 
- म्यूजिकल घाट पर  म्यूजिक आयोजन किये जा सकेंगे. 
- बच्चों के लिए वाटर गेम जोन  बनेगा. पेड़ों पर लाइटिंग की जायेगी. 
- घंटाघर घाट पर दुनिया की सबसे बड़ी घंटी लगायी जायेगी. इसका व्यास 9.5 मीटर होगा. अभी सबसे बड़ी घंटी मास्कों में 8 मीटर व्यास की है. 
- रिवर फ्रंट पर बहुत सी जगह म्यूजिकल फव्वारे एवं रोशनी का अनूठा डिजाइन नजर आएगा. यहां मनोरंजन के लिए कई प्रकार के निर्माण किये जायेंगे.  
- जवाहर घाट पर जवाहर लाल नेहरू को समर्पित एक फ्रीडम टावर बनेगा. इसका डिजाइन एवं आकल्पन जयपुर के वरिष्ठ वास्तुकार अनूप बरतरिया हैं.
- चंबल रिवर फ्रंट के किनारे माता चर्मण्यवती की 40 फीट ऊंची प्रतिमा लगाई जाएगी. 
- सुंदर हैंडीक्राफ्ट बाजार और खूबसूरत गार्डन विकसित होंगे. 
- फूड कोर्ट में कई देशों के लजीज व्यंजन आने वालों को लुभाएंगे. 
- चंबल रिवर  फ़्रंट को भारत का सबसे ज्यादा आकर्षक बनाया जा रहा है. इसे देखने दुनिया के लोग यहां आएंगे. 

11:15 am (IST)
कोटा. चंबल रिवर फ्रंट कोचिंग सिटी कोटा की काया पलट करने जा रहा है. चंबल रिवर फ्रंट के जरिये कोटा शहर के विकास को लेकर कई नवाचार किये जा रहे हैं. इसके जरिये जहां कोटा शहर को जहां ट्रैफिक सिग्नल मुक्त किये जाने का प्रयास किया जा रहा है वहीं यहां दुनिया की सबसे बड़ी घड़ी लगाये जाने की भी पूरी तैयारियां कर ली गई हैं. देशभर में शैक्षणिक नगरी के नाम से विख्यात हाड़ौती की शान कोटा में इस प्रोजेक्ट मे तहत गीता के श्लोकों पर आधारित स्कल्पचर्स के साथ ही हाड़ा रानी और पन्नाधाय की कहानी तथा सिंह और घड़ियाल के स्कल्पचर्स भी लगाये जायेंगे. मेवाड़, मारवाड़, शेखावाटी और हाड़ौती की झलक वाली संरचनाएं और हेलीकॉप्टर राइड चम्बल रिवर फ्रंट के मुख्य आकर्षण होंगे. इस प्रोजेक्ट पर करीब 700 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे. 

 

 

नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल ने अपने इस ड्रीम प्रोजेक्ट के बारे में बताया कि कोटा को पर्यटन के मानचित्र पर उभारने के लिए कोटा बैराज से नयापुरा तक बनाया जाने वाला यह चंबल रिवर फ्रंट देश में अपनी तरह का अनूठा होगा. इससे कोटा पर्यटन स्थल के रूप में उभरेगा. इस पर 700 करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे हैं. इसमें कई प्रकार के चौक, घाट और राजस्थान शिल्प के आकर्षक आकृतियां बनाई जायेंगी. इसके साथ ही लोग हेलीकॉप्टर से कोटा दर्शन कर सकें इसके लिये हेलीकॉप्टर राइडिंग की सुविधा भी विकसित की जा रही है. इसके तहत ढाई दर्जन घाट भी बनाये जायेंगे.

10:40 am (IST)
जयपुर. राजधानी जयपुर में आज पेट्रोल और डीजल के भावों में 27-27 पैसे बढ़ गये हैं. इससे जयपुर में पेट्रोल अब 92.43 रुपए और डीजल 84.46 रुपए प्रति लीटर हो गया है. 

10:27 am (IST)
जयपुर. राजस्थान की राजधानी इस बार फिर एक नया इतिहास रचने जा रही है. राजधानी जयपुर के जगतपुरा इलाके में वृंदावन के कृष्ण बलराम मंदिर की तर्ज पर ऐतिहासिक मंदिर तैयार हो रहा है. करीब 70 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे इस मंदिर की खासियत होगी की यह राजस्थान का सबसे उंचा मंदिर होगा. इसकी उंचाई 200 फीट होगी. इस मंदिर का काम वर्ष 2024 में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. उसके बाद इसे भक्तों के लिए खोल दिया जाएगा. अभी तक मंदिर का करीब 70 फीसदी काम पूरा हो चुका है.

 

जयपुर में बन रहे इस अनोखे मंदिर में 108 कलात्मक मयूरों से सुसज्जित राधा-कृष्ण-बलराम और गौर-निताई की प्रतिमा रहेगी. इसके समीप ही सीता-राम-लक्ष्मण और हनुमानजी का विग्रह रहेगा. राजस्थानी और आधुनिक शिल्पकला के अनूठे मेल वाला यह मंदिर सांस्कृतिक और आध्यात्मिक ज्ञान का केंद्र भी होगा.

9:52 am (IST)
जयपुर. गहलोत सरकार ने भ्रष्टाचार को लेकर भले ही जीरो करप्शन नीति अपना रखी है, लेकिन वह धरातल पर नहीं उतर पा रही है. प्रदेश में भ्रष्टाचार फैलाने वाली बड़ी मछलियों पर एसीबी द्वारा शिकंजा कस देने के बावजूद वह तेजी से उसे सिरे तक नहीं पहुंचा पाती है. इसकी वजह है अभियोजन की स्वीकृति नहीं मिलना. इसके चलते कई मामलों में इन अधिकारियों पर बरसों तक कानूनी कार्रवाई शुरू ही नहीं हो पाती है. 

 

सरकार के पास बहुत से मामलों में बरसों से अभियोजन की स्वीकृति अटकी हुई है. चालान पेश नहीं होने के कारण एसीबी इन अफसरों को अदालती कटघरे में खड़ा नहीं कर पा रही है. कार्मिक विभाग के पास मौजूदा समय में 5 RAS समेत बड़े अधिकारियों के 34 मामलों में अभियोजन की स्वीकृति के प्रस्ताव लंबित पड़े हैं. वहीं बड़े अधिकारियों के अलावा राजपत्रित समेत अन्य कार्मिकों के करीब ढाई सौ मामले कार्मिक विभाग में लंबित चल रहे हैं. इनमें भी बरसों बाद सरकार से मुकदमा चलाने की अनुमति नहीं मिली है.

8:58 am (IST)
मनी लॉन्ड्रिंग के मामले मे प्रियंका वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं. राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में स्काईलाइट प्राइवेट हॉस्पिटैलिटी लिमिटेड और महेश नागर की ओर से दायर याचिका पर आज हाईकोर्ट जस्टिस पुष्पेंद्र सिंह भाटी की कोर्ट में सुनवाई होगी. मुख्य वाद सूची में यह मामला 86 व 87  क्रम संख्या पर सूचीबद्ध है. ईडी की ओर से इस मामले में एएसजी राजदीपक रस्तोगी व एएएसजी बीपी बोहरा ने एक प्रार्थना पत्र पेश कर राजस्थान हाई कोर्ट से रॉबर्ट वाड्रा तथा अन्य आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की आवश्यकता जताते हुए आरोपियों को हिरासत में लेने की हाईकोर्ट से अनुमति मांगी है. 

इस प्रार्थना पत्र पर आज को हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. सुनवाई के दौरान वाड्रा की ओर से सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता केटीएस तुलसी और अधिवक्ता कुलदीप माथुर उनका पक्ष रखेंगे. वहीं ईडी की ओर से एएसी राजदीपक रस्तोगी तथा भानु प्रताप बोहरा पक्ष रखेंगे. ऐसे में यदि कोर्ट ईडी की अर्जी को स्वीकार कर लेता है तो वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

7:04 am (IST)
विभाग के निर्देशों के तहत पहली कक्षा से आठवीं तक की पढ़ाई ऑनलाइन जारी रहेगी. 9वीं से 12वीं तक का किसी भी छात्र को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा. अभिभावक की स्वीकृति जरूरी की गई है. वहीं डाउट क्लियर के लिए आने की छूट पहले से है. जो विद्यार्थी स्कूल नहीं आएगा उसकी पढ़ाई स्माइल प्रोजेक्ट से पहले की तरह जारी रहेगी निजी स्कूल भी ऑनलाइन कक्षा की व्यवस्था चलती रहेगी. सरकारी स्कूलों में 60% सिलेबस पहले ही कम कर दिया है, कटौती के बाद बचे हुए कोर्स का ज्यादातर हिस्सा ऑनलाइन कराया जा चुका है.

LOAD MORE
जयपुर. कोरोना के चलते बीते करीब दस महीनों से बंद स्कूल (Schools) विद्यार्थियों के लिए आज से फिर से खुलेंगे (Open). 21 मार्च 2020 के बाद सोमवार से फिर से स्कूल की घंटी सुनाई देगी. फिलहाल कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोले जाएंगे. कोचिंग क्लासेज और कॉलेज भी विद्यार्थियों के लिये अनलॉक हो जायेंगे. कॉलेजों में फाइनल इयर के विद्यार्थी और भी पढ़ाई के लिए अपने कैम्पस पहुंच सकेंगे.

9 महीने और 27 दिन बाद खुल रहे स्कूलों में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है. नए साल में प्रवेश के साथ ही प्रदेश में कम होते कोरोना के प्रकोप और वैक्सीन के शुभागमन के बाद अब फिर से स्कूलों में घंटियां सुनाई देगी. कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों को कोविड गाइडलाइन के साथ बुलाया गया है. कोरोना के खतरे को देखते हुए शिक्षा विभाग ने भी करीब दो दर्जन से ज्यादा दिशा निर्देशों की एक विस्तृत गाइडलाइन जारी की हैं.

शिक्षकों की जिम्मेदारियां बढ़ी
इसके तहत विद्यार्थियों, शिक्षकों और स्टाफ को अनिवार्य रूप से मास्क का इस्तेमाल करना होगा. शिक्षकों की जिम्मेदारी होगी कि वो विद्यार्थियों के समय-समय पर हाथ सेनेटाइज करवाने, साबुन से हाथ धुलवाने और सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाएंगे. स्कूल खुलने से पहले स्कूलों की साफ-सफाई करने के साथ ही उनको सेनेटाइज भी करवाया जाना होगा.

इन नियमों का अनिवार्य रूप से करना होगा पालना
- पहले चरण में कक्षा 9वीं से 12वीं तक की स्कूलें खुलेंगी.
- स्कूलों को शिक्षा विभाग की एसओपी की पूर्णतया पालना करनी होगी।.
- सुबह 9.30 बजे से दोपहर 3.30 बजे तक 10वीं और 12वीं की कक्षाएं लगेंगी.
- सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक कक्षा 9वीं और 11वीं की कक्षाएं चलेंगी.
- स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग और 'नो मास्क- नो एंट्री' का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा.
- विद्यार्थी लंच साझा नहीं कर सकेंगे. अपने नियत स्थान पर ही बैठेंगे.
- बीमार विद्यार्थियों को स्कूल में प्रवेश नहीं दिया जायेगा.
- परिसर में थूकने पर मनाही होगी. स्कूल में प्रवेश और निकासी के दौरान भीड़ नहीं करनी होगी.

एक से कक्षा आठ तक के लिए ही ऑनलाइन जारी रहेंगी
वैसे तो कोरोना काल में मार्च महीने के बाद से ही विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन पढाई के इंतजाम शिक्षा विभाग और निजी स्कूलों ने किए थे. लेकिन अब केवल एक से कक्षा आठ तक के लिए ही ऑनलाइन जारी रहेंगी. बाकी विद्यार्थी ऑफलाइन कक्षाओं में पूर्व की भांति अपनी पढाई कर सकेंगे. हालांकि इस बार मास्क के साथ पढ़ाई होगी. वहीं इसी प्रकार राज्य के कॉलेज और कोचिंग संस्थाओं में भी दोबारा से विद्यार्थियों की रौनक लौटेगी. इस पर मॉनिटरिंग के लिए सरकार की ओर से आईएएस और आरएएस अधिकारियों को भी समय-समय पर स्कूल जाकर निरीक्षण के निर्देश दे दिए गए हैं.

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज