अपना शहर चुनें

States

किसानों को खालिस्तानी कहने के सांसद जसकौर मीणा के बयान पर मचा बवाल, कांग्रेस ने खोला बीजेपी के खिलाफ मोर्चा

पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने आरोप लगाया कि बीजेपी का विजन केवल राज करना है और एक बार चुन लिए जाने के बाद किसी की भी नहीं सुनना उसकी की रीति है.
पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने आरोप लगाया कि बीजेपी का विजन केवल राज करना है और एक बार चुन लिए जाने के बाद किसी की भी नहीं सुनना उसकी की रीति है.

किसान आंदोलन (Kisaan aandolan) को लेकर बीजेपी सांसद जसकौर मीणा (Jaskaur Meena) की ओर से दिये गये बयान के बाद प्रदेश में बवाल मचा हुआ है. कांग्रेस (Congress) ने मीणा के बयान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

  • Share this:
जयपुर. किसान आन्दोलन (Kisaan aandolan) को लेकर दिए गए दौसा सांसद जसकौर मीणा (Jaskaur Meena) के बयान पर बवाल मच गया है. जसकौर मीणा ने किसान आन्दोलन में खालिस्तानी (Khalistani) होने की बात कही थी. उस पर कांग्रेस की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आई है. जसकौर के बयान पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा है कि किसानों के प्रति ऐसी संकीर्ण सोच बीजेपी ही रख सकती है. किसानों के विरोधी और अंग्रेजों के पक्षधर रहे लोग इससे ज्यादा कुछ कह भी नहीं सकते. डोटासरा ने कहा कि सेना के शौर्य के पीछे छिपकर भाजपाईयों ने चुनाव जीता लेकिन अब जनता इन्हें सबक सिखाने का इंतजार कर रही है. उन्होंने केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह पर भी तंज कसते हुए कहा कि वो सत्ता के लालच और मोदी के डर से अपना साल 2013 में दिया गया बयान भूल गए हैं जब उन्होंने कहा था कि हम सब किसानों के साथ हैं. डोटासरा ने पूछा कि आखिर अब राजनाथ सिंह की कथनी और करनी में इतना अंतर कैसे आ गया.





प्रदेशवासियों को हो रही शर्मिन्दगी
पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने आरोप लगाया कि बीजेपी का विजन केवल राज करना है और एक बार चुन लिए जाने के बाद किसी की भी नहीं सुनना उसकी की रीति है. उन्होंने कहा कि किसानों के प्रति जसकौर मीणा की ऐसी घटिया सोच को लेकर अब प्रदेश के लोगों को शर्मिन्दगी हो रही है कि उन्होंने ऐसे लोगों को एमपी और एमएलए बना दिया. डोटासरा ने कहा कि अंग्रेजों की मुखबिरी करने वाले लोग इससे ज्यादा कुछ कह भी नहीं सकते. इतिहास इन लोगों को कभी माफ नहीं करेगा और जनता भी इस बात की इंतजार कर रही है कि कब इन्हें सबक सिखाया जाए. डोटासरा ने यह भी कहा कि कांग्रेस राहुल गांधी के नेतृत्व में किसानों के साथ है और काले कानून वापस नहीं लिए जाने तक संघर्ष जारी रहेगा.

महेश जोशी ने भी साधा निशाना
मुख्य सचेतक महेश जोशी ने भी जसकौर मीणा और बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी नेता किसानों को बदनाम कर रहे हैं और इसके लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि इससे ज्यादा सद्भावनापूर्ण आन्दोलन नहीं हो सकता. जो लोग किसानों को बदनाम कर रहे हैं उन्हें शर्म आनी चाहिए. मुख्य सचेतक ने कहा कि जिस दिन देश का किसान बदनाम हो गया उस दिन देश ही नहीं बचेगा. उन्होंने कहा कि होना तो यह चाहिए था कि किसानों की बात सुनी जाती लेकिन यहां तो उल्टा उन्हें बदनाम करने की साजिशें हो रही हैं. जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रति इस तरह का अविश्वास पहले कभी नहीं रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज