होम /न्यूज /राजस्थान /

राजस्थान में खेलों का महाकुंभ: 30 लाख खिलाड़ी उतरेंगे मैदान में, 29 अगस्त से शुरू होंगे मुकाबले

राजस्थान में खेलों का महाकुंभ: 30 लाख खिलाड़ी उतरेंगे मैदान में, 29 अगस्त से शुरू होंगे मुकाबले

राजस्थान खेल परिषद की अध्यक्ष कृष्णा पूनिया का कहना है कि पहली बार होने जा रहे ऐतिहासिक ग्रामीण खेलों के लिए तैयारियां अब अंतिम चरण में चल रही हैं.

राजस्थान खेल परिषद की अध्यक्ष कृष्णा पूनिया का कहना है कि पहली बार होने जा रहे ऐतिहासिक ग्रामीण खेलों के लिए तैयारियां अब अंतिम चरण में चल रही हैं.

Sports Mahakumbh in Rajasthan: राजस्थान में आगामी 29 अगस्त से खेलों का अब तक का सबसे बड़ा आयोजन शुरू होगा. राजीव गांधी ग्रामीण खेल (Rajiv Gandhi Rural Games) के नाम से आयोजित हो रहे इस महाकुंभ में राजस्थान के 30 लाख खिलाड़ी शामिल होंगे. इस प्रतियोगिता के जरिये राजस्थान में खेलों का माहौल बनाने का प्रयास किया जायेगा.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

खेल महाकुंभ में चार स्तरों पर होंगी खेल प्रतियोगितायें
राजस्थान में खेलों का अब तक का सबसे बड़ा आयोजन

जयपुर. राजस्थान में करीब 30 लाख खिलाड़ी राजीव गांधी ग्रामीण खेलों (Rajiv Gandhi Rural Games) में हिस्सा लेंगे. राजस्थान में आगामी 29 अगस्त से शुरू होने जा रहे खेलों के इस महाकुंभ (Sports Mahakumbh) के लिए रजिस्ट्रेशन पूरे हो गए हैं. इसके लिए करीब चालीस करोड़ रुपये का बजट तय किया गया है. इसमें से अब बजट शिक्षा विभाग को भी दिया जायेगा. इन खेलों के लिए तैयारियां अब अपने अंतिम चरण में हैं. प्रतियोगिता में पुरूष वर्ग के करीब बीस लाख एवं महिला वर्ग में दस लाख खिलाड़ी शामिल होंगी.

राजस्थान में आखिरकार लंबे इंतजार के बाद अब राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक होने जा रहा है. ग्राम स्तर पर खेल प्रतिभाओं की खोज के मकसद के लिए राज्य खेलों की तर्ज पर ग्राम पंचायत, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर इन खेलों का आयोजन किया जाएगा. 29 अगस्त से ग्राम पंचायत स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं शुरू होगी. ये चार दिन तक चलेंगी. इसके बाद चार दिनों के लिए 12 सितंबर से ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं होंगी.

सर्वाधिक 11 लाख आवेदन कबड्डी में आए हैं

जिला स्तर पर 22 सितंबर से 3 दिन तक प्रतियोगितायें होंगी. उसके बाद राज्य स्तर पर प्रतियोगितायें होंगी. ये भी चार दिन तक चलेंगी. ये 2 अक्टूबर से शुरू होंगी. इस आयोजन में छः खेलों यथा कबड्डी, शूटिंग बॉल, टेनिस बॉल क्रिकेट, वॉलीबॉल, हॉकी और खो-खोको शामिल किया गया है. इसमें सर्वाधिक 11 लाख आवेदन कबड्डी में आए हैं.

आयोजन कमेटियों का गठन पूरा हुआ

खेलों के इस महाकुंभ का शुभारंभ 29 अगस्त को होगा. इसके लिए तैयारियां अब अंतिम चरण में की जा रही हैं. खेल परिषद की विभिन्न बैठकों में तैयारियों का दौर लगातार जारी हैं. खेल परिषद अध्यक्ष कृष्णा पूनिया का कहना है कि पहली बार ऐतिहासिक ग्रामीण खेलों के लिए परिषद की तैयारियां अब अंतिम चरण में चल रही हैं. 11 हजार 341 पंचायत और 352 ब्लॉक स्तर पर होने वाले इन आयोजनों के लिए ग्राम स्तर से लेकर ब्लॉक स्तर पर आयोजन कमेटियों का गठन किया जा चुका है.

सरपंच और एसडीएम होंगे संयोजक

पंचायत स्तर पर सरपंच इस कमेटी के संयोजक होंगे. जबकि ब्लॉक स्तर पर उपखंड अधिकारी कमेटी के संयोजक होंगे. दस करोड़ 38 लाख रुपये ग्राम पंचायतों के लिए और ब्लॉक स्तर के लिए सात करोड़ रुपये का बजट तय किया गया है. इसमें प्रतियोगिता के आयोजन से लेकर ब्लॉक स्तर पर खिलाड़ियों के भोजन की व्यवस्था की जिम्मेदारी भी होगी.

सभी विभागों का सहयोग लिया जा रहा है

पंचायत स्तर पर खेलों का एक सैट और ब्लॉक स्तर पर खेलों के तीन सैट मिलेंगे. क्रीड़ा परिषद अध्यक्ष का कहना है कि इन खेलों के लिए बजट की राशि खेल विभाग शिक्षा विभाग को मुहैया कराएगा ताकि ग्राम और ब्लॉक स्तर पर प्रतियोगिताओं का आयोजन हो सके. इसके लिए सभी विभागों का सहयोग पूरी तरह लिया जा रहा है.

राजस्थान में खेलों का बेहतर माहौल तैयार करने की कोशिश

बहरहाल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की इस बजट घोषणा पर खेल विभाग से लेकर परिषद ने अपना पूरा फोकस कर रखा है. राज्य में अपनी तरह के सबसे बड़े खेल आयोजन में कोई कोर कसर नहीं रहे इसे लेकर हर तरह की कवायद की जा रही है. इस खेल आयोजन से प्रदेश में खेलों का बेहतर माहौल तैयार करने की कोशिश है. हालांकि इसके सर्टिफिकेट के जरिये खिलाड़ियों को फिलहाल कोई लाभ देने का प्रावधान नहीं किया गया है.

Tags: Ashok Gehlot Government, Jaipur news, Rajasthan news, Sports news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर