सरकार तकनीकी कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने को तैयार, बिजलीकर्मियों की हड़ताल खत्म होने के संकेत!
Jaipur News in Hindi

सरकार तकनीकी कर्मचारियों का वेतन बढ़ाने को तैयार, बिजलीकर्मियों की हड़ताल खत्म होने के संकेत!
महापड़ाव पर बैठे बिजलीकर्मी.

सरकार ने तकनीकी सहायकों की मांगें मान ली है. 2400 ग्रेड-पे की मांग पर सरकार ने स्वीकृति दे दी है. हालांकि जेईएन की मांगों पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है.

  • Share this:
राजस्थान में चार दिन से हड़ताल पर चल रहे बिजलीकर्मियों की मांगों को राज्य की वसुंधरा राजे सरकार ने मान लिया है. राजधानी जयपुर में महापड़ाव पर बैठे करीब 10 हजार तकनीकी कर्मचारी और जेईएन से जल्द ऊर्जा मंत्री पुष्पेंद्र सिंह वार्ता करने वाले हैं. उम्मीद जताई जा रही है कि इस वार्ता के बाद बिजलीकर्मी हड़ताल खत्म करने की घोषणा कर सकते हैं. सरकार की ओर से बिजलीकर्मियों के साथ बुधवार को हुई वार्ता विफल रही थी.

ये भी पढ़ें- 5 दिन में 50 सीटें कवर करेगी BJP, 24 सीटों पर खुद वसुंधरा की नजर

मंत्री पुष्पेंद्र सिंह के अनुसार तकनीकी सहायकों की मांगें मान ली गई है. 2400 ग्रेड-पे की मांग पर सरकार ने स्वीकृति दे दी है. हालांकि जेईएन की मांगों पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. बता दें कि प्रदेश की पांच बिजली कंपनियों के तकनीकी सहायक और जूनियर इंजीनियर अपनी ग्रेड पे बढ़ाने और प्रमोशन की मांग को लेकर चार दिन से जयपुर में महापड़ाव पर है. जेईएन व कर्मचारियों के छुट्टी पर रहने के कारण बुधवार से कस्बों व ग्रामीण इलाकों में बिजली सप्लाई, बिल बांटने और रेवन्यू कलेक्शन का काम भी पूरी तरह से ठप है.



ये भी पढ़ें- बंदर का शिकार करने में पैंथर की गई जान
उल्लेखनीय है कि तकनीकी कर्मचारियों की मांग है कि नियुक्ति तिथी से ग्रेड पे 2400 दी जाए. कनिष्ठ अभियंताओं को अन्य विभागों की तरह ग्रेड पे 4800 मिले, अधिमानता के आधार पर हायर सैकण्डरी उर्त्तीण कर्मचारियों को लिपिक बनाने, विद्युत निगमों में वेतन श्रृंखला 1 से 6 तक कार्यरत अधिकारी, कर्मचारियों की पदोन्नति 3 वर्ष में अनिवार्य रूप से करने, 2 से 6 तक तकनीकी कर्मचारियों की वरिष्ठता सूची निगम स्तर पर बनाई जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज