Home /News /rajasthan /

Rajya Sabha Election: अब बसपा के विधायकों पर मचा घमासान, कांग्रेस को लग सकता है बड़ा झटका ! फंसा ये पेंच

Rajya Sabha Election: अब बसपा के विधायकों पर मचा घमासान, कांग्रेस को लग सकता है बड़ा झटका ! फंसा ये पेंच

उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कई आरोप लगाए हैं, (Demo Pic)

उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कई आरोप लगाए हैं, (Demo Pic)

राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) के रण में रोज नए पॉलिटिकल पेंच सामने आ रहे हैं. अब बसपा (BSP) से कांग्रेस में आये विधायकों को लेकर राजनीति गरमा गई है. बसपा से आये सभी 6 विधायक कांग्रेस (Congress) की बाड़ाबंदी में शामिल हैं.

जयपुर. राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) के रण में रोज नए पॉलिटिकल पेंच सामने आ रहे हैं. अब बसपा (BSP) से कांग्रेस में आये विधायकों को लेकर राजनीति गरमा गई है. बसपा से आये सभी 6 विधायक कांग्रेस (Congress) की बाड़ाबंदी में शामिल हैं. उधर बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीशचंद्र मिश्रा ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त (Chief Election Commissioner) को पत्र लिखकर इस पर आपत्ति जता दी है.

यह है पूरा मामला
मिश्रा ने सीईसी को लिखे पत्र में कहा है कि ये 6 विधायक बसपा के टिकट पर चुनाव जीतकर आये थे और पार्टी सुप्रीमो मायावती ने इन्हें सिम्बल अलॉट किए थे. निर्वाचन आयोग के गजट नोटिफिकेशन में भी अभी तक इन विधायकों की पार्टी का नाम बसपा ही अंकित है. उसमें कोई फेरबदल नहीं किया गया है. इतना ही नहीं राजस्थान विधानसभा के गजट नोटिफिकेशन में भी इन विधायकों की पार्टी बसपा ही दर्शाई गई थी. लेकिन बाद में राजस्थान विधानसभा के स्पीकर ने इस शब्दावली में पार्टी के बिना नोटिस में लाए बदलाव कर दिया.

पार्टी का नहीं हुआ विलय
बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीशचन्द्र मिश्रा ने चुनाव आयोग से कहा है कि बहुजन समाज पार्टी का कभी भी कांग्रेस में विलय नहीं हुआ और ना ही बसपा की राजस्थान इकाई का कांग्रेस में विलय हुआ है. विधायकों के दूसरी पार्टी में शामिल होने के लिए दसवीं अनुसूची में वर्णित दलबदल कानून के तहत यह अनिवार्य शर्त है. बसपा ने मांग की है कि इन विधायकों को कांग्रेस विधायकों के तौर पर मतदान की इजाजत नहीं होनी चाहिए. इन पर बसपा के व्हिप को मानने की बाध्यता होनी चाहिए. राष्ट्रीय महासचिव ने चुनाव आयोग से मांग की है कि इस संबंध में रिटर्निंग अधिकारी को निर्देशित किया जाए. ये सभी 6 विधायक अभी तक भी बसपा के व्हिप को मानने के लिए बाध्य हैं.

पीटीशन हुई है दायर
पार्टी के महासचिव ने इस संबंध में जयपुर निवासी हेमंत नाहटा की ओर से दायर की गई पीटीशन का भी उल्लेख किया है. उधर पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष भगवान सिंह बाबा ने भी इस संबंध में रिटर्निंग अधिकारी को पत्र लिखकर यह मांग उठाई है. प्रदेशाध्यक्ष ने कहा है कि हेमंत नाहटा ने जो पीटीशन दायर की है उसमें पार्टी का आधिकारिक कथन भी रिकॉर्ड पर लिया जाए. उन्होंने कहा कि बसपा से जीते विधायकों ने अगर यह बात कही है कि पार्टी का विलय हो गया है तो वह मिथ्या कथन है और विधायकों को बसपा विधायकों के तौर पर ही ट्रीट किया जाए.

कांग्रेस को लग सकता है बड़ा झटका
कांग्रेस बसपा से आए विधायकों को अपनी ही पार्टी का मान कर चल रही है और बाड़ेबंदी में भी ये विधायक शामिल हैं. लेकिन चुनाव से ऐन पहले बसपा ने चुनाव आयोग से शिकायत कर पार्टी की धड़कनें बढ़ा दी है. उधर बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों की भी धड़कनें बढ़ गई हैं. उन्होंने बीजेपी पर इस मुद्दे को बेवजह तूल देने का आरोप लगाया है. अगर चुनाव आयोग बसपा का दावा सही मानता है तो इन विधायकों को बसपा के व्हिप को मानना जरुरी होगा और पार्टी जहां उन्हें जिस प्रत्याशी को वोट देने को कहेगी उसे वोट देना होगा. ऐसा नहीं करने पर इन विधायकों पर दलबदल कानून के तहत कार्रवाई की जा सकती है.

भारत-चीन झड़प में घायल राजस्थान का जाबांज सुरेन्द्र 15 घंटे बाद आया होश में

Rajasthan Weather Update: 3 दिन बाद प्रदेश में दस्तक देगा मानसून ! अभी जारी रहेगी गर्मी

Tags: BJP, BSP, Congress, Jaipur news, Mayawati, Rajasthan News Update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर