Rajasthan Panchayat Election: मतदाताओं के आगे बेबस हुआ पुलिस-प्रशासन, कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा

कोरोना काल में हो रहे पंचायत चुनाव की तस्वीरों से साफ बयां हो रहा है संंक्रमण से बचाव के लिये जारी गाइडलाइन की कितनी पालना हो रही है. अलवर के शहद गांव में मतदान केन्द्र के हालात.
कोरोना काल में हो रहे पंचायत चुनाव की तस्वीरों से साफ बयां हो रहा है संंक्रमण से बचाव के लिये जारी गाइडलाइन की कितनी पालना हो रही है. अलवर के शहद गांव में मतदान केन्द्र के हालात.

Rajasthan Panchayat Election Voting: प्रथम चरण में आज 31 लाख से अधिक ग्रामीण मतदाता 947 ग्राम पंचायतों में अपने-अपने गांव की सरकार का चुनाव करेंगे. मतदान सुबह 7.30 बजे से शुरू हो गया है. भीड़ को देखते हुये कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ने का अंदेशा बना हुआ है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान पंचायत चुनाव-2020 (Rajasthan Panchayat Election) के प्रथम चरण के लिये आज वोट (Voting) डाले जा रहे हैं. इस चरण में 31 लाख से अधिक ग्रामीण मतदाता 947 ग्राम पंचायतों में अपने-अपने गांव की सरकार का चुनाव करेंगे. मतदान सुबह 7.30 बजे से शुरू हो गया है. ग्रामीणों में चुनाव को लेकर काफी उत्साह है. उम्रदराज लोग भी मतदान के लिये उत्सुक हैं. सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर लंबी-लंबी लाइनें लग गई. मतदान के दौरान कोरोना गाइड लाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है. मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की जबर्दस्त भीड़ उमड़ रही है. इससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ गया है. सुबह 10 बजे तक 19.10 फीसदी मतदान हो गया. मतदान शाम 5.30 तक चलेगा. उदयपुर संभाग के डूंगरपुर और उदयपुर के कई  इलाकों में भड़की हिंसा के कारण 55 ग्राम पंचायतों के चुनाव स्थगित (Election postponed) कर दिये गये हैं. चुनाव के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं.

चुनाव आयुक्त ने मतदाताओं से कोरोना के प्रोटोकॉल के साथ मतदान करने की अपील की है. स्वतंत्र-निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव के लिये 23 पर्यवेक्षक नियुक्त किये गये हैं. IAS विष्णु चरण मल्लिक को जयपुर का पर्यवेक्षक बनाया गया है. इस चरण में पहले 1002 ग्राम पंचायतों में चुनाव होना था, लेकिन उदयपुर संभाग में भड़की हिंसा के कारण रविवार को 55 ग्राम पंचायतों के चुनाव स्थगित कर दिये गये.

राजस्थान पंचायत चुनाव: बिना वोटर आईडी के भी आप इन 11 दस्तावेजों के आधार पर कर सकते हैं मतदान



मतदान के तत्काल बाद मतगणना
शाम को 5.30 मतदान के तत्काल बाद मतगणना कर परिणाम घोषित कर दिये जायेंगे. उसके बाद मंगलवार को इन पंचायतों में उप सरपंचों के चुनाव कराये जायेंगे. राज्य चुनाव आयोग ने इस बार कोरोना संक्रमण को देखते हुये चुनाव के लिये काफी सख्त दिशा निर्देश जारी किए हैं. मतदाताओं को मतदान के समय सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी तरह से पालना करनी होगी. कोरोना संक्रमण से पीड़ित मतदाताओं को भी मतदान करने का अधिकार दिया गया है, लेकिन इसके लिए चुनाव आयोग ने अलग से कुछ मापदंड तय किये हैं. मसलन यदि कोई मतदाता कोरोना संक्रमण से पीड़ित है तो उसे इसकी पूरी जानकारी संबंधित अधिकारी को देकर आवेदन करना होगा. उसके बाद स्वास्थ्य अधिकारी की देखरेख में उसे मतदान करने की अनुमति प्रदान की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज