होम /न्यूज /राजस्थान /Rajasthan political crisis: गहलोत के मंत्री गुढा बोले- धारीवाल के बंगले पर की गई नौटंकी पड़ेगी भारी

Rajasthan political crisis: गहलोत के मंत्री गुढा बोले- धारीवाल के बंगले पर की गई नौटंकी पड़ेगी भारी

मंत्री राजेन्द्र गुढा बोले रविवार की घटना से सब बेकाब हो गए.

मंत्री राजेन्द्र गुढा बोले रविवार की घटना से सब बेकाब हो गए.

Political turmoil in Rajasthan: राजस्थान में चल रह राजनीतिक संकट के बीच रविवार रात को हुए सियासी ड्रामे की अब कई कलइयां ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

मंत्री राजेन्द्र गुढा बसपा से चुनाव जीतकर बाद में कांग्रेस में शामिल हुए हैं
गुढा गहलोत के खेमे हैं लेकिन आजकल वे पायलट के प्रति भी नरम दिखाई देते हैं

जयपुर. राजस्थान के सियासी संकट (Rajasthan political crisis) के बीच जहां सीएम अशोक गहलोत और उनके प्रतिद्वंद्वी सचिन पायलट ने चुप्पी साध रखी है वहीं कई मंत्री अपने बयानों से सुर्खियों में बने हुए हैं. इसी कड़ी में एक नाम है गहलोत सरकार के राज्यमंत्री राजेंद्र गुढा (Rajendra Gudha) का. बसपा की टिकट पर जीतकर गहलोत सरकार के गठन के बाद कांग्रेस में शामिल हुए राजेन्द्र गुढा ने राजस्थान में हुए सियासी घटनाक्रम पर बड़ा बयान दिया है. गहलोत के समर्थक रहे राजेन्द्र गुढा ने कहा है कि विधायक वन-टू-वन बातचीत के लिए तैयार थे लेकिन दो चार लोगों ने जबरदस्ती कुछ लोगों को कैप्चर कर लिया. विधानसभा अध्यक्ष को विधायकों के इस्तीफे मंजूर कर लेने चाहिए ताकि सबको उनकी असलियत पता लग सके.

मंत्री गुढा ने दावा किया कि विधानसभा अध्यक्ष के घर पर 90-92 विधायक नहीं थे. उन्होंने सवाल उठाया कि जब 35-40 लोग सीएमआर थे तो स्पीकर के घर 92 कैसे हो गए? विधायक अपना जरूरी कामकाज छोड़कर जयपुर आए थे. विधायकों से वन टू वन बात करेंगे तो असलियत सामने आ जाएगी. उन्होंने कहा कि धारीवाल के बंगले पर की गई नौटंकी भारी पड़ेगी. नौटंकी करने वाले लोग कांग्रेस के सिम्बल पर चुनाव जीते हैं.

गुढा बोले रविवार की घटना से सब बेकाब हो गए
गुढा यहीं नहीं ठहरे और बोले के बिना सिंबल के ये लोग सरपंच का चुनाव भी नहीं जीत सकते. जो लोग सदन में अनुशासन सिखाते हैं वो खुद अनुशासनहीनता कर रहे हैं. जनता ने अच्छे फैसलों के लिए मजबूत सरकार बनाई थी. दो बार हमारे सहयोग से कांग्रेस की सरकार मजबूत हुई. गुढा ने कहा कि कांग्रेस ने इनको सबकुछ दिया मगर इन लोगों ने भद्दा प्रदर्शन किया. गांधी-नेहरू की दुहाई देने वाले लोग रविवार की घटना से सब बेकाब हो गए.

राजस्थान में जी-6 के नाम पहचाने वाले गुट को लीड करते हैं
उल्लेखनीय है कि गुढा बसपा से कांग्रेस में आए सभी 6 विधायकों का नेतृत्व करते हैं. वे राजस्थान में जी-6 के नाम पहचाने वाले गुट को लीड करते हैं. बसपा की टिकट पर जीते सभी विधायकों को कांग्रेस में लाने का श्रेय गुढा को दिया जाता है. इसके चलते इन छह विधायकों में से गहलोत ने सबसे पहले उनको पुरस्कृत किया और मंत्री बनाया. गहलोत के पिछले कार्यकाल में भी गुढा उनके साथ आ गए थे. गुढा अपने बेबाक बयानों की वजह से भी अक्सर चर्चा में रहते हैं.

Tags: Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Jaipur news, Rajasthan Congress, Rajasthan news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें