राजस्थान: पायलट ने फिर सिरे से खारिज की बीजेपी में जाने की अटकलें, जानिये क्या किया पलटवार ?

पायलट ने रीता बहुगुणा के बयान पर पलटवार करते हुये साफ तौर पर कहा कि शायद वे किसी और सचिन के बारे में बात कर रही होंगी. पायलट ने कहा वे शायद सचिन तेंदुलकर के बारे में बात कर रही होंगी.

पायलट ने रीता बहुगुणा के बयान पर पलटवार करते हुये साफ तौर पर कहा कि शायद वे किसी और सचिन के बारे में बात कर रही होंगी. पायलट ने कहा वे शायद सचिन तेंदुलकर के बारे में बात कर रही होंगी.

Big statement of Sachin Pilot: राजस्थान में सियासी संकट की आहट के बीच पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने एक बार फिर से बीजेपी (BJP) में जाने की अटकलों को सिरे से खारिज करते हुये जबर्दस्त पलटवार किया है.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में सियासी संकट की आहट के बीच पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने बीजेपी में जाने के अटकलों और दावों को पूरी तरह से खारिज कर दिया है. पायलट ने बीजेपी नेता रीता बहुगुणा (Rita Bahuguna) के उस बयान को भी पूरी तरह से सिरे से खारिज किया जिसमें उन्होंने कहा था वे जल्द ही बीजेपी का हिस्सा हो सकते हैं. पायलट ने साफ तौर पर कहा कि शायद वे किसी और सचिन के बारे में बात कर रही होंगी. पायलट ने कहा वे शायद सचिन तेंदुलकर के बारे में बात कर रही होंगी. उनकी मेरी से बात करने की हिम्मत नहीं है.

शुक्रवार को कांग्रेस की ओर से पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों और महंगाई को लेकर किये गये विरोध प्रदर्शन में पायलट केंद्र सरकार पर पूरी तरह से हमलावर रहे. पायलट जयपुर में सांगानेर स्थित पेट्रोल पंप पर किये विरोध प्रदर्शन में शामिल हुये. इस दौरान पायलट के समर्थकों ने उनके पक्ष में जमकर नारेबाजी की.

केंद्र सरकार पर साधा निशाना

सचिन पायलट ने अपने धरने के बाद महंगाई को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा की पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान पर हैं. रसोई गैस की कीमतें आम आदमी को प्रभावित कर रही हैं. आज कांग्रेस के प्रत्येक कार्यकर्ता ने केंद्र की आंखें खोलने का काम किया है. पायलट ने कहा कि टैक्स बढ़ रहा है. यह सरकार की जेब में जा रहा है. यह आम आदमी की जेब पर डाका है. उन्होंने इस प्रदर्शन को सांकेतिक बताया. लेकिन यह भी कहा की हमारा दबाव कामयाब रहेगा और केंद्र को दाम कम करने पड़ेंगे.
पायलट के समर्थन में जोरदार नारेबाजी

इस प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने महंगाई को लेकर तो नारेबाजी की ही लेकिन साथ ही पायलट को न्याय दिलाने और आलाकमान का ध्यान उनकी ओर खींचने का प्रयास भी किया. उल्लेखनीय है कि राजस्थान में इन दिनों एक बार फिर से सियासी संकट संकेत मिल रहे हैं. पिछले दिनों विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक हेमाराम चौधरी ने भी आज पायलट से मुलाकात थी. वहीं गुरुवार को पायलट खेमे के आठ विधायक भी उनसे मिले थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज