लाइव टीवी

स्थानीय निकाय प्रमुखों की आरक्षण लॉटरी, समता आंदोलन समिति ने हाई कोर्ट में दी चुनौती

Sachin Kumar | News18 Rajasthan
Updated: October 22, 2019, 1:24 PM IST
स्थानीय निकाय प्रमुखों की आरक्षण लॉटरी, समता आंदोलन समिति ने हाई कोर्ट में दी चुनौती
समता आंदोलन समिति का तर्क है कि केन्द्र सरकार ने ओबीसी आयोग बनाया है. इसके तहत केवल वही जाति ओबीसी में शामिल होगी, जिसे राष्ट्रपति द्वारा अधिसूचित किया जाएगा.

स्थानीय निकाय प्रमुखों (Heads of Local Bodies) के लिए हाल ही में निकाली गई आरक्षण लॉटरी (Reservation lottery) प्रक्रिया को समता आंदोलन समिति (Samta movement committee) ने हाई कोर्ट (High Court) में चुनौती (Challenge) दी है.

  • Share this:
जयपुर. स्थानीय निकाय प्रमुखों (Heads of Local Bodies) के लिए हाल ही में निकाली गई आरक्षण लॉटरी (Reservation lottery) प्रक्रिया को समता आंदोलन समिति (Samta movement committee) ने हाई कोर्ट (High Court) में चुनौती (Challenge) दी है. समता आंदोलन समिति की तरफ से दायर याचिका (Petition) पर हाई कोर्ट ने मुख्य सचिव (Chief Secretary) और अन्य जवाब मांगा है. हाई कोर्ट ने 7 नवंबर तक जवाब पेश करने के आदेश (Order) दिए हैं.

ये तर्क हैं समता आंदोलन समिति के
दायर याचिका में समता आंदोलन समिति का तर्क है कि केन्द्र सरकार ने ओबीसी आयोग बनाया है. इसके तहत केवल वही जाति ओबीसी में शामिल होगी, जिसे राष्ट्रपति द्वारा अधिसूचित किया जाएगा. समिति का कहना है कि अभी तक राष्ट्रपति ने किसी भी जाति को अधिसूचित नहीं किया है. ऐसे में लॉटरी प्रक्रिया में ओबीसी के लिए सीट रिजर्व नहीं हो सकती. इस पर हाई कोर्ट ने मुख्य सचिव व अन्य को आगामी 7 नवंबर तक जवाब पेश करने को कहा है.

196 में से 39 सीटें अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित हुई हैं

उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले रविवार को ही राज्य सरकार ने प्रदेश के 196 नगरीय निकायों के प्रमुखों की लिए जयपुर में लॉटरी निकाली थी. आरक्षण लॉटरी में 30 सीटें अनुसूचित जाति और 6 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए रिजर्व रखी गई हैं. इनके अलावा 39 सीटें अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के लिए आरक्षित की गई हैं. शेष 121 सीटें सामान्य श्रेणी के लिए हैं. सामान्य श्रेणी के निकाय प्रमुखों में से 41 सामान्य महिलाओं के लिए रिजर्व हुई हैं. वहीं ओबीसी की 39 में से 13, एससी की 30 में 9 और एसटी के 6 निकाय प्रमुखों में से 2 पद इन श्रेणियों की महिलाओं के आरक्षित किए गए हैं.

OBC वर्ग के लिए संभागवार ये निकाय हुए हैं आरक्षित
जयपुर संभाग- शाहपुरा, खैरथल, फतेहपुर शेखावाटी, रींगस, मंडावा, उदयपुरवाटी, थानागाजी (पुरुष), जयपुर हैरिटेज, जयपुर ग्रेटर, महवा (महिला)
Loading...

अजमेर संभाग- केकड़ी, टोडारायसिंह, परबतसर, शाहपुरा, गंगापुर (पुरुष), विजयनगर, मालपुरा (महिला)
बीकानेर संभाग- छापर, गजसिंहपुर, श्रीविजयनगर, पीलीबंगा (पुरुष), चुरू, सादुलशहर (महिला)
उदयपुर संभाग- उदयपुर, राजसमंद, आमेट (पुरुष), प्रतापगढ़, कपासन (महिला)
जोधपुर संभाग- बाड़मेर, आबूरोड और पाली (पुरुष), पीपाड़सिटी, पाली (महिला)
कोटा संभाग- नैनवां, मांगरोल और पिड़ावा (पुरुष), ईटावा (महिला).
भरतपुर संभाग- डीग (पुरुष), नदबई (महिला)

शहरी सरकारों में महिलाओं का होगा राज, 10 नगर निगमों में से 7 में महापौर बनेंगी

निकाय प्रमुख लॉटरी: यहां देखें प्रदेश में किस वर्ग के लिए कौनसी सीट हुई रिजर्व

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 1:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...