LIVE NOW

Rajasthan News Live Updates: नगर-नगर, डगर-डगर कोरोना का कहर, 10 हजार से ज्यादा नये केस, 42 की मौत

Rajasthan News, 19-April-2021: प्रदेश में कोरोना (COVID-19) बड़े शहरों से होता हुआ कस्बों और गांवों तक पहुंच गया है. कोरोनो को लेकर प्रदेश में हालात तेज से बेकाबू होते जा रहे हैं. रविवार को राज्य में 10 हजार से ज्यादा नये केस (New positive cases) मिले हैं. वहीं 42 लोगों की कोरोना के कारण सांसें थम (Death) गई हैं.

Hindi.news18.com | April 19, 2021, 4:21 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated April 19, 2021
1:14 pm (IST)
प्रतापगढ़. मध्यप्रदेश से सटे प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में रेगिस्तान का जहाज ऊंट दलदल में फंस गया. रविवार शाम को दलदल में फंसे इस मूक प्राणी को करीब 24 घंटे बाद निकाला जा सका है. कल दिन में दलदल में फंसे इस ऊंट खुद कई इससे निकलने का प्रयास किया, लेकिन वह उससे बाहर नहीं आ सका. अंतत: सुबह ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची है और कड़ी मशक्कत कर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर उसे बाहर निकाला. 

9:38 am (IST)
जोधपुर. राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मामले और ' जन अनुशासन पखवाड़ा' बनाम लॉकडाउन की स्थितियां पैदा होते ही बाहर से यहां मजदूरी करने आये मजदूरों का पलायन शुरू हो गया है. प्रदेश में गत शुक्रवार को वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा के बाद से सोशल मीडिया में उड़ी लॉकडाउन की अफवाहों के मद्देनजर मजदूरों ने अपने घर की तरफ रुख करना शुरू कर दिया है. 

 

9:07 am (IST)
कोटा. कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे राजस्थान में इसके संक्रमण की लहर बेकाबू हो चुकी है. कोचिंग सिटी कोटा भी में कोरोना संक्रमण के कारण अफरातफरी मची हुई है. हालात को देखते हुये इलाज के संसाधनों में बढ़ोतरी को लेकर स्थानीय विधायक एवं गहलोत सरकार के यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने कोटा की कमान संभाल रखी है.अस्पतालों में भर्ती मरीजों को लगने वाले रेमडेसीविर इंजेक्शन का मामला हो या फिर ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था. सभी के लिये धारीवाल लगातार जिला प्रशासन, चिकित्सा अधिकारियों और मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य समेत सभी से सीधे संपर्क बनाये हुये हैं.

7:45 am (IST)
जयपुर. राजस्थान में नगर-नगर, डगर-डगर कोरोना वायरस का संक्रमण हो गया है. हालात इतने तेजी से बिगड़ते जा रहे हैं कि प्रदेश में आज से आगामी 3 मई तक लॉकडाउन जैसा जन अनुशासन पखवाड़ा लागू कर दिया गया है. इसमें कर्फ्यू के दौरान रहने वाले प्रतिबंध लागू रहेंगे. प्रदेश में रविवार को कोरोना वायरस ने सभी बंदिशों को तोड़ते हुये लंबी छलांग लगाई है. रविवार को राज्यभर में  कुल 10214 नए पॉजिटिव मामले सामने आये हैं. वहीं 42 लोगों की मौत हो गई. सबसे ज्यादा 13 मौतें कोटा में दर्ज की गई हैं. जयपुर में कल एक ही दिन में  1963 नये केस पाये गये हैं. राज्य में अब कुल एक्टिव केस की संख्या 67387 हो गई है. 

LOAD MORE
जयपुर. राजस्थान में नगर-नगर, डगर-डगर कोरोना वायरस (COVID-19) का संक्रमण हो गया है. हालात इतने तेजी से बिगड़ते जा रहे हैं कि प्रदेश में आज से आगामी 3 मई तक लॉकडाउन (Lockdown) जैसा जन अनुशासन पखवाड़ा (Discipline Fortnight ) लागू कर दिया गया है. इसमें कर्फ्यू (Curfew) के दौरान रहने वाले प्रतिबंध लागू रहेंगे. प्रदेश में रविवार को कोरोना वायरस ने सभी बंदिशों को तोड़ते हुये लंबी छलांग लगाई है. रविवार को राज्यभर में कुल 10214 नए पॉजिटिव मामले सामने आये हैं. वहीं 42 लोगों की मौत हो गई. सबसे ज्यादा 13 मौतें कोटा में दर्ज की गई हैं. जयपुर में कल एक ही दिन में 1963 नये केस पाये गये हैं. राज्य में अब कुल एक्टिव केस की संख्या 67387 हो गई है.

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज