लाइव टीवी

शिक्षकों के तबादलों पर बवाल, बारां में छात्राओं ने हाई-वे और चूरू में बाजार में लगाया जाम
Churu News in Hindi

News18 Rajasthan
Updated: October 3, 2019, 4:12 PM IST
शिक्षकों के तबादलों पर बवाल, बारां में छात्राओं ने हाई-वे और चूरू में बाजार में लगाया जाम
चूरू में छात्राओं ने मुख्य बाजार की सुभाष चौक रोड़ पर जाम लगा दिया.फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

चार दिन पहले बड़ी संख्या में हुए अध्यापकों के तबादलों (Transfer of teachers) को लेकर प्रदेशभर में बवाल (Ruckus) मचा हुआ है. अध्यापकों के तबादलों के चलते जगह-जगह स्कूलों में तालाबंदी (Lockout in schools) हो रही है. हाई-वे और रास्ते जाम (High-way jam) किए जा रहे हैं.

  • Share this:
जयपुर. चार दिन पहले बड़ी संख्या में हुए अध्यापकों के तबादलों (Transfer of teachers) को लेकर प्रदेशभर में बवाल (Ruckus) मचा हुआ है. अध्यापकों के तबादलों के चलते जगह-जगह स्कूलों में तालाबंदी (Lockout in schools) हो रही है. हाई-वे और रास्ते जाम (High-way jam) किए जा रहे हैं. विद्यार्थियों के धरने-प्रदर्शनों (Demonstrations) का दौर चल रहा है. बारां जिले में दर्जनभर स्कूलों में अध्यापक और प्रधानाध्यापक के स्थानांतरण के बाद स्कूली छात्र-छात्राएं आंदोलन (Student movement)  की राह पर हैं.

कवाई में भड़की छात्राएं
बारां के बड़ा सेमली और बड़वा के स्कूलों के विद्यार्थी बीते चार दिनों से आंदोलन कर रहे हैं. वहीं गुरुवार को कवाई स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय की अध्यापिका के स्थानांतरण के बाद छात्राओं का गुस्सा फूट पड़ा उन्होंने नेशनल हाईवे नंबर-90 पर जाम लगा दिया. जबकि चूरू में प्रिंसिपल के तबादले से गुस्साई छात्राओं ने बाजार में जाम लगा दिया.

शिक्षकों के तबादलों पर जारी है बवाल, बारां में छात्राओं ने हाई-वे और चूरू में बाजार में लगाया जाम Ruckus continues on teachers' transfers-Girls students jammed high-way in the Baran and market in Churu
बारां में छात्राएं सुबह 10 बजे ही हाई-वे पर जाम लगाकर बैठ गईं. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।




बारां में हाईवे नंबर-90 पर पर बैठी छात्राएं
बारां के अटरू उपखंड के कवाई कस्बे में राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विधालय की बालिकाओं की ओर से लगाए गए जाम के कारण कवाई चौराहे के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई. छात्राओं का कहना है कि विद्यालय में पहले से ही अंग्रेजी के अध्यापक का पद रिक्त चल रहा है. गृहविज्ञान की व्याख्याता मेटरनिटी लीव पर है. इससे पढ़ाई काफी बाधित हो रही है. अब संस्कृत की अध्यापिका का भी स्थानांतरण हो गया. इससे आहत होकर छात्राएं सुबह 10 बजे ही हाई-वे पर जाम लगाकर बैठ गईं. छात्राएं राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रही हैं. तहसीलदार सियाराम मीणा और थानाधिकारी रामहेतार्थ पार्थ उनसे समझाइश में जुटे हैं, लेकिन छात्राएं अपनी मांग पर अड़ी हुई हैं.

चूरू में छात्राओं ने बाजार में लगाया जाम
वहीं चूरू जिला मुख्यालय के राजकीय बागला बालिका स्कूल की प्रिंसिपल के तबादले पर छात्राओं का आक्रोश फूट पड़ा. गुरुवार को स्कूल खुलते अभिभावक और छात्राओं ने स्कूल के ताला जड़ दिया और जमकर नारेबाजी करते हुए अपना आक्रोश जताया. छात्राओं ने प्रिंसिपल विजयलक्ष्मी शेखावत का तबादला निरस्त कराने की मांग को लेकर मुख्य बाजार की सुभाष चौक रोड पर जाम लगा दिया.

छात्राओं ने बाजार में जमकर की नारेबाजी
करीब एक घंटे तक लगे जाम से वाहनों की लम्बी कतारें लग गईं, लेकिन छात्राएं वहां नारेबाजी करती रही. इन छात्राओं का कहना था कि उनकी प्रिंसिपल का तबादला बेवजह किया गया है, जबकि उनके स्कूल में आने से स्कूल लगातार प्रगति कर रहा था. चूरू जिले में 50 प्रधानाचार्यों के तबादले हुए हैं.

(रिपोर्ट: विपिन तिवारी एवं मनोज कुमार शर्मा)

यहां आई तबादलों की बाढ़, एक ही रात में बदल डाले करीब 8 हजार शिक्षक

आवासन मंडल के मकानों की नीलामी शुरू, 25 से 50% तक डिस्काउंट, ये है प्लान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चूरू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 3, 2019, 4:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर