Home /News /rajasthan /

Rajasthan: 1 अक्टूबर से कर सकेंगे टाइगर के दीदार, पर्यटकों के लिये खुल जायेंगे रणथम्भौर और सरिस्का

Rajasthan: 1 अक्टूबर से कर सकेंगे टाइगर के दीदार, पर्यटकों के लिये खुल जायेंगे रणथम्भौर और सरिस्का

पीलीभीत. अंतर्राष्ट्रीय सेव टाईगर मुहिम (International Save Tiger Campaign) में उत्तर प्रदेश में पीलीभीत के टाइगर रिजर्व (Pilibhit Tiger Reserve) के बाघ मुस्कुरा रहे हैं. 13 देशों के बीच उत्कृष्ट मानते हुए पीलीभीत टाईगर रिजर्व को अंतर्राष्ट्रीय टीएक्स-2 अवार्ड (TX-2 Award) के खिताब से नवाजा गया है. यह पुरुस्कार बाघों की वंशवृद्धि मामले में तेजी से बढ़े आंकड़ों के आधार पर दिया गया है. महज 4 साल के भीतर पीलीभीत टाइगर रिजर्व में बाघों की संख्या 25 से बढ़कर 65 हो गई है. (सांकेतिक तस्वीर)

पीलीभीत. अंतर्राष्ट्रीय सेव टाईगर मुहिम (International Save Tiger Campaign) में उत्तर प्रदेश में पीलीभीत के टाइगर रिजर्व (Pilibhit Tiger Reserve) के बाघ मुस्कुरा रहे हैं. 13 देशों के बीच उत्कृष्ट मानते हुए पीलीभीत टाईगर रिजर्व को अंतर्राष्ट्रीय टीएक्स-2 अवार्ड (TX-2 Award) के खिताब से नवाजा गया है. यह पुरुस्कार बाघों की वंशवृद्धि मामले में तेजी से बढ़े आंकड़ों के आधार पर दिया गया है. महज 4 साल के भीतर पीलीभीत टाइगर रिजर्व में बाघों की संख्या 25 से बढ़कर 65 हो गई है. (सांकेतिक तस्वीर)

प्रदेश में लंबे समय से बंद पड़े रणथम्भौर और सरिस्का टाइगर रिजर्व (Ranthambore and Sariska Tiger Reserve) अब 1 अक्टूबर से पर्यटकों के लिये खुल जायेंगे. इसकी तैयारियां पूरी कर ली गई है.

जयपुर. पहले कोरोना महामारी (COVID-19) और बाद में बारिश के मौसम के चलते बंद पड़े प्रदेश के टाइगर रिजर्व (Tiger reserve) अब 1 अक्टूबर से पर्यटकों के लिये खोल दिये जायेंगे. महज 1 दिन के इंतजार के बाद वन्य जीव प्रेमी (Wildlife lover) टाइगर के दीदार कर सकेंगे. टाइगर रिजर्व खोलने की तैयारियां पूरी कर ली गई है. अब बस पर्यटकों का इंतजार है. टाइगर रिजर्व बंद रहने से नेचर गाइड्स को काफी नुकसान उठाना पड़ा है.

ट्रेक को भी सुधारा जा चुका है
जानकारी के अनुसार कोरोना महामारी के बीच अनलॉक-4 के दौर में 1 अक्टूबर से प्रदेश के रणथम्भौर टाइगर रिजर्व और सरिस्का टाइगर रिजर्व को पर्यटकों के लिये खोल दिया जायेगा. इन पार्कों में बफर जोन के अलावा मुख्य जोन भी खुलेंगे. इसके लिये रणथंभौर और सरिस्का रिजर्व में ट्रेक को भी सुधारा जा चुका है. इससे पर्यटन के लिए जंगल के रास्ते सुगम हो गये हैं. रणथंभौर में जोन 1 से जोन 5 में सुधार कार्य किया गया है. वहीं सरिस्का में कोर क्षेत्र में ट्रेक सुधार का काम जारी है. ये पार्क पहले कोरोना की वजह से बंद थे. उसके बाद मानसून में तीन महीने जंगल बंद रहा. इस दौरान नेचर गाइड्स पर रोजगार का काफी बड़ा संकट छाया रहा. गाइड्स अब नये सीजन में अच्छे पर्यटन की उम्मीदें लगाये बैठे हैं.

Barmer: एम्बुलेंस में रास्ते में ही खत्म हो गई ऑक्सीजन, पीड़ित युवती की मौत

1 अक्टूबर से वन्यजीव सप्ताह भी मनायेगा जायेगा
वहीं वन विभाग 1 अक्टूबर से वन्यजीव सप्ताह भी मनायेगा. इसके तहत प्रदेशभर में जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे. कोरोना संक्रमण को देखते हुये इस बार ऑनलाइन कार्यक्रमों पर ज्यादा फोकस रहेगा ताकि भीड़ एकत्र न हो और जागरुकता ज्यादा आए. राजधानी जयपुर के नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में भी जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे. नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में आयोजित होने वाले जागरुकता कार्यक्रम में ऑन लाइन पार्टिसिपेशन करने के लिये लिंक भी जारी किया गया है.

Tags: Ranthambore tiger reserve, Tiger

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर