काम नहीं हुआ तो रिश्वत में लिए 10 हजार लौटा रहा था SDM, हुआ गिरफ्तार

राजस्थान के धौलपुर उपखंड अधिकारी भंवरलाल को जमीन विवाद के एक मामले में सवाईमाधोपुर की भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने 10000 रुपए की रिश्वत लौटाते हुए गिरफ्तार किया है.

News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 9:13 PM IST
काम नहीं हुआ तो रिश्वत में लिए 10 हजार लौटा रहा था SDM, हुआ गिरफ्तार
अधिकारी का नाम भंवर लाल कासोटिया है
News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 9:13 PM IST
राजस्थान के धौलपुर उपखंड अधिकारी भंवरलाल को जमीन विवाद के एक मामले में सवाईमाधोपुर की भ्रष्टाचार निरोधक टीम ने 10000 रुपए की रिश्वत लौटाते हुए गिरफ्तार किया है. अधिकारी का नाम भंवर लाल कासोटिया है. इस मामले में सवाई माधोपुर एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भैरू लाल मीणा ने बताया कि उपखंड अधिकारी भंवर लाल कासोटिया के यहां पर भगत सिंह तथा उसकी पुत्री के बीच पुश्तैनी 4 बीघा जमीन का मामला चल रहा था.

इसमें पुत्री अपने पिता से भूमि देने की मांग कर रही थी लेकिन भगत सिंह के पास वह जमीन पुश्तैनी न होकर मां की तरफ से आई थी. एसडीएम ने सारी जानकारी होने के बावजूद भगत सिंह से 10000 रुपए लिए और फिर उसके खिलाफ फैसला कर दिया.

पुलिस मुख्यालय में लगाई गुहार
इस पर भगत सिंह ने 30 जुलाई को एसीबी मुख्यालय पर उसके पैसे लौटाने की गुहार लगाई थी. इस पर पुलिस मुख्यालय ने सवाई माधोपुर की टीम को कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया था. टीम ने पैसे लौटाने के दौरान 2 अगस्त की शाम 7:00 बजे एसडीएम को गिरफ्तार कर लिया. गौरतलब कि गुरुवार को ही एसडीएम का तबादला भी हुआ था.

भगत सिंह का कहना है कि केस का फैसला 26 जुलाई को एसडीएम कोर्ट में होना था. मैं एसडीएम से मिला तो उन्होंने 50 हजार रुपए की मांग की थी. उन्हें मैंने दस हजार रुपए उसी दिन दे दिए थे. फिर मैंने अपने पैसे मांगे तो उन्होंने मना कर दिया. फिर मैंने शिकायत की और उनके खिलाफ कार्रवाई हुई.
ये भी पढ़ें:

ताबड़तोड़ बारिश ने महज दस दिन में बदल डाली प्रदेश की सूरत, अब चारों तरफ पानी ही पानी
Loading...

MLA राजेंद्र गुढ़ा के आरोपों के बाद BSP में गरमाई सियासत, दूसरे विधायकों ने किया खंडन
First published: August 2, 2019, 8:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...