Jaipur: दूध बेचने को लेकर डेयरियों में मचा घमासान, मसले के समाधान में RCDF हुआ फेल

आरसीडीएफ के अधिकारियों ने मसले को 15 दिन में सुलझाने का आश्वासन दिया था जो धरा रह गया है.
आरसीडीएफ के अधिकारियों ने मसले को 15 दिन में सुलझाने का आश्वासन दिया था जो धरा रह गया है.

राजधानी जयपुर (Jaipur) में दूध बेचने के मुद्दे पर घमासान मचा हुआ है. बताया यह भी जा रहा है कि इस घमासान में नकली दूध उपभोक्ताओं को थमाकर उनके स्वास्थ्य (Health) के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश की सहकारी डेयरियों (Co-operative dairies) में दूध बेचने को लेकर घमासान मचा हुआ है. एक-दूसरे के क्षेत्र में अनधिकृत रूप से घुसकर दूध बेचने (Milk selling) की कवायदें हो रहीं हैं. पिछले कई महीनों से मामला गरमाया हुआ है, लेकिन शीर्ष संस्था आरसीडीएफ अभी तक मसले का निराकरण (Solution) नहीं कर पाई है. जयपुर-दौसा क्षेत्र में दूध आपूर्ति की जिम्मेदारी जयपुर डेयरी की है, लेकिन यहां सस्ते दामों पर भीलवाड़ा डेयरी लिखे पैक में दूध बेचा जा रहा है.

पिछले दिनों इस मसले को लेकर जयपुर डेयरी में दूध वितरक हड़ताल और एक वक्त की दूध आपूर्ति भी ठप कर चुके हैं. उस वक़्त आश्वासन के ठंडे छींटे देकर मामले को शांत करवा दिया गया, लेकिन अब कार्रवाई नही नहीं होने से मामला एक बार फिर से भड़कने की आशंका जताई जा रही है. उधर डेयरियों का यह आपसी विवाद अब थाने तक पहुंच गया है. जयपुर डेयरी के एमडी ए के गुप्ता ने मुहाना थाने में शिकायत देकर बाहर से आकर दूध बेचने वालों पर कार्रवाई की मांग की है.

राजस्थान पंचायत चुनाव: कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन, 2 सरपंच प्रत्याशियों समेत कई लोगों पर FIR, रसोड़ा चला रहे थे



जयपुर में बिक रहा है नकली दूध ?
एक-दूसरे के क्षेत्राधिकार में जाकर दूध बेचने का मसला सहकारी डेयरियों का आपसी विवाद हो सकता है लेकिन यहां उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य पर भी बड़ा खतरा मंडरा रहा है. दरअसल जिन दूसरी डेयरियों के नाम से जो दूध बिक रहा है उसके नकली होने की आशंका जताई जा रही है. खुद जयपुर डेयरी के एमडी ही इस दूध को नकली बता रहे हैं. मुहाना थाने में एमडी ए के गुप्ता द्वारा जो शिकायत दी गई है उसमें इस दूध को नकली बताते हुए इसे रोकने की मांग की गई है.

भीलवाड़ा डेयरी के नाम से सरस का दूध पैक कर बेचा जा रहा है
शिकायत में कहा गया है कि कुछ व्यक्तियों द्वारा अन्य सरस दुग्ध संघों के नाम से यथा भीलवाड़ा डेयरी के नाम से सरस का दूध पैक कर बेचा जा रहा है जो नकली प्रतीत होता है. नकली दूध का वितरण ग्राहकों को भ्रमित करने वाला है तथा स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करता है. शिकायत में तेजाराम गुर्जर नाम के व्यक्ति को नामजद किया गया है. अगर जयपुर डेयरी एमडी की आशंका सही है तो सरस दूध के उपभोक्ताओं की सेहत पर बड़ा खतरा मंडरा रहा है.

Rajasthan: RAS महेन्द्र प्रताप सिंह से मिलेंगे तो जीतना सीख जाएंगे

मसले को 15 दिन में सुलझाने का आश्वासन धरा रह गया
सहकारी डेयरियों के इस विवाद को निपटाने में शीर्ष संस्था RCDF फेल नजर आ रही है. जयपुर डेयरी काफी पहले इस मसले को RCDF के सामने उठा चुकी है लेकिन नतीजा अभी तक सिफर है. वहीं पिछली 9 सितम्बर को दूध वितरकों के साथ हुई वार्ता में आरसीडीएफ के अधिकारियों ने मसले को 15 दिन में सुलझाने का आश्वासन दिया था जो धरा रह गया है.

आर्थिक खामियाजा भी उठाना पड़ रहा है
अब वितरक आक्रोशित हुए तो उपभोक्ताओं को फिर से दूध का संकट झेलना पड़ सकता है. वितरकों की नाराजगी इसलिए है कि दूसरे जिलों का दूध आने से उनके टारगेट पूरे नहीं हो रहे हैं. वहीं जयपुर डेयरी को भी इसका आर्थिक खामियाजा उठाना पड़ रहा है. अनुमान के मुताबिक जयपुर डेयरी के करीब 40 हजार लीटर दूध की बिक्री प्रतिदिन कम हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज