सचिन पायलट का केन्द्र पर वार, बोले-7 साल के कार्यकाल पर माफी मांगे सरकार, लगाए गंभीर आरोप

पायलट ने कहा आज जिन गरीबों और जरुरतमंदों को सहायता की जरूरत है केंद्र सरकार उन्हें मदद नहीं दे पा रही है.

पायलट ने कहा आज जिन गरीबों और जरुरतमंदों को सहायता की जरूरत है केंद्र सरकार उन्हें मदद नहीं दे पा रही है.

Sachin Pilot News: राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने केन्द्र सरकार पर प्रहार करते हुए मांग की है कि वह अपने सात साल के कार्यकाल पर माफी मांगे. पायलट का आरोप है कि केंद्र सरकार कोरोना महामारी से निपटने में पूरी तरह विफल रही है.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने केंद्र सरकार से सात साल का कार्यकाल पूरा होने पर उसकी नाकामियों को गिनाते हुए माफी मांगने की मांग की है. पायलट ने कहा है कि “मौजूदा हालात को लेकर केंद्र सरकार (Central government) को माफी मांगनी चाहिए. जो हालात आज देश में हैं, वो किसी भी सभ्य समाज के लिए असंतोष पैदा करने वाले हैं.”

पायलट ने कहा- “आज कोविड महामारी (Corona Epidemic) के दौर में जब चारों तरफ लाशों के ढेर लग रहे हैं. केंद्र की बीजेपी सरकार इस आपदा से निपटने में विफल साबित हुई हैं. वैक्सीन, दवा, ऑक्सीजन और अस्पतालों में बैड समेत तमाम जरूरी चीजें और संसाधन पर्याप्त नही हैं.” पायलट ने केंद्र सरकार की ओर से पूर्व में की गई 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा का जिक्र करते हुए कहा कि आज तक उसका लाभ किसे मिला ? इसकी जानकारी भी किसी को नहीं मिली है. पायलट ने कहा कि “सरकार वो होती हैं जो जनता की सेवा करे. आपदा कभी भी आ सकती हैं, लेकिन आपदा का रेस्पॉस क्या है. कितने साहस और आत्मीयता से हम उस संकट का सामना करते हैं. इस कसौटी पर ये सरकार फेल साबित हुई.

Youtube Video

पेट्रोल 100 रुपये पार, अर्थव्यवस्था चरमराई
सचिन पायलट ने कहा कि आज पेट्रोल और डीजल के दाम 100 रुपये से ज्यादा हो गए हैं. कारखाने, उद्योग और दुकान सब बंद हैं. अर्थव्यवस्था चरमरा गई है. नौजवानों को रोजगार नहीं मिल रहा है. गरीब आज इस कगार पर पहुंच चुका हैं कि उनको दो जून की रोटी नसीब नही हो रही हैं. आज जिन गरीबों और जरुरतमंदों को सहायता की जरूरत है, केंद्र सरकार उन्हें मदद नहीं दे पा रही है. केंद्र सरकार वर्षगांठ के मौके पर गांवों में जाने की बातें कर रही हैं लेकिन उसमें काफी देर हो चुकी है. आज का वक्त तो माफी मांगने का है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज