Home /News /rajasthan /

REET लीक्स में बड़ा एक्शन, RSEB अध्यक्ष डीपी जारोली बर्खास्त, जल्द गिरफ्तारी संभव

REET लीक्स में बड़ा एक्शन, RSEB अध्यक्ष डीपी जारोली बर्खास्त, जल्द गिरफ्तारी संभव

Rajasthan REET Paper Leak Case Latest News: रीट (REET Exam) पेपर लीक मामले में राजस्थान की गहलोत सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डीपी जारोली को बर्खास्त (RBSE chairman DP Jaroli Suspend) कर दिया है. सरकार का कहना है कि रीट परीक्षा की जांच में लिप्त पाए जाने वाले कर्मियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया जाएगा. इसके साथ ही हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला किया है जो भविष्य में होने वाली परीक्षाओं में गड़बड़ी को रोकने की दिशा में काम करेगी.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. REET पेपर लीक (REET Exam) मामले में राजस्थान सरकार (Ashok Gehlot) ने बड़ी कार्रवाई की है. मुख्यमंत्री अशोक गहल की अध्यक्षता में बनी हाई पावर कमेटी ने बैठक के बाद राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डीपी जारोली को बर्खास्त करने का फैसला लिया. इस अहम बैठक में मुख्यमंत्री के अलावा एसीएस होम, DGP, शिक्षा मंत्री डॉक्टर BD कल्ला, SOG के हेड अशोक राठौड़ मौजूद रहे. मीटिंग में दो और महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं. अब रीट परीक्षा की जांच में लिप्त पाए जाने वाले कर्मियों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया जाएगा. जांच में आरोप साबित होने पर बर्खास्त कर दिए जाएंगे.  इसके साथ ही सरकार ने हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला किया है. यह कमेटी भविष्य में होने वाली परीक्षाओं में गड़बड़ी को रोकने की दिशा में काम करेगी.

राजस्थान में रीट परीक्षा को लेकर शुरू हुआ बवाल थमता दिखाई नहीं दे रहा है. एसओजी द्वारा माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से परीक्षा से जुड़ा रिकॉर्ड जब्त किया गया है. जबकि मामले में सामने आए उदयराम विश्नोई और रामकृपाल मीणा को सात दिन के रिमांड पर ले लिया गया है. परीक्षार्थियों के साथ-साथ विपक्ष इस मुद्दे को जोर-शोर से उठा रहा है. कई बेरोजगार अभ्यर्थी इस परीक्षा को रद्द कर दोबारा कराना चाहते हैं.

शिक्षा मंत्री का बड़ा दावा

शिक्षा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने दावा किया है कि REET परीक्षा में किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं हुई है, इसलिए इसकी CBI जांच नहीं करवाई जाएगी. उनका कहना है कि परीक्षा में नकल करने का प्रयास जरूर हुआ था, लेकिन पुलिस ने समय पर सभी प्रयासों को विफल कर दिया था. SOG बहुत अच्छे से काम कर रही है. इधर, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया का कहना है कि रीट परीक्षा के दौरान ने एक सेंटर से पेपर लीक का मामला सामने आया था।. लेकिन पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने जांच शुरू की तो एक बाद एक मास्टमाइंड इस पपेरलीक के मामले आते गए. अब तक 35 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. लेकिन सबसे बड़ा खुलासा एसओजी ने बुधवार शाम को किया जब पेपरलीक के मास्टमाइंड कृपाराम मीणा और उदाराम विश्वनोई को गिरफ्तार किया. एसओजी का दावा है कि कृपाराम ने जयपुर में शिक्षा विभाग के दफ्तर शिक्षा संकुल के स्ट्रोंग रूम से पेपर चुराया औऱ एक करोड़ 32 लाख में उदाराम विश्नोई को बेचा.फिर उदाराम आगे से आगे चैन में यह पेपर बेचता गया. अब आंशका है कि कई सेंटरों पर यह पेपर बिका. इस बीच राजस्थान सरकार इस परीक्षा का परिणाम घोषित कर चुकी है, लेकिन परीक्षार्थी पेपर लीक मानते हुए परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर सिंतबर से ही आंदोलन कर रहे हैं.

विपक्ष ने की भर्ती रद्द करने की मांग

दूसरी तरफ इस मामले में विपक्ष अभी भी भर्ती को रद्द करने और मामले की सीबीआई से जांच करवाने की मांग कर रहा है. पूर्व शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि इस मामले में पेपर लीक स्पष्ट हो चुका है. बावजूद इसके सरकार इसे स्वीकार नहीं कर रही है. इस परीक्षा में जो भी सरकारी अधिकारी कर्मचारी लिप्त हैं उन्हें बचाने के बजाय उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए. परीक्षाओं में पेपर लीक जैसे कृत्य सरकार को बर्दाश्त नहीं करने चाहिए. देवनानी का कहना है कि एसओजी पर राज्य सरकार का दबाव होता है. ऐसे में केन्द्रीय एजेंसी से जांच होनी चाहिए ताकि निष्पक्ष जांच कराई जा सके.

Tags: Jaipur news, Rajasthan news, REET exam

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर