राजस्थान : नगर निगम चुनाव में सियासत तेज, भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ जारी किया ब्लैक पेपर

राजस्थान के 3 शहरों के 6 नगर निगमों के चुनाव में अब राजनीति गरम होने लगी है.
राजस्थान के 3 शहरों के 6 नगर निगमों के चुनाव में अब राजनीति गरम होने लगी है.

ब्लैक पेपर के जरिए भाजपा ने सरकार को घेरने की कोशिश की है. भाजपा ने इस ब्लैक पेपर में बताया है कि कांग्रेस ने निगम व पालिकाओं में भ्रष्टाचार का समावेश किया है. कांग्रेस की अगुवाई में महिलाओं से दुष्कर्म जैसे अपराधों में प्रदेश का देश में प्रथम स्थान है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 6:55 PM IST
  • Share this:
जयपुर. प्रदेश के 3 शहरों के 6 नगर निगमों के चुनाव से पहले भाजपा (BJP) ने आज कांग्रेस (Congress) के खिलाफ ब्लैक पेपर जारी किया है. इसमें भाजपा ने जनता के सामने कांग्रेस सरकार (Congress Government) के 20 महीनों के कामकाज का ब्यौरा रखा है. भाजपा मुख्यालय में केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया और पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ ब्लैक पेपर जारी किया. अब भाजपा नगर निगम चुनाव में अपना घोषणापत्र यानी विजन डाक्यूमेंट जल्द जारी करेगी.

कांग्रेस सरकार को घेरने की कोशिश

ब्लैक पेपर के जरिए भाजपा ने सरकार को घेरने की कोशिश की है. भाजपा ने इस ब्लैक पेपर में बताया है कि कांग्रेस ने निगम व पालिकाओं में भ्रष्टाचार का समावेश किया है. कांग्रेस की अगुवाई में महिलाओं से दुष्कर्म जैसे अपराधों में प्रदेश का देश में प्रथम स्थान है. दलितों पर अत्याचार के मामले में राजस्थान अव्वल बनने की ओर अग्रसर हुआ है. बच्चों के प्रति अपराध में 43 फीसदी की वृद्धि हुई है.



भाजपा के मुताबिक - ये हैं सरकार की कमियां
भाजपा ने कहा कि केंद्र सरकार ने जयपुर, जोधपुर और कोटा को स्मार्ट सिटी में शामिल किया था, लेकिन कांग्रेस की सरकार आते ही स्मार्ट सिटी के कार्यों पर विराम लग गया. कांग्रेस सरकार ने बिजली के बिलों में वृद्धि की है. भामाशाह योजना बंद कर गरीब का इलाज भी इस कांग्रेसी सरकार ने बंद कर दिया है. निकायों में अंबेडकर भवनों का निर्माण बंद है. इस सरकार ने अन्नपूर्णा रसोई बंद कर जरूरतमंदों के मुंह से निवाला छीना, भूख बढ़ाई. पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के किए गए कामों का इस सरकार ने लोकार्पण करके योजनाओं को अपना बताने की कोशिश की. भाजपा के ब्लैक पेपर के अनुसार, इस सरकार ने जयपुर की द्रव्यवती नदी प्रोजेक्ट का नाश कर दिया. भाजपा सरकार ने टोल खत्म कर दिया था, लेकिन कांग्रेस ने फिर से शुरू कर गरीब जनता की जेब पर आर्थिक भार डाल दिया. बीजेपी का आरोप है कि सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के साथ खिलवाड़ हो रहा है. गौशाला टैक्स के 12 सौ करोड़ वसूल कर भी नहीं दिया अनुदान. पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाया. कोरोना काल में अव्यवस्थाओं का आलम बना रहा. प्रदेश में बेरोजगारों की फौज खड़ी कर दी, 27 लाख बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ते का इंतजार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज