RBSE 12th RESULTS: बारहवीं साइंस के नतीजों से पहले पढ़ें करियर के खास विकल्प

sambrat chaturvedi | News18Hindi
Updated: May 14, 2019, 9:00 AM IST
RBSE 12th RESULTS: बारहवीं साइंस के नतीजों से पहले पढ़ें करियर के खास विकल्प
साइंस स्ट्रीम से बारहवीं परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले स्टूडेंट्स की बात.

कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं परीक्षा पास करने वालों के लिए बेहतर कॅरियर ऑप्शन के बाद आज हम बात कर रहे हैं, साइंस स्ट्रीम से बारहवीं परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले स्टूडेंट्स की.

  • Share this:
राजस्थान बोर्ड के 12वीं साइंस के नतीजे इसी सप्ताह आने की संभावना है. बोर्ड सूत्रों के अनुसार रिजल्ट लगभग तैयार हो चुका है और गुरुवार के बाद कभी भी जारी कर दिया जाएगा. ऐसे में बारहवीं बोर्ड परीक्षा देने वाले या अब स्कूल से कॉलेज में प्रवेश पाने वाले स्टूडेंट्स के बीच अपने भविष्य और करियर के बेहतर ऑप्शन को लेकर चर्चाएं और भी गंभीर होने लगी हैं. कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं परीक्षा पास करने वालों के लिए बेहतर कॅरियर ऑप्शन के बाद आज हम बात कर रहे हैं, साइंस स्ट्रीम से बारहवीं परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले स्टूडेंट्स की.

राजस्थान बोर्ड में भी साइंस स्ट्रीम में पढ़ाई पीसीबी (Physics, Chemistry, Biology) और पीसीएम (Physics, Chemistry and Mathematics) दो ग्रुप्स में ही कराई जाती है. साथ ही साइंस स्ट्रीम में पीसीएमबी, बायोटेक्नोलॉजी या कंप्यूटर्स जैसे सब्जेक्ट्स के चयन से स्कूलिंग के बाद कॅरियर के विकल्प भी बढ़ गए हैं. हम यहां बता रहे हैं कि साइंस स्ट्रीम के स्टूडेंट के पास बारहवीं परीक्षा पास करने के बाद मुख्य रूप से कौन-कौन से विकल्प उपलब्ध हैं...


राजस्थान बोर्ड रिजल्ट 2019

राजस्थान बोर्ड रिजल्ट 2019



एकेडमिक्स: बीएससी (बैचलर ऑफ साइंस) या ग्रेजुएशन कोर्स (B.sc.)

स्टूडेंट अपनी रुचि के अनुरूप यदि पारम्परिक अंडर ग्रेजुएट कोर्स करना चाहते हैं तो उनके लिए बीएससी पहला विकल्प है. इसमें स्टूडेंट्स के पास पीसीएम या जेडबीसी((Zoology,Botany and Chemistry) ग्रुप से बीएससी करने का ऑप्शन है. साथ ही जो स्टूडेंट कन्वेंशनल से कुछ हट कर कॅरियर ऑप्शन चुनना चाहते हैं वे स्पेशलाइज्ड ब्रांच भी चुन सकते हैं.

साइंस स्टूडेंट्स बीच लोकप्रिय विषय

साइंस स्टूडेंट्स के बीच अंडर ग्रेजुएट कोर्स में कुछ विषय खासे लोकप्रिय हैं. इनमें एग्रीकल्चर, बायोटेक्नोलॉजी, कंप्यूटर साइंस, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बॉटनी, जूलॉजी, मैथ्स, फॉरेंसिक साइंस और बायोकेमिस्ट्री शामिल हैं.

जेईई मेन्स और नीट एग्जाम
Loading...

साइंस स्ट्रीम चुनने के पीछे जिन स्टूडेंट का सपना डॉक्टर या इंजीनियर बनना रहा है उनके लिए दो महत्वपूर्ण परीक्षाएं होती हैं. जेईई मेन्स और नीट एग्जाम. डॉक्टर बनने के लिए नीट एग्जाम देना होगा और इंजीनियरिंग के लिए जेईई मेन्स की तैयारी करनी चाहिए.

इन प्रोफेशनल कोर्सेज की डिमांड
डॉक्टर और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के अलावा जो अन्य प्रोफेशनल कोर्सेज को भी खूब पसंद किया जाता है. पैरामेडिकल कोर्सेज के साथ कंप्यूटर एप्लिकेशन्स या कम्प्यूटर साइंस भी कॅरियर के बेहतर विकल्पों में शामिल हैं.

टॉप-5 कॅरियर ऑप्शन
इंजीनियरिंग: स्कूलिंग के बाद कॉलेज या आगे की पढ़ाई के रूप में साइंस स्टूडेंट्स के बीच सबसे ज्यादा पॉपुलर कोर्स इंजीनियरिंग ही है. फीजिक्स,केमेस्ट्री तथा मैथ्स विषय के साथ बारहवीं परीक्षा पास करने वाले इंजीनियरिंग में दाखिला ले सकते हैं. इसके लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) के जरिए देश के शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन मिल सकता है.
एमबीबीएस: साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए दूसरा सबसे पसंदीदा विकल्प मेडिकल या मेडिसिन सेक्टर है. मेडिकल यानी डॉक्टर बनने की राह. मेडिकल स्ट्रीम उन लोगों के लिए ही बनी है जिनका सपना डॉक्टर बनना रहा है. इसके लिए नीट एक्जाम फाइट करना होगा.
बीडीएस: बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी यानी बीडीएस (BDS Course) कोर्स दंत चिकित्सा का स्नातक पाठ्यक्रम है. इस कोर्स के जरिए आप दांतों के डॉक्टर बन सकते हैं.
बी फार्मा: बैचलर ऑफ फार्मेसी को ही बी.फार्मा कहा जाता है. बी.फार्मेसी अंडर ग्रेजुएट डिग्री होती है. इसके जरिए स्टूडेंट दवाईयों से जुड़े कॅरियर को चुन सकते हैं.
बीएचएमएस: बीएचएमएस कोर्स यानी होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी का बैचलर. ये भी मेडिकल सेक्टर में स्नातक की डिग्री प्रोग्राम है.

ये भी पढ़ें- RBSE 10th Result 2019: Topper's List जारी नहीं करता राजस्थान बोर्ड, जानिए क्यों

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अजमेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 13, 2019, 9:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...