लाइव टीवी

गुर्जर नेताओं पर दर्ज राजद्रोह के केस वापस, पुलिस ने लगाई एफआर
Jaipur News in Hindi

News18Hindi
Updated: March 20, 2018, 1:13 PM IST
गुर्जर नेताओं पर दर्ज राजद्रोह के केस वापस, पुलिस ने लगाई एफआर
गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला.

सरकार ने गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान करीब तीन साल पहले दर्ज राजद्रोह के केसों की फाइल अब बंद कर दी गई है. सरकार के इस फैसले से गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला और हिम्मत सिंह सहित 22 गुर्जरों को बड़ी राहत मिली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2018, 1:13 PM IST
  • Share this:
राजस्थान के बहुचर्चित गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान गुर्जर नेताओं के खिलाफ राजद्रोह का केस वसुंधरा सरकार ने वापस ले लिए हैं. इस तरह करीब तीन साल पहले पिछली सरकार द्वारा गुर्जर नेताओं के ऊपर दर्ज कराए गए सभी केस वापस ले लिए गए हैं और पुलिस ने उन सभी की फाइल बंद कर दी है.

सरकार के इस फैसले से गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला और हिम्मत सिंह सहित 22 गुर्जरों को बड़ी राहत मिली है. इन सभी के खिलाफ राजद्रोह सहित कई संगीन धाराओं में केस दर्ज किए गए थे, अब पुलिस ने इन सभी केसों पर एफआर लगा दी है.

जानकारी के अनुसार 24 मई 2015 को उक्त सभी केस तब लगाए गए थे जब सिकंदरा में गुर्जरों ने रास्ता जाम करते हुए रेलमार्ग भी रोकने का प्रयास किया था. पुलिस ने तब 150 लोगों पर धारा 124 ए, 121 ए सहित कई अन्य धाराओं में केस दर्ज किए थे. इन में से 22 को नामजद किया गया था. राजद्रोह जैसी इन धाराओं में मृत्युदंड तक का प्रावधान है.

पहले गिरफ्तारियां टली अब केस बंद



गंभीर धाराओं के बाद भी राज्य सरकार की इन गुर्जर नेताओं पर इतनी मेहरबान रही कि तीन साल में किसी की गिरफ्तारी तक नहीं हो सकी. अब पुलिस ने मुकदमों को सिविल कोर्ट में वापस ले लिया है. पुलिस ने दलील दी है कि गुर्जर नेता आंदोलन के दौरान मौके पर नहीं थे और वे दूसरे दिन समझौते के लिए पहुंचे थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2018, 11:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर