वसुंधरा की खामोशी पर शेखावत की सफाई, कहा- मौन रहने की आवाज शब्दों से ज्यादा
Jaipur News in Hindi

वसुंधरा की खामोशी पर शेखावत की सफाई, कहा- मौन रहने की आवाज शब्दों से ज्यादा
राजस्थान में अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट की लड़ाई में वसुंधरा राजे ज्यादा कुछ नहीं बोल रही हैं (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि राजस्थान में चल रहे सियासी नाटक की स्क्रिप्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने खुद लिखी है. ऐसा करने की पीछे उनका मकसद अपने अंदरुनी और बाहरी विरोधियों को निशाना बनाना है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 3, 2020, 8:12 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में जारी राजनीतिक कलह (Rajsthan Political crisis) के बीच पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) की खामोशी को लेकर काफी चर्चा है. केंद्रीय मंत्री और जोधपुर से बीजेपी सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Sekhhawat) ने कहा कि कभी-कभी मौन रहने की आवाज शब्दों से ज्यादा होती है. उन्होंने कहा कि वसुंधरा राज की चुप्पी इस मामले में उनकी राणनीति का हिस्सा है.

न्यूज एजेंसी पीटीआई के साथ बातचीत में शेखावत ने कहा कि राजस्थान में चल रहे सियासी नाटक की स्क्रिप्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने खुद लिखी है. ऐसा करने की पीछे उनका मकसद अपने अंदरुनी और बाहरी विरोधियों को निशाना बनाना है.
बेटे वैभव की हार बर्दाश्त नहीं कर पा रहे CM गहलोतशेखावत ने कहा कि लोकसभा चुनाव में मैंने मुख्यमंत्री गहलोत के बेटे वैभव को पराजित किया था, यह बात वो बर्दाश्त नहीं कर पा रहे. इसलिए मुझे टारगेट किया जा रहा है. लोकसभा चुनाव 2019 में गजेंद्र सिंह शेखावत ने वैभव गहलोत को पौने तीन लाख से भी ज्यादा वोटों के अंतर से हराया था. गहलोत ने शेखावत पर आरोप लगाया है कि वो उनकी सरकार गिराने का षडयंत्र रचने में शामिल हैं.शेखावत की मानें तो बीजेपी का राजस्थान में उठे सियासी बवंडर से कोई लेना-देना नहीं. यह सब अशोक गहलोत और सचिन पायलट की आपसी लड़ाई है. गहलोत, पायलट और कुछ लोगों को कांग्रेस से निकालना चाहते हैं इसलिए वो इसका दोष बीजेपी पर लगा रहे हैं.

पहले चुप रहीं वसुंधरा, बाद में अपनी खामोशी खत्म की 
गहलोत-पायलट के बीच की इस जंग पर राजस्थान बीजेपी के नेता खुल कर बोल रहे थे, लेकिन वसुंधरा राजे चुप्पी साधे रहीं. हालांकि एक हफ्ते बाद वसुंधरा ने ट्वीट कर कहा कि कुछ लोग राजनीतिक घटना पर भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. वसुंधरा का बयान नागौर से बीजेपी सांसद हनुमान बेनीवाल के आरोप के बाद आया. जिसमें उन्होंने कहा था कि वसुंधरा राजे खुद अशोक गहलोत की हेल्प कर रही हैं.



बता दें कि राजस्थान में जारी गहलोत बनाम पायलट की लड़ाई में कांग्रेस पार्टी ने अशोक गहलोत का साथ दिया है. पार्टी ने पिछले महीने सचिन पायलट के बागी तेवरों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें राज्य के डिप्टी सीएम पद और पीसीसी पद से हटा दिया था. हालांकि सचिन पायलट को पार्टी से नहीं हटाया गया है, वो अभी भी कांग्रेस में बने हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज