अपना शहर चुनें

States

प्रदेश के सपूत रणजीत का कमाल, इंगलैंड में पाकिस्तान समर्थित उम्मीदवार को हराकर फहराया जीत का परचम

रणजीत सिंह राठौड़। फाइल फोटो।
रणजीत सिंह राठौड़। फाइल फोटो।

प्रदेश के सपूत रणजीत सिंह राठौड़ ने लगातार चौथी बार विदेशी धरती पर अपनी जीत का परचम फहराया है. इंगलैंड की ब्रूनेल यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल स्टूडेंट चेयर का चुनाव जीतकर उन्होंने देश का नाम रोशन किया है.

  • Share this:
प्रदेश के सपूत रणजीत सिंह राठौड़ ने लगातार चौथी बार विदेशी धरती पर अपनी जीत का परचम फहराया है. इंगलैंड की ब्रूनेल यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल स्टूडेंट चेयर का चुनाव जीतकर उन्होंने देश का नाम रोशन किया है. रणजीत ने शुक्रवार को पाकिस्तान समर्थित साहिल हमीद को इस चुनाव में भारी मतों से हराकर ये जीत हासिल की है.

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस में तेज हुई उम्मीदवार चयन की कवायद, CM निवास पर हुआ मंथन

उन्होंने यहां धार्मिक और क्षेत्रीय विचारों को दकिनार कर स्टूडेंट्स के बीच मानवता, पर्यावरण संरक्षण और 'वसुधैव कुटुम्बकम' का संदेश देते हुए ये चुनाव जीता है. ब्रूनेल यूनिवर्सिटी में विश्वभर के एक सौ पचास से ज्यादा देशों के करीब 15000 विद्यार्थी पढ़ाई करते हैं. रणजीत लगातार चार साल से इन चुनावों में विद्यार्थियों का दिल जीतने में कामयाब रहे हैं.



लोकसभा चुनाव: वंचित मतदाता आज और कल जुड़वा सकते हैं मतदाता सूची में नाम
सीएम गहलोत का एक और मास्टर स्ट्रोक, सरकार करेगी गोरक्षा सम्मेलन

जीत का जश्न मनाते रणजीत और उनके समर्थक। फाइल फोटो।


वीरांगना गट्टूदेवी की दास्तां: पति की शहादत के 57 साल बाद तक भरती रहीं मांग में सिंदूर

जीत को विद्यार्थियों, देश और माता-पिता को किया समर्पित
रणजीत ने पाकिस्तान समर्थित प्रत्याशी साहिल हमीद की धार्मिक और क्षेत्रीय राजनीति को दरकिनार कराते हुए यह विजय हासिल की है. रणजीत के पिता दिलीप सिंह राठौड़ और उनके परिवार ने बेटे की इस सफलता पर जश्न मनाते हुए खुशी जताई. रणजीत ने इस जीत को विद्यार्थियों, देश और माता-पिता को समर्पित किया है.

धनूरी के 18 बेटों ने दी है देश के लिए शहादत, सैनिकों की खान है झुंझुनूं का यह गांव

कैदी शकरउल्ला का शव वाघा बॉर्डर भेजा, आज सौंपा जाएगा पाकिस्तान को

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज