जयपुर में पुलिस ने 10 थाना क्षेत्रों में 21 अगस्त तक लगाई धारा 144, जानें कारण

जयपुर में पुलिस ने 10 थाना क्षेत्रों में 19 अगस्त से 21 अगस्त 2019 तक धारा 144 लागू कर दी है. सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वाले असामाजिक तत्वों के देखते हुए ऐसा किया गया है.

News18 Rajasthan
Updated: August 20, 2019, 3:06 PM IST
जयपुर में पुलिस ने 10 थाना क्षेत्रों में  21 अगस्त तक लगाई धारा 144, जानें कारण
सांकेतिक तस्वीर
News18 Rajasthan
Updated: August 20, 2019, 3:06 PM IST
प्रदेश की राजधानी जयपुर में पुलिस ने 10 थाना क्षेत्रों में  19 अगस्त से 21 अगस्त 2019 तक धारा 144 लागू कर दी है. जयपुर में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है, इसी के मद्देनजर पुलिस ने यह कदम उठाया है. गत 14 अगस्त को जयपुर में दो पक्षों के बीच विवाद के बाद टकराव हुआ था. इन झड़पों में 10 लोग घायल हुए थे. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे और पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था.

सांकेतिक तस्वीर


उसके बाद बाद पुलिस ने प्रदेश की राजधानी के 10 थाना क्षेत्रों में पांच दिनों के लिए धारा 144 लागू कर दी थी. तब इलाके की मोबाइल और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई थी. तनाव को देखते हुए पुलिस ने रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस को लेकर सुरक्षा के इंतजाम भी किए थे.  पुलिस संदिग्ध लोगों पर नजर भी रख रही है.

एक ट्वीट में कहा गया है असामाजित तत्व साम्प्रदायिक सौहार्द के माहौल को बिगाड़ना चाहते हैं. इसी के मद्देनजर सीआरपीसी की धारा 144 10 पुलिस थाना क्षेत्रों में लागू की गई है.


Loading...



 

 हाई अलर्ट जारी

खबर है कि चार आतंकवादी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) एजेंट के साथ अफगानिस्तानी पासपोर्ट जरिए भारत में दाखिल हुए हैं.  उसी के बाद राजस्थान और गुजरात बॉर्डर समेत हाई अलर्ट जारी किया गया है. उसी के बाद से पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं. भीड़-भाड़ वाले इलाके, होटल, ढाबा, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर खासतौर पर नजर रखी जा रही है.

ये भी पढ़ें- धारा 370 हटने के 15 दिन बाद आया 'लव पाकिस्तान' लिखा गुब्बारा
स्टांप वेंडर व चालक ने SDM के लिए रिश्वत लेना स्वीकारा, ऑडियो हुआ वायरल

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 3:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...