COVID-19: अब जयपुर के SMS अस्पताल में नहीं होगा कोरोना मरीजों का इलाज, RUHS में शिफ्ट होंगी सेवाएं
Jaipur News in Hindi

COVID-19: अब जयपुर के SMS अस्पताल में नहीं होगा कोरोना मरीजों का इलाज, RUHS में शिफ्ट होंगी सेवाएं
अन्य बीमारियों के मरीजों के इलाज को देखते हुए अब इस अस्पताल को कोविड के इलाज से मुक्त किया जा रहा है.

राजधानी जयपुर (Jaipur) में स्थित प्रदेश के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) को अब कोरोना फ्री (Corona free) किया जाएगा. एसएमएस अस्पताल में अब कोरोना मरीजों का इलाज नहीं होगा.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जयपुर. राजधानी जयपुर (Jaipur) में स्थित प्रदेश के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) को अब कोरोना फ्री (Corona free) किया जाएगा. एसएमएस अस्पताल में अब कोरोना मरीजों का इलाज नहीं होगा. अब कोविड मरीजों का इलाज जयपुर में एसएमएस के बजाय राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साईसेंस (RUHS) में होगा. एसएमएस से कोविड की सेवाएं आज से आरयूएचएस में शिफ्ट की जाएगी. एसएमएस में चल रही कोविड के मरीजों की ओपीडी भी शिफ्ट की जा रही है.

एसएमएस ने कोरोना के इलाज के कई मॉडल दिए हैं
दरअसल एसएमएस राजस्थान का सबसे बड़ा अस्पताल है. अन्य बीमारियों के मरीजों के इलाज को देखते हुए अब इस अस्पताल को कोविड के इलाज से मुक्त किया गया जा रहा है. एसएमएस अस्पताल ने कोरोना के इलाज के देश को कई मॉडल दिए हैं. शुरुआत में हाईड्रोक्लोरोक्वीन समेत तीन कोम्बिनेशन ड्रग्स से कोरोना के इलाज की शुरुआत देश में सबसे पहले एसएमएस अस्पताल ने ही की थी. एसएमएस अस्पताल के कोरोना विशेषज्ञ डॉक्टर आरयूएचएस में भी सेवा देंगे.

जयपुरिया अस्पताल को भी नोन कोविड बनाया जा चुका है



कोरोना संक्रमण के शुरुआती दौर में इसके मरीजों के लिए सवाई मानसिंह अस्पताल में ओपीडी, आईपीडी और इमरजेंसी चिकित्सा सुविधाएं शुरू की गई थी. अब इन्हें सोमवार से आरयूएचएस में शिफ्ट किया जा रहा है. वहीं चरक भवन में चलने वाले कोरोना ओपीडी को भी आगामी दिनों में फार्मेसी कॉलेज में शिफ्ट कर दिया जाएगा और यहां पहले की तरह अन्य चिकित्सा सुविधाएं बहाल कर दी जाएगी. इससे पहले शहर के जयपुरिया अस्पताल को भी नोन कोविड बनाया जा चुका है. जबकि सांगानेरी गेट स्थित महिला चिकित्सालय में कोविड से जुड़े मरीजों और संक्रमितों का इलाज किया जा सकेगा.



जयपुर प्रदेश में कारोनो का सबसे बड़ा हॉट-स्पॉट है
उल्लेखनीय है कि राजधानी जयपुर प्रदेश में कारोनो का सबसे बड़ा हॉट-स्पॉट है. यहां अब जयपुर में 2023 कोरोना संक्रमित सामने आ चुके हैं. जयपुर शहर के परकोटे में स्थित रामगंज कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है. प्रदेश में कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें भी जयपुर में ही हुई हैं.

10 दिनों के अंदर तीसरे पुलिसकर्मी ने किया सुसाइड, बीकानेर में SHO की मौत

बड़ी खुशखबरी! फिर से पटरी पर दौड़ने लगीं पैसेंजर ट्रेनें, देखें शेड्यूल
First published: June 1, 2020, 12:52 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading