Rajya Sabha Elections: कोविड-19 की गाइडलाइन के कड़े नियमों के बीच हो रहा मतदान, गिले शिकवे हुए दूर
Jaipur News in Hindi

Rajya Sabha Elections: कोविड-19 की गाइडलाइन के कड़े नियमों के बीच हो रहा मतदान, गिले शिकवे हुए दूर
सीएम अशोक गहलोत का टेम्परेचर चैक करते कर्मचारी.

राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Elections) के लिए हो रही वोटिंग में कांग्रेस और बीजेपी (Congress-BJP) के लगभग सभी बड़े नेताओं ने मतदान कर दिया है. दोपहर करीब 1 बजे तक 200 में से 188 विधायक वोट डाल चुके हैं. कांग्रेस के 10 विधायकों के वोट डाले जाने बाकी हैं.

  • Share this:
जयपुर. राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Elections) के लिए हो रही वोटिंग में कांग्रेस और बीजेपी (Congress-BJP) के लगभग सभी बड़े नेताओं ने मतदान कर दिया है. दोपहर करीब 1 बजे तक 200 में से 188 विधायक वोट डाल चुके हैं. कांग्रेस के 10 विधायकों के वोट डाले जाने बाकी हैं. मतदान का सिलसिला अभी जारी है. मतदान का समय शाम 4 बजे तक का है. मतदान के दौरान कोविड-19 (COVID) की गाइडलाइन का बेहद कड़ाई से पालन किया जा रहा है.

सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी की गई पालना
मतदान के दौरान सभी विधायक और मतदानकर्मी एक-एक नियम कायदे का पालन करते देखे गए. राज्यसभा चुनाव में मतदान के लिए होटल से लाए गए विधायकों की बसों को विधानसभा में सेनेटाइज करने के बाद ही एंट्री दी गई. कार से आने वाले विधायकों की कार को भी सेनेटाइज के बाद प्रवेश दिया गया. वहीं मतदान से पहले विधायकों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए गेट पर कांटेक्ट लैस पैडल हेंड सेनेटाइजर मशीनें लगाई गईं. विधानसभा के गेट पर विधायकों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई. सभी विधायक और मतदानकर्मी मास्क लगाए हुए रहे. मतदान करने के लिए सभी विधायक एवं मंत्री सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए उचित दूरी पर खड़े रहे.

Rajya Sabha Elections: BJP ने मतगणना से पहले ही डाले हथियार ! पार्टी प्रत्याशी ने कही ये बड़ी बात...
यह रोचक वाकया भी हुआ


मतदान के दौरान एक रोचक वाकया भी सामने आया. कोविड-19 के चलते बरती जा रही हैं विशेष सावधानियों के तहत सीएम अशोक गहलोत के हाथ सेनेटाइज करवाये गए. फिर विधानसभा की कर्मचारी ने गहलोत को सर्जिकल हेड कैप दिया. गहलोत सर्जिकल हैड कैप को हाथ में पहनने लगे तो कर्मचारी ने कहा सर हाथ में नहीं इसे सिर पर पहनिए.

Rajya Sabha Elections: आज होगा पॉलिटिकल ड्रामे का पटाक्षेप, खुलेगी विधायकों की बाड़ाबंदी

गिले शिकवे दूर हुए
मतदान से पहले मच रही उठापटक के बीच मंत्री रमेश मीणा की पार्टी से नाराजगी की खबरें सुर्खियां बन रही थी. वहीं आज मतदान करने आए मंत्री मीणा ने कहा कि पार्टी से उनकी कोई नाराजगी नहीं है. जो समस्याएं थीं उनसे पार्टी नेतृत्व को अवगत करवा दिया है. समस्याओं के समाधान का इंतजार है. उनकी मुख्यमंत्री से कोई चर्चा नहीं हुई है. राहुल गांधी तक उनकी बात पहुंच चुकी है. सब कुछ सही होने का आश्वासन मिला है. उन्होंने कहा कि उनके नेता राहुल गांधी हैं.

Rajya Sabha elections: 3 सीटों के लिए ये 4 दिग्गज नेता हैं मैदान में, यहां पढ़ें पूरी प्रोफाइल

बीटीपी ने कहा मुद्दों के आधार पर दिया कांग्रेस को समर्थन
दूसरी तरफ बीटीपी के दोनों विधायक राजकुमार रोत और रामप्रसाद ने कांग्रेस उम्मीदवार को अपना वोट दिया है. बीटीपी के दोनों विधायकों ने कहा कि आदिवासी इलाके के विकास से जुड़ी समस्याओं के समाधान की सीएम से मांग की थी. बकौल बीटीपी विधायक हमने मुद्दों के आधार पर कांग्रेस को राज्यसभा चुनाव में समर्थन दिया है. आदिवासी इलाके से जुड़ी विकास की मांगें पूरी करने पर आगे भी समर्थन जारी रहेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज