Home /News /rajasthan /

savagery owner did misdemeanor with innocent child labor cut off soles of feet heart wrenching shocking crime in jaipur rjsr

मासूम के साथ हैवानियत, पत्नी के सामने किया कुकर्म, चाकू से काटे तलवे; रेंगते हुए पहुंचा सड़क पर

मासूम को दरिंदे मालिक से बचाने वाले ये लोग उसके लिये फरिश्ते बनकर आये हैं.

मासूम को दरिंदे मालिक से बचाने वाले ये लोग उसके लिये फरिश्ते बनकर आये हैं.

Misdeeds with child labor in Jaipur: जयपुर में एक मासूम के साथ दरिंदगी (Inhumanity) की ऐसी दास्तां सामने आई है कि जिसे सुनकर रूह कांप जाएगी. बिहार के 12 साल के एक मासूम बच्चे को चूड़ी कारखाने में बंधक बनाकर रखा गया. कारखाने के मालिक मोहम्मद रियाज (Mohammad Riaz) ने पत्नी के सामने उसके साथ कुकर्म किया. अमानवीयता की हदें पार करते हुये उसके पैरों के तलवे काट दिये गये ताकि वह भाग नहीं सके. बच्चे से घंटों काम करवाया जाता. जब उसे नींद आने लगती तो आंख में मिर्ची पाउडर (Chili Powder) डाल दिया जाता था. रोजाना घर में लाउड स्पीकर बजाकर बच्चे के साथ बेरहमी से मारपीट करता. उसे उठाकर फेंकता. पिछले सात महीनों में मासूम बच्चे के शरीर का ऐसा कोई हिस्सा नहीं छोड़ा जहां रियाज ने उसे गहरे जख्म नहीं दिए हों.

अधिक पढ़ें ...

विष्णु शर्मा.

जयपुर. राजधानी जयपुर (Jaipur) में चूड़ी बनाने के एक कारखाने के मालिक मोहम्मद रियाज (Mohammad Riaz) ने मानवीयता की सभी हदें पार कर दी. उसने 12 साल के एक मासूम बच्चे के साथ ऐसी अमानवीयता (Inhumanity) बरती की उसे सुनकर किसी भी इंसान की रूह कांप जाये. कारखाना संचालक ने मासूम बाल मजदूर से घंटों तक चूड़ी बनाने का काम करवाता. मासूम को नींद आने पर वह उनकी आंखों में मिर्च पाउडर (Chili powder) फेंक देता. उसने मासूम के साथ कुकर्म (Misdeeds) भी किया. वह उसे कभी कमरे से बाहर आने नहीं देता. रोजाना घर में लाउड स्पीकर बजाकर बच्चे के साथ बेरहमी से मारपीट करता. उसे उठाकर फेंकता.

हैवानियत की हदें तब पार हो गई जबकि कारखाना संचालक मोहम्मद रियाज ने बच्चे के पैरों के तलवों पर चाकू से गहरे जख्म कर दिए ताकि वह भाग नहीं सके. गर्म चिमटे से उसके पैरों और शरीर के अन्य हिस्सों को दाग दिया. पिछले सात महीनों में मासूम बच्चे के शरीर का ऐसा कोई हिस्सा नहीं छोड़ा जहां रियाज ने उसे गहरे जख्म नहीं दिए हों.

आरोपी हुआ फरार, पुलिस ने उसकी पत्नी को पकड़ा
आखिरकार एक दिन यह मासूम मौका पाकर मकान की तीसरी मंजिल पर बने कारखाने की छत से पड़ोसी की छत पर चला गया. वहां पड़ोसियों को अपने साथ हुई दरिंदगी की पीड़ा बताई. तब चाइल्ड हेल्प लाइन की टीम ने बच्चे को छुड़ाया और शास्त्री नगर थाने में इसकी सूचना दी. पुलिस की भनक पाकर रियाज फरार हो गया. इसके बाद पुलिस ने कारखाना संचालक की पत्नी रुही परवीन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. फरार कारखाना संचालक मोहम्मद रियाज की तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं.

कई घंटों तक भूखा रखता था बच्चे को
शास्त्री नगर थानाप्रभारी दिलीप सिंह शेखावत ने बताया कि करीब 6 महीने पहले मोहम्मद रियाज अपने गांव में ही रहने वाले 12 साल के एक बालक को अच्छी पढ़ाई और काम के बदले पैसा देने का लालच देकर जयपुर लाया था. रियाज और पीड़ित बच्चा बिहार में दरभंगा जिले में बिलासपुर के रहने वाले हैं. जयपुर में लाने के बाद उसने बच्चे को कारखाने में चूड़ी बनाने के काम में लगा दिया. वह उससे कभी सुबह 4 बजे तो कभी सुबह 7 बजे से लेकर रात 12 बजे तक मजदूरी करवाता. उसे कई घंटों तक भूखा रखता.

नया सवेरा चाइल्ड होम जयपुर में रखा गया है बच्चे को
बहरहाल पीड़ित बच्चा अब नया सवेरा चाइल्ड होम जयपुर में है. चाइल्ड हेल्प लाइन की टीमें उसकी काउंसलिंग कर रही हैं. उसके परिवार को भी सूचना देकर जयपुर बुलाया गया है ताकि बच्चे को उनको सौंपा जा सके. वहीं दूसरी तरफ शास्त्री नगर थाना पुलिस ने फरार मोहम्मद रियाज और जेल में बंद उसकी पत्नी रुही परवीन के खिलाफ चाइल्ड ट्रेफिकिंग, चाइल्ड लेबर, जुवेनाइल जस्टिस एक्ट, पोक्सो और आईपीसी की 16 से ज्यादा धाराएं लगाकर गंभीर आपराधिक मुकदमा दर्ज किया है ताकि उन्हें सख्त सजा दिलाई जा सके.

Tags: Crime News, Jaipur news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर