• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • गहलोत के सारथी बने 'पायलट': क्या कांग्रेस की यह नई सुबह उपचुनाव में दिखायेगी अपना जलवा?

गहलोत के सारथी बने 'पायलट': क्या कांग्रेस की यह नई सुबह उपचुनाव में दिखायेगी अपना जलवा?

वल्लभनगर में कार की ड्राइविंग सीट पर बैठे 
सचिन पायलट. उनके बगल में बैठे हैं सीएम अशोक गहलोत.

वल्लभनगर में कार की ड्राइविंग सीट पर बैठे सचिन पायलट. उनके बगल में बैठे हैं सीएम अशोक गहलोत.

Sachin pilot became charioteer of Ashok Gehlot: राजस्थान कांग्रेस की सियासत के लिये आज की सुबह बेहद खुशनुमा रही. सीएम अशोक गहलोत और उनके प्रतिद्वंदी माने जाने वाले सचिन पायलट आज न केवल एक साथ हेलिकॉप्टर से मेवाड़ गये बल्कि वल्लभनगर में पायलट गहलोत के सारथी भी बने.

  • Share this:

    जयपुर. राजस्थान कांग्रेस (Rajasthan Congress) के लिये बड़े दिनों आज जैसी सुबह आई है. आज सुबह पहले सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और उनके प्रतिद्वंदी माने जाने वाले पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने एक साथ जयपुर से मेवाड़ के लिये एक ही हेलिकॉप्टर से मेवाड़ के लिये राजनीतिक उड़ान भरी. उसके बाद दौरे के पहले पड़ाव वल्लभनगर में हैलीपेड से सभास्थल तक पायलट गहलोत के सारथी भी बने. एकजुटता की इस कार का स्टेयरिंग पायलट ने थामा. गहलोत आगे उनकी बगल में बैठे. पीछे की सीट पर पार्टी के राजस्थान प्रभारी अजय माकन और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा बैठे.

    राजस्थान में आगामी 30 अक्टूबर को दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले कांग्रेस में दिखायी दे रही यह जुगलबंदी विपक्षी बीजेपी को भले ही थोड़ी चुभ रही हो लेकिन कांग्रेस के कई नेता इसे सुखद संकेत मानकर उपचुनाव में जीत के सपने देखने लगे हैं. सीएम अशोक गहलोत करीब छह महीने बाद राजधानी जयुपर से आज पहली बार ही बाहर दौरे पर निकले हैं. पहले कोरोना और बाद एंजियोप्लास्टी कराने के बाद स्वास्थ्यगत कारणों से सीएम गहलोत दौरे करने से परहेज कर रहे थे.

    बदले-बदले से पायलट नजर आते हैं! गहलोत और सचिन ने एक साथ भरी मेवाड़ के लिये उड़ान, सामने आयी सियासी तस्वीर

    हाल ही में गहलोत बनाम पायलट विवाद जोरशोर से उठने लगा था
    इस बीच पिछले दिनों पंजाब में बिगड़े कांग्रेस के सियासी हालात के बाद राजस्थान में भी एक बार फिर से करीब डेढ़ साल से चल रहा गहलोत बनाम पायलट विवाद जोरशोर से उठने लगा. पंजाब में हुये बदलाव से पायलट खेमा थोड़ा उत्साहित नजर आने लगा. पंजाब को देखकर उसे भी उम्मीद एक किरण नजर आने लगी. इस बीच ने पायलट के राहुल गांधी से दिल्ली में हुई मुलाकातों ने राजस्थान का सियासी पारा भी फिर चढ़ा दिया.

    बीकानेर में कांग्रेस नेता मेघ सिंह पर जानलेवा हमला, सरेराह बेरहमी से बरसाई लाठियां, पैर में 10 फ्रैक्चर

    तंज का जवाब तंज से दिया गया
    दोनों तरफ से इशारों ही इशारों में सियासी तंज कसे जाने लगे. तंज का जवाब तंज से दिया गया. इससे बीजेपी को थोड़ा सुकून जरुर मिला, लेकिन आज की तस्वीरों से वह फिर बैचेन होने लगी है. बीजेपी को उम्मीद थी कि खेमों में बंटी सत्ताधारी पार्टी में चल रहे तनाव का उसे उपचुनाव में कुछ फायदा मिलेगा. लेकिन आज की सुबह जिस तरह से कांग्रेस के लिये खुशनुमा रही है उससे गहलोत-पायलट विवाद को निपटारे में लगे कांग्रेस के बड़े नेताओं को कुछ समय के लिये ही भले लेकिन राहत जरुर मिली है. अब देखना यह है कि क्या यह खुशनुमा माहौल चुनाव तक ही रहेगा या फिर सफर आगे भी जारी रहेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज