Rajya Sabha Elections: उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने रिटर्निंग ऑफिसर को लिखा पत्र, लगाया बड़ा आरोप
Jaipur News in Hindi

Rajya Sabha Elections: उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने रिटर्निंग ऑफिसर को लिखा पत्र, लगाया बड़ा आरोप
उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कई आरोप लगाए हैं, (Demo Pic)

राठौड़ ने पत्र में लिखा है कि जेडब्ल्यू मैरियट होटल में पिछले करीब 10 दिनों से कांग्रेस के पूरे विधायकों सहित छह बसपा विधायकों की भी बाड़ाबंदी कर रखा गया है. ऐसे स्थान पर निर्दलीय विधायकों का जाना या उन्हें सरकार द्वारा प्रभावित कर वहां ले जाने से मतदान पर भी असर हो सकता है.

  • Share this:
जयपुर. राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) के लिए शुक्रवार को होने वाले मतदान से पहले उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने चुनाव के लिए अधिकृत रिटर्निंग अधिकारी (Returning Officer) को पत्र लिखा है. इस पत्र में एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए राठौड़ ने लिखा है कि निर्दलीय विधायकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की. इसके बाद निर्दलीय विधायकों ने यह कहा था है कि वह जो वोट डालेंगे वह कांग्रेस के अधिकृत प्रतिनिधि को दिखा कर डालेंगे. इससे यह स्पष्ट हो गया कि मतदाताओं को प्रभावित करने का दुष्प्रचार किया गया है, जिससे चुनावी प्रक्रिया पर विपरीत रूप से प्रभावित हो सकता है. राठौड़ ने पत्र में लिखा है कि जेडब्ल्यू मैरियट होटल में पिछले करीब 10 दिनों से कांग्रेस के पूरे विधायकों सहित छह बसपा विधायकों की भी बाड़ाबंदी कर रखा गया है. ऐसे स्थान पर निर्दलीय विधायकों का जाना या उन्हें सरकार द्वारा प्रभावित कर वहां ले जाने से मतदान पर भी असर हो सकता है.

राठौड़ ने नियमों का हवाला देते हुए पत्र में लिखा है कि नियमों के मुताबिक मात्र राजनीतिक दल के मतदाता द्वारा ही उसके राजनीतिक दल के प्राधिकृत अभिकर्ता को किस व्यक्ति को मत दिया यह सत्यापन के लिए दिखाए जाने का प्रावधान है, लेकिन निर्दलीय विधायकों के लिए यह प्रावधान उपलब्ध नहीं है. राठौड़ ने लिखा है कि अगर निर्दलीय विधायकों द्वारा कांग्रेस के प्रतिनिधि को दिखाकर वोट डाले जाते हैं या ऐसा किए जाने की अनुमति जाती है तो यह कृत्य प्रथम दृष्टया ही मतदान को प्रभावित तथा दूषित करने का कृत्य के समक्ष होगा.

ये भी पढ़ें:  बिहारः हर घर में नल से जल का टार्गेट होगा इसी साल पूरा, 1.81 करोड़ परिवारों को होगा फायदा



रिटर्निंग अधिकारी के सामने रखी ये बातें
राठौड़ ने अपने पत्र में रिटर्निंग अधिकारी को चेताया है कि ऐसी घोर अवैधानिक और प्रजातांत्रिक मूल्यों के विपरीत प्रक्रिया को आपके द्वारा ना तो मंजूरी दी जानी चाहिए और ना ही आपको किसी ऐसे अवैध और अपवित्र व्यवस्था का भाग बनना चाहिए.अगर ऐसा कृत्य किए जाने की अनुमति दी जाती है तो संपूर्ण चुनाव प्रक्रिया दूषित हो जाएगी जिसकी जिम्मेदारी निर्वाचन आयोग की होग. इसके अलावा किसी निर्दलीय विधायक का ऐसा आचरण सुप्रीम कोर्ट द्वारा विभिन्न प्रकरणों को परिभाषित विधि के अनुसार दल बदल कानून की परिसीमा में भी आएगा. उन्होंने कहा कि यह उम्मीद करता हूं कि इस बाबत विधि द्वारा निर्धारित प्रक्रिया अपनाई जाएगी और किसी भी ऐसे कृत्य की अनुमति नहीं दी जाएगी जो कि प्रथम दृष्टया ही अवैध अपवित्र हो अथवा जनतांत्रिक मूल्यों के टकराव में हो.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading