होम /न्यूज /राजस्थान /पायलट गुट के मंत्री बोले- गहलोत राजस्थान के सुप्रीम, उन्हें CM रखा जाता है तो भी हम उनके साथ हैं

पायलट गुट के मंत्री बोले- गहलोत राजस्थान के सुप्रीम, उन्हें CM रखा जाता है तो भी हम उनके साथ हैं

विश्वेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रति आस्था जताते हुए कहा कि वे हम सबसे ज्यादा विद्वान हैं.

विश्वेन्द्र सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रति आस्था जताते हुए कहा कि वे हम सबसे ज्यादा विद्वान हैं.

Rajasthan political crisis update: राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के लिए हो रहे राजनीतिक दंगल के बीच सचिन पायलट (Sachin Pi ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पायलट खेमे के मंत्री मुरारीलाल मीणा और विश्वेन्द्र सिंह ने दिया बयान
गहलोत कैम्प के मंत्री परसादीलाल मीणा ने पायलट पर लगाए आरोप
पायलट गुट ने राजस्थान में हुए राजनीतिक दंगल के 3 दिन बाद चुप्पी तोड़ी है

जयपुर. राजस्थान में सीएम की कुर्सी के लिए अशोक गहलोत बनाम सचिन पायलट (Ashok Gehlot vs Sachin Pilot) के बीच चल रही रस्साकस्सी का आज संभवतया कोई परिणाम आ सकता है. इस बीच पायलट गुट ने आखिकार 3 दिन बाद इस मसले पर चुप्पी तोड़ी है. पायलट कैम्प के मंत्री मुरारीलाल मीणा (Murarilal Meena) ने कहा कि जिस तरह के शब्दों का प्रयोग वरिष्ठ मंत्री और नेता कर रहे हैं वह उन्हें शोभा नहीं देता है. मीणा बोले हम मानेसर गए तो हम पर कार्रवाई की गई थी. मीणा ने सवाल उठाया कि अब जब गहलोत गुट के विधायकों ने बगावत की है तो इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है?

मीणा ने कहा कि लेकिन फिर भी हम पूरी तरह से आलाकमान के साथ हैं. उन्होंने कहा कि आलाकमान अगर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाता है तो भी हम उस फैसले के साथ हैं. अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद पर कंटिन्यू किया जाता हैं तो भी हम उनके साथ हैं. बकौल मीणा अगर किसी तीसरे को मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो भी हम आलाकमान के फैसले के साथ हैं.

पायलट खेमे के मंत्री विश्वेन्द्र सिंह बोले गहलोत यहां के सुप्रीम
पायलट खेमे के दूसरे मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने भी बुधवार को चुप्पी तोड़ते हुए बड़ा बयान दिया कि अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री रहने का 14 साल का अनुभव है. वे अपना कार्यकाल पूरा करेंगे. सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रति आस्था जताते हुए कहा कि वे हम सबसे ज्यादा विद्वान हैं. वे सभी बातों को समझते हैं और उन्हें पता है कि पूरे हालात को किस तरह से संभालना है. उन्होंने कहा कि पार्टी हाईकमान सुप्रीम है. लेकिन यहां के सुप्रीम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हैं. वे हर बात का जवाब देने के लिए सक्षम हैं.

गहलोत खेमे के मंत्री ने लगाए पायलट पर आरोप
दूसरी तरफ गहलोत खेमे के कैबिनेट मंत्री परसादीलाल मीणा ने पायलट को सीएम स्वीकार करने की बजाय चुनाव में जाने की इच्छा जताई है. मंत्री परसादीलाल मीणा ने कहा कि एक साल पहले चुनाव लड़ना मंजूर लेकिन बीजेपी गोद मे बैठने वाले पायलट को सीएम के रूप में स्वीकार नहीं कर सकते. उन्होंने कहा ऐसे व्यक्ति को सीएम बनाने से अच्छा होगा कि हम इस्तीफा देकर एक साल पहले चुनाव लड़ने को तैयार हो जाएं. मीणा बोले अशोक गहलोत के अलावा कोई भी सीएम पद की दौड़ में नहीं है. बकौल परसादीलाल मीणा 19 अक्टूबर को अगर गहलोत राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते हैं तो फिर आलाकमान 102 विधायकों में से सीएम तय करें.

(इनपुट- आशीष शर्मा एवं दीपक पुरी)

Tags: Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Jaipur news, Rajasthan Congress, Rajasthan news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें