SHO आत्महत्या मामला: वसुंधरा राजे ने CM गहलोत को लिखा पत्र, की यह मांग
Jaipur News in Hindi

SHO आत्महत्या मामला: वसुंधरा राजे ने CM गहलोत को लिखा पत्र, की यह मांग
एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या के मामले के बाद हर तरफ से सीबीआई जांच की मांग उठ रही है.

एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई (SHO Vishnu Dutt Vishnoi) की आत्महत्या के मामले में विश्नोई समाज के अलावा दूसरे समाज के प्रतिनिधि भी जांच की मांग कर रहे हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जयपुर. राजगढ़ एसएचओ विष्णु दत्त विश्नोई (SHO Vishnu Dutt Vishnoi) की आत्महत्या के मामले में अब पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से इस मामले की जांच सीबीआई से कराने का आग्रह किया है. वसुंधरा राजे ने सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को एक पत्र लिखकर इस मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है. वसुंधरा राजे ने अपने पत्र में कहा कि राजस्थान पुलिस के मेहनती और ईमानदार थानेदार विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या के प्रकरण से सभी दुखी हैं. उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के संरक्षक और विधायक कुलदीप बिश्नोई, मंत्री सुखराम विश्नोई और अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के अध्यक्ष हीरालाल भवाल समेत  कई गणमान्य लोगों ने भी इस मामले में आपसे मुलाकात करके सीबीआई जांच कराने की मांग की है.

दरअसल, एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या के मामले के बाद हर तरफ से सीबीआई जांच की मांग उठ रही है. विश्नोई समाज के अलावा दूसरे समाज के प्रतिनिधि भी जांच की मांग कर रहे हैं. इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इस मामले की जांच स्वतंत्र एजेंसी से कराने की सैद्धांतिक सहमति दे दी है.

आत्महत्या करने से पहले विष्णुदत्त ने 2 सुसाइड नोट लिखे थे
बता दें कि बीते मई महीने में राजगढ़ थानाधिकारी पुलिस निरीक्षक विष्णुदत्त विश्नोई ने तनाव में आकर आत्महत्या (Suicide ) की थी. आत्महत्या करने से पहले विष्णुदत्त ने 2 सुसाइड नोट लिखे थे. पुलिस ने उसके दोनों सुसाइड नोट्स को सार्वजनिक कर दिया था. विश्नोई ने एक सुसाइड नोट अपने माता-पिता के नाम लिखा था.  वहीं दूसरा जिला पुलिस अधीक्षक के नाम लिखा. दोनों ही सुसाइड नोट में विश्नोई अपनी मौत के बाद कई सवाल छोड़ गए हैं. दोनों ही सुसाइड नोट में विष्णुदत्त ने कई भावानात्मक बातें लिखी थीं. एसपी के नाम लिखे सुसाइड नोट में विष्णुदत्त ने लिखा कि ''मैं बुजदिल नहीं था बस तनाव (Tension) नहीं झेल पाया''. सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने घटना पर दुख जताया था.



माता-पिता को लिख नोट में विष्णुदत्त ने यह कहा


परम आदरणीय मां पापा मैं आपका गुनहगार हूं. इस उम्र में दुख देकर जा रहा हूं. उमेश मन्कू और लक्की मेरे पास कोई शब्द नहीं है. आपको बीच मझधार में छोड़ कर जा रहा हूं. पता है यह कायरों का काम है, बहुत कोशिश की खुद को संभालने की पर शायद गुरु महाराज ने इतनी सांसें दी थी. उमेश दोनों बच्चों के लिए मेरा सपना पूरा करना. संदीप भाई पूरे परिवार को संभाल लेना प्लीज, मैं खुद गुनहगार हूं आप सबका. इस सुसाइड नोट के सामने आने के बाद पूरे प्रदेश में राजनीतिक घमासान शुरू हो गया है.

ये भी पढ़ें- 

निराश्रितों की मदद को CM ने खोला खजाना, राशन के साथ 1000 रुपये भी देगी सरकार

इस नियम के तहत मस्जिदों में पढ़नी होगी नमाज, धर्मगुरु ने जारी की एडवाइजरी
First published: June 2, 2020, 6:15 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading