राजस्थान में आज सुबह 6 बजे के बाद नहीं मिलेगा पेट्रोल-डीजल, जानिए क्या है वजह

वैट कम करने की मांग को लेकर राजस्थान के पेट्रोल पंप शनिवार को बंद रहेंगे. (प्रतीकात्मक फोटो)

वैट कम करने की मांग को लेकर राजस्थान के पेट्रोल पंप शनिवार को बंद रहेंगे. (प्रतीकात्मक फोटो)

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने साफ कर दिया है कि यह एक दिनी सांकेतिक हड़ताल है. अगर वैट घटाए जाने की मांग नहीं मानी गई तो 25 अप्रैल से प्रदेश में अनिश्चितकालीन हड़ताल होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 12:56 AM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में वैट कम करने की मांग को लेकर शनिवार सुबह से सभी पेट्रोल पंप 12 घंटे के लिए बंद रहेंगे. प्रदेश के लगभग 7 हजार पेट्रोल पंप पर पेट्रोल-डीजल की खरीद और बिक्री पूरी तरह से बंद रहेगी. यह बंदी आज सुबह 6 बजे से लेकर रात 12 बजे तक रहेगी. राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के बैनर तले यह एक दिन की हड़ताल होगी. ऐसे में अगर कल आप वीकेंड में कहीं बाहर जाने का प्लान बना रहे हैं, तो आपको थोड़ी सावधानी रखने की जरूरत है. क्योंकि घूमने के लिए आप जिस कार या टैक्सी का इस्तेमाल करेंगे, उसका टैंक आपको आज ही फुल करवाना पड़ेगा.

देश में सबसे ज्यादा वैट प्रदेश में

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनती बगई का कहना है कि इस समय देश में पेट्रोल-डीजल पर सबसे ज्यादा वैट राजस्थान में है. पड़ोसी राज्यों में पेट्रोल-डीजल पर वैट कम होने से सीमावर्ती जिलों के पेट्रोल पंपों पर बिक्री न के बराबर रह गई. वहीं पूरे राजस्थान में इस वैट की वजह से बिक्री करीब 34 प्रतिशत कम हो गई है. पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में डीजल पर वैट करीब 18 प्रतिशत है, जबकि राजस्थान में यह 28 प्रतिशत है. वहीं पेट्रोल पर प्रदेश में वैट 38 प्रतिशत है, जबकि पंजाब में 32, हरियाणा में 31, दिल्ली में 30, उत्तर प्रदेश में 27, गुजरात में 24 और मध्य प्रदेश में 40 प्रतिशत है.

सरकार को होगा 34 करोड़ का नुकसान
कल की हड़ताल से प्रदेश के करीब 7 हजार पेट्रोल पंप बंद रहेंगे, जिसकी वजह से 3 करोड़ लीटर पेट्रोल-डीजल की बिक्री कम होगी. इससे प्रदेश में करीब 150 करोड़ रुपये की बिक्री प्रभावित होगी. वहीं राज्य सरकार को 34 करोड़ के वैट का नुकसान होगा. अगर जयपुर जिले की बात करें तो यहां करीब 530 पेट्रोल पंप कल पूरी तरह से बंद रहेंगे. वैट कम कराने की मांग को लेकर पेट्रोल पंप संचालकों की यह एक दिन की सांकेतिक हड़ताल है. एसोसिएशन ने साफ कर दिया है कि अगर मांगें नहीं मानी गईं तो 25 अप्रैल से प्रदेश में अनिश्चितकालीन हड़ताल होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज