Rajasthan: फरवरी में हो सकती है REET परीक्षा, 31 हजार शिक्षकों की होनी है भर्ती

शिक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि नवंबर में ही भर्ती को लेकर विज्ञप्ति जारी किये जाने की संभावना है.
शिक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि नवंबर में ही भर्ती को लेकर विज्ञप्ति जारी किये जाने की संभावना है.

REET Exams: शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) ने संकेत दिये हैं कि रीट परीक्षा संभवतया आगामी वर्ष में फरवरी माह में आयोजित करवाई जा सकती है.

  • Share this:
जयपुर. थर्ड ग्रेड शिक्षक भर्ती का इंतजार कर रहे बेरोजगार अभ्यर्थियों (Unemployed candidates) के लिए राहत की खबर है. इसके लिये रीट की परीक्षा (REET exams) फरवरी माह में होने की संभावना है. शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) ने फरवरी में रीट परीक्षा करवाये जाने के संकेत दिए हैं. शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि रीट को लेकर छोटे-मोटे संशोधन की प्रक्रिया चल रही है. इस महीने अंत तक इन संशोधनों को अंतिम रूप दे दिया जाएगा.

उसके बाद उसे नवंबर में नोडल एजेंसी माध्यमिक शिक्षा बोर्ड को भेजी दिया जाएगा. नवंबर में ही भर्ती को लेकर विज्ञप्ति जारी किये जाने की संभावना है. इसके बाद 3 माह समय लगता है. सीएम अशोक गहलोत ने हाल ही 31 हजार थर्ड ग्रेड शिक्षकों के पदों का गठन कर भर्ती को मंजूरी दी थी. अब रीट की तैयारियां शुरू होने से 31 हजार पदों पर भर्ती का रास्ता साफ हो गया है.

राजस्थान: पुजारी हत्याकांड में नया मोड़, पेट्रोल खरीदने का वीडियो और फोटो आया सामने




सबसे ज्यादा भर्तियां निकलती है शिक्षा विभाग में
उल्लेखनीय है कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां कर रहे अभ्यर्थियों में सबसे ज्यादा तादाद शिक्षक भर्ती में शामिल होने वालों की है. शिक्षा विभाग ही एक ऐसा विभाग है जहां बल्क में शिक्षकों की भर्तियां होती है. प्रदेशभर के लाखों अभ्यर्थी इसी परीक्षा की तैयारियों में जुटे रहते हैं. शिक्षा विभाग में बतौर शिक्षक भर्ती होने के लिये प्रदेश में प्रतिवर्ष हजारों स्टूडेंट्स बीएड करते हैं. लेकिन जितनी संख्या में स्टूटेंड्स बीएड करते हैं उसके मुकाबले बेहद कम भर्तियां निकल पाती हैं.

VIDEO: अचानक थाने में घुसा खतरनाक जहरीला कोबरा, पुलिसवालों के छूटे पसीने

पैरा मेडिकल स्टाफ के लिये प्रतिवर्ष लाखों अभ्यर्थी करते हैं तैयारी
शिक्षा विभाग के बाद दूसरे नंबर पर मेडिकल विभाग आता है. मेडिकल विभाग में भी पैरा मेडिकल स्टाफ के लिये प्रतिवर्ष लाखों अभ्यर्थी तैयारियां करते हैं. इस विभाग में भी बल्क में पैरा मेडिकल स्टाफ की भर्ती निकाली जाती है. लेकिन इसका हाल भी शिक्षा विभाग जैसा ही है. इस विभाग में भी निकलने वाली भर्तियां भी ऊंट के मुंह में जीरे के समान होती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज